Sunday, 2 July 2017

पास्ता सॉस रेसिपी 16 june

पास्ता सॉस रेसिपी

टोमेटो पास्ता सबसे लोकप्रिय पास्ता में से एक है और इसे बनाने के लिए बेहतरीन टमाटर पास्ता सॉस की आवश्यकता होती है। यह टमाटर पास्ता सॉस घर पर आसानी से बनाया जाता है। इसे बनाने के लिए सिर्फ टमाटर, प्याज, लहसुन, ओलिव ऑइल (जैतून का तेल) और कुछ मसाले ही चाहिए। इस रेसिपी का पालन करें और घर पर बच्चों के लिए स्वादिष्ट पास्ता बनाइये।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 25 मिनट
कितने लोगो के लिए: 1 कप
सामग्री:
6 बड़े पके हुए टमाटर (लगभग 2 कप टमाटर की प्यूरी)
1/4 कप बारीक कटा हुआ प्याज
1 लहसुन की कली, बारीक कटी हुई
गाजर का एक छोटा सा टुकड़ा, वैकल्पिक
1/4 टीस्पून रेड चिली फलैक्स
1/4 टीस्पून सूखा बेसिल और ओरेगानो (इटालियन मसाला)
1 टीस्पून चीनी
1/8 टीस्पून काली मिर्च का पाउडर
2 टेबलस्पून ओलिव ऑइल (जैतून का तेल)
नमक स्वाद अनुसार
विधि:-
इस स्टेप बाय स्टेप रेसिपी का पालन करके टमाटर को ब्लांच कर लें और टमाटर की प्यूरी बना लें। अगर आप चाहें, तो टमाटर की प्यूरी बनाने से पहले ब्लांच किये हुए टमाटर में से बीज निकाल सकते हैं।
एक सॉस पैन या गहरी कड़ाही में मध्यम आंच पर 2-टेबलस्पून ओलिव ऑइल गर्म करें। यदि संभव हो तो, गहरी सॉस पैन का उपयोग करें क्योंकि बाद में सॉस को पकाते वख्त छींटे उड़ेंगे। कटा हुआ प्याज और कटा हुआ लहसुन डालें। प्याज हल्का गुलाबी रंग का (या पारदर्शी) हो जाये तब तक भूने।
टमाटर की प्यूरी और गाजर का टुकड़ा डालें। गाजर खट्टे स्वाद को कम करने के लिए डाला गया है।
अच्छे से मिलाएं और 5-7 मिनट के लिए मध्यम आंच पर पकाईये। चिपक ने से रोकने के लिए बीच में नियमित अंतराल पर चमचे से चलाते रहे। रेड चिली फलैक्स, बेसिल और ओरेगानो डालें।
अच्छे से मिला ले और सॉस गाढ़ा हो जाये तब तक पकाइये, इसमें लगभग 8-10 मिनट का समय लगेगा। काली मिर्च का पाउडर, चीनी और नमक डालें।
अच्छी तरह से मिला ले और 1-2 मिनट के लिए पकाइये। सॉस में से गाजर का टुकड़ा निकाल दे।
गैस बंद करें। पास्ता के लिए टमाटर का सॉस तैयार है।
सुझाव और विविधता:
अपने स्वाद के अनुसार सूखे बेसिल और ओरेगानो की मात्रा कम या ज्यादा करें।
1 कप उबले हुए पास्ता के लिए 4 टेबलस्पून (¼ कप) पास्ता सॉस डालें।
आप 1 टीस्पून कटा हुआ ताजा बेसिल और 1 टीस्पून ताजा ओरेगानो सूखे बेसिल और ऑरेगैनो के बदले डाल सकते हैं।
स्वाद: हल्का तीखा, खट्टा और लहसुन और ओलिव ऑइल की सुगंध वाला
परोसने के तरीके: इस सॉस का उपयोग स्वादिष्ट पास्ता बनाने के अलावा पिज्जा बनाते वख्त कर सकते है। इसे ब्रेड स्टिक के साथ भी परोस सकते है।

सेवई उपमा रेसिपी

सेवई उपमा नाश्ते में परोसे जाने वाला एक दक्षिण भारतीय व्यंजन है जो सेमिया उपमा के नाम से भी जाना जाता है। वैसे तो सेवई से मीठी खीर बनाते हैं लेकिन आज हम सेवई का नमकीन नाश्ता बनाने जा रहे है। इसे बनाने की विधि अन्य उपमा के जैसे ही है लेकिन इसमें मुख्य सामग्री सेवई है और साथ में मिश्रि सब्जियां भी डाली गई है। अगर आपके पास नाश्ता बनाने के लिए बहुत ज्यादा समय नहीं है तो यह सेवई उपमा बनाईये क्योंकि यह झटपट से बन जाता है।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
सामग्री:
1 कप सेंवई (पतली या मोटी)
1/2 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1 टीस्पून चना दाल, वैकल्पिक
1/2 टीस्पून उड़द की दाल, वैकल्पिक
8-10 करी पत्ते
1 बड़ा प्याज, बारीक कटा हुआ
2-3 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1/2 टीस्पून कसा हुआ अदरक
4 टेबलस्पून गाजर, बारीक कटा हुआ
4 टेबलस्पून (ताजा या फ्रोजन) मटर के दाने
1 बड़ा टमाटर, बारीक कटा हुआ
1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर (वैकल्पिक)
2 टेबलस्पून बारीक़ कटा हुआ हरा धनिया
नमक स्वादानुसार
2 टेबलस्पून तेल या घी
1¾ कप + 2 टेबलस्पून पानी
विधि:-
एक कड़ाही में सेंवई को मध्यम आंच पर चमचे से लगातार चलाते हुए हल्के भूरे रंग की हो जाने तक भूने। भूनी हुई सेंवई को एक थाली में निकालें।
उसी कड़ाही में अपनी पसंद के हिसाब से तेल या घी गर्म करें। उसमे राई (सरसों के बीज) डालें; जब राई फूटने लगे तब चना दाल, उड़द की दाल और करी पत्ते डालें। दाल हल्के भूरे रंग की हो जाए तब तक भूने। कटा हुआ प्याज, कसा हुआ अदरक और कटी हुई हरी मिर्च डालें। प्याज हल्के गुलाबी रंग का हो जाये तब तक भूने।
कटा हुआ गाजर, हरी मटर के दाने, कटा हुआ टमाटर और हल्दी पाउडर डालें। उसके ऊपर नमक छिड़के और अच्छी तरह से मिलाएँ।
2-टेबलस्पून पानी डाले और सब्जियों को ढककर नरम हो जाने तक, लगभग 3-4 मिनट के लिए धीमी आंच पर पकाईये।
1¾ कप पानी डालें और उसे उबालने रखे।
जब पानी उबलने लगे तब भूनी हुई सेंवई डालें।
अच्छी तरह से मिला ले और ढक्कन से ढककर पकने दे।
जब सेवई सारा पानी अवशोषित कर लें तब तक पकने दें, इसमें लगभग 5-7 मिनट का समय लगेगा। चिपकने से रोकने के लिए बीच में कभी कभी चमचे से चलाते रहे।
गैस बंद करें और सेमिया उपमा को एक परोसने के कटोरे में निकाले। कटा हुआ हरा धनिया से सजाये और परोसें।

ब्रेड उपमा रेसिपी

ब्रेड उपमा एक बनाने में आसान, त्वरित बन जाने वाला और स्वादिष्ट दक्षिण भारतीय व्यंजन है जो सुबह के नाश्ते में परोसने के लिये एकदम सही है। इसे बनाने के लिए जो भी सामग्री चाहिए वो आसानी से रसोई घर में मिल जायेगी और इसे बनाने की विधि भी रवा उपमा के जैसी ही है। तो आईये आज हम इस रेसिपी का पालन करके ब्रेड उपमा बनाना सीखते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 15 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
सामग्री:
5 ब्रेड स्लाइस (सफेद या ब्राउन)
1/4 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1/4 टीस्पून जीरा
1/4 टीस्पून उड़द की दाल
1 चुटकी हींग
5-7 करी पत्ते
1 बड़ा प्याज, बारीक कटा हुआ (लगभग 1/2 कप)
2 मध्यम टमाटर, बारीक कटे हुए (लगभग 3/4 कप)
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1 टीस्पून मूंगफली के दाने, वैकल्पिक
4-5 काजू, वैकल्पिक
एक चुटकी हल्दी पाउडर
1½ टेबलस्पून तेल
2 टेबलस्पून पानी
नमक स्वाद अनुसार
2 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया, सजाने के लिए
सेव, सजाने के लिए (वैकल्पिक)
विधि:-
आप इस विधि में अपनी पसंद के अनुसार सफेद ब्रेड या ब्राउन ब्रेड (गेहूं की ब्रेड) का उपयोग कर सकते हैं। अगर ओ सके तो इसे और भी अधिक पौष्टिक नाश्ता बनाने के लिए सफेद ब्रेड के बदले ब्राउन ब्रेड (गेहूं की ब्रेड) का उपयोग करें। ब्रेड स्लाइस को छोटे-छोटे टुकड़ों या क्यूब्स में काट लें।
एक कड़ाही या पैन में मध्यम आँच पर 1½ टेबलस्पून तेल गरम करें। उसमे राई (सरसों के बीज), जीरा और उड़द दाल डालें। जब राई फूटने लगे तब हींग और करी पत्ते डाले।
कटा हुआ प्याज, कटी हुई हरी मिर्च, मूंगफली के दाने और काजू डालें।
प्याज हल्के गुलाबी रंग का हो जाता है तब तक भूने।
कटा हुआ टमाटर, हल्दी पाउडर और नमक डालें और अच्छी तरह से मिला लें।
जब तक टमाटर नरम हो जाते है तब तक भूने।
2-टेबलस्पून पानी डालें, अच्छी तरह से मिला ले और 2 मिनट के लिए पकने दें।
ब्रेड के टुकड़े डालें और अच्छी तरह से मिला ले।
ढक्कन से ढक कर मध्यम आंच पर 2-3 मिनट के लिए पकने दें।
गैस बंद कर दें और ढक्कन हटा दें। कटे हुए हरा धनिया से सजाये और शाम के नाश्ते में चाय के साथ गरम परोसें। आप इसे सेव से भी सजा सकते हैं ।

गेँहू के आटे का डोसा

गेहूं के आटे का डोसा एक एक स्वादिष्ट और झटपट से बनने वाला दक्षिण भारतीय व्यंजन है। इस विधि (रेसिपी) का पालन करके कोई भी अपने घर पर गेहूं का आटा और चावल के आटे का उपयोग करके कुछ ही मिनटों में सरलता से गेहूं का डोसा बना सकता हैं। यह टमाटर की चटनी और नारियल की चटनी के साथ बढ़िया लगता है।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 4
सामग्री:
1 कप गेहूं का आटा
3/4 कप चावल का आटा
1/4 कप खट्टी छाछ
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1/2 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1/2 टीस्पून जीरा
8-10 करी पत्ते, टुकड़ों में कटे हुए
1 टीस्पून तेल + शैलो फ्राई करने के लिए, सेकने के लिए
3 कप पानी
नमक स्वादानुसार
विधि:
एक बड़े कटोरे में गेहूं का आटा, चावल का आटा, खट्टी छाछ, हरी मिर्च और नमक ले लो।
उसमे थोड़ा-थोड़ा करके पानी पानी (लगभग 3- कप) डालें और पतला घोल बना लें (रवा डोसा के घोल या या छाछ की तरह पतला)। घोल में आटे की गांठे ना रहे और घोल गाढ़ा ना हो उसका खयाल रखे।
एक छोटे से तड़का पैन में मध्यम आंच पर 1 टीस्पून तेल गरम करें। जब तेल मध्यम गर्म हो तब सरसों के बीज, जीरा और करी पत्ते डालें। जब सरसों के बीज फूटने लगे तब पैन को गैस से हटा दे और घोल के ऊपर तड़का डालें।
घोल को अच्छे से मिला लें।
एक नॉन-स्टिक तवा मध्यम आंच पर गरम करें। तवा गर्म या नहीं उसकी जाँच करने के लिए, इसके ऊपर पानी की कुछ बूँदें छिड़के और अगर वे तुरंत सूख जाती है तो तवा गर्म है। तवा में 1/2 टीस्पून तेल डालें। घोल को चमचे से अच्छे से मिला ले। लगभग 1/2 कप जितना घोल 3-4 इंच ऊंचाई से तवा के बीच में से शुरू करके बाहर की ओर डालें। बीच बीच में छोटे छेद रखे और घोल से तवे की पूरी सतह को कवर करने की कोशिश करें। बीच में रखे छेद में से भाप निकल जाएगी और डोसा करारा बनेगा। सामान्य डोसा की तरह घोल मत फैलाइये। डोसे के ऊपर 1-टीस्पून तेल लगा दे (या छिड़के) और नीचे की सतह सुनहरे भूरे रंग की होने लगे तब तक पकाईये (इसमें लगभग 2-मिनट का समय लगेगा)।
डोसे को पलटे।
दूसरी तरफ भी सुनहरा भूरा रंग का होने तक (लगभग 1 मिनट के लिए) पकने दें। गेहूं के आटे का डोसा को एक थाली में निकाले और परोसें। इसी तरह बाकी के घोल में से भी डोसा बना लें। प्रत्येक डोसा बनाने से पहले अच्छी तरह से घोल को मिला ले।

पनीर के रसगुल्ले

रसगुल्ला, इलायची के स्वाद वाली चाशनी में डूबे हुए नरम और स्पंजी पनीर के गोले एक पारंपरिक बेंगाली मिठाई है। यह स्थानीय बोली में रोसोगोला के रूप में भी जाना जाता है और वास्तव में उड़ीसा की मिठाई है। उसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है और उसे बनाने के लिए सिर्फ दूध, चीनी और निम्बू का रस ही चाहिए जो किसी भी रसोई घर में आसानी से हर समय मिल जाते हैं। इस रेसिपी में पहले दूध में से छैना कैसे बनाते है वो सिखाया गया है और बाद मे छैना में से कैसे गोले बनाकर चासनी में पकाये जाते है और नरम रसगुल्ला बनाये जाते है वो सिखाया गया है।
पूर्व तैयारियों का समय: 20 मिनट
पकाने का समय: 30 मिनट
कितने लोगो के लिए: 6 (13 रसगुल्ला)
सामग्री:
1 लीटर फुल क्रीम दूध (गाय का दूध बेहतर है)
2 टेबलस्पून नींबू का रस
1½ कप चीनी (ज्यादा या कम, अपने स्वाद के अनुसार)
4 कप पानी
2-3 हरी इलायची, वैकल्पिक
Note:
बेहतर रसगुल्ले बनाने के लिये गाय का दूध इस्तेमाल करें। आप किसी भी ब्रांड का फूल फैट दूध भी इस्तेमाल कर सकते है। हमने इस रेसिपी में रसगुल्ला बनाने के लिये फूल फैट दूध का उपयोग किया है।
घर पर ताजा पनीर (छैना) बनाने के लिये ताजा पनीर (छैना) बनाने की विधि (स्टेप 1-5 का पालन करें)। अगर आप छैना तैयार करने के लिए दिए गए लिंक का पालन कर रहे हैं तो नीचे दिए गए स्टेप-1 और स्टेप-2 छोड़ें।
विधि:-
दूध को एक पतीले में मध्यम आंच पर उबलने रखे। 2 टेबलस्पून पानी के साथ नींबू का रस मिलाएं।
जब दूध में उबाल आ जाये तब आंच को धीमा कर दे। धीरे धीरे पानी-निम्बू का मिश्रण डाले और लगातार चम्मच से हिलाते रहिये। एक-दो मिनट में दूध फटने लगेगा। जब दूध पूरी तरह से फट जाये (जब छैना और पानी अलग हो जाये) तब गैस बंद कर दे। बड़ी छन्नी के ऊपर मलमल का कपडा बिछा दे और उसके ऊपर फटा हुआ दूध डाले। छैना कपडे में रह जायेगा और सारा पानी निकल जायेगा। निम्बू की खटाश निकालने के लिये सादे पानी के 2-3 गिलास छैना के ऊपर डाले और सारा पानी निकाल दे।
छैना को मलमल के कपडे में बांध दे और अतिरिक्त पानी निकालने के लिए हल्का निचोड़ ले। उसे 30 मिनट के लिये टांग दे जिससे छैना में से अतिरिकत पानी निकल जाये। उसे अधिक से अधिक 30 से 45 मिनट के लिए ही टांगिये।
कपडे को खोल दे और छैना को एक बड़ी थाली में निकाल ले।
छैना थोड़ा सूखा और थोड़ा भीना होना चाहिये। अगर छैना ज्यादा सुखा होगा तो रसगुल्ले सख्त बनेंगे और अगर छैना ज्यादा नरम होगा तो पकाने के समय रसगुल्ला टूट जायेगा और पकाने के बाद उनका आकार भी गोल नहीं रहेंगा।
छैना को हाथ से मसलते रहे जब तक की सारा छैना गुंथे हुए आटे की तरह एक साथ हो जाये। जब आपकी हथेली चिकनी होने लगे तब मसलना बंद कर दे (छैना में से चिकनाई छूटने लगेगी)।
गुंथे हुए छेने में से 13-15 छोटे गोले बनाइये। बहुत बड़े गोले मत बनाइये क्यूंकि अगले स्टेप में गोले चाश्नी में उबलने के बाद बड़े (लगभग दोगुने) हो जायंगे।
एक गहरे और चौड़े मुँह वाले बड़े बर्तन (ढक्कन वाला) में या प्रेशर कुकर में 1½ कप चीनी, 4 कप पानी और इलायची डाले और चाशनी बनाने के लिए मध्यम आंच पर गरम करने रखे।
जब चाशनी उबलने लगे तब धीरे से बनाये हुए गोले उसमे डाले।
बरतन को ढक्कन से ढक दे और मध्यम आंच पर पकने दें। अगर आप प्रेशर कुकर का उपयोग कर रहे हैं, तो कुकर के ऊपर सिर्फ ढक्कन लगाइये, सीटी मत लगाइये।
5 मिनट के बाद ढक्कन हटा दे और उसे धीरे से चम्मच से हिलाइए। फिर से ढक्कन से बंद कर दे और 7-8 मिनट के लिए मध्यम आंच पर उबाल लें। ढक्कन हटाएँ और गैस बंद कर दे। आप को दिखेगा की गोलों कि आकार लगभग दोगुनी हो गई है।
गैस बंद करने के बाद गोले थोड़े से छोटे हो जायेंगे,
लेकिन यह सामान्य है। (अगर गोले ज्यादा छोटे हो जाते है तो समज़ना की कुछ गलत हो गया है।) रसगुल्ले को एक बड़े कटोरे में निकाल ले और 5-6 घंटे के लिए उन्हें ठन्डे होने दे। रसगुल्ला अब परोसने के लिये तैयार हैं।

रसमलाई रेसिपी


रसमलाई एक लोकप्रिय बंगाली मिठाई है जिसमे मुलायम और स्पंजी पनीर की टिक्की (पैटी) केसर के स्वाद वाली मलाईदार दूध की रबड़ी में होती है। इस रेसिपी की मदद से आप रसमलाई बनाने के लिए छैना और रबड़ी घर पर कैसे बनाये वह सिख सकते है और उतना ही नहीं आप रेडीमेड रसगुल्ला और कन्डेंस्ड मिल्क का उपयोग करके सिर्फ 15 मिनट में रसमलाई कैसे बनाये वह भी सिख सकते है। आप कोई भी रीत का अनुसरन करके उसे बना सकते है और दोनों ही तरीको से बनी हुई इस स्वादिष्ट बंगाली मिठाई आपकी पसंदीदा बन जाएगी।
पूर्व तैयारियों का समय: 15 मिनट
पकाने का समय: 45 मिनट
कितने लोगो के लिए: 6 servings (12 pieces)
छैना की पेटी (टिकिया) बनाने के लिए:
1 लीटर दूध
2 टेबलस्पून नींबू का रस
1½ कप चीनी
4 कप पानी
रबड़ी के लिए:
1 लीटर दूध
3 टेबलस्पून चीनी
1 टीस्पून कॉर्न स्टार्च, वैकल्पिक
10-12 केसर की किस्में, वैकल्पिक
1/4 टीस्पून हरी इलायची का पाउडर, वैकल्पिक
2-3 टेबलस्पून कटा हुआ पिस्ता
झटपट रसमलाई बनाने के लिए (आसान रीत)
इसे कम से कम समय में बनाने के लिए हम रेडीमेड रसगुल्ला का उपयोग करेंगे और रबड़ी बनाने के लिए कन्डेंस्ड मिल्क का उपयोग करेंगे।
रेडीमेड रसगुल्ला लीजिये और उसे चाश्नी में से निकाल दे। अब एक एक रसगुल्ला को दो ​कलछी या चम्मच के बीच हल्के से दबाकर अतिरिक्त चाशनी निकाल दे ।
रबड़ी बनाने के लिए 1/2 कप कन्डेंस्ड मिल्क, 2 कप दूध और 10-12 केसर किस्में को एक कड़ाई में गाढ़ा और क्रिमी होने तक उबाले।
चाश्नी निकाले हुए रसगुल्ला और 2 टेबलस्पून कटा हुआ पिस्ता डाले और 5 मिनट के लिए पकने दे। झटपट रसमलाई तैयार है।
विधि:-
1 लीटर दूध और 2 टीस्पून नींबू का रस का उपयोग करके ताजा पनीर ( छैना ) बनाइये। एक साफ मलमल के कपड़े में छैना बांध दे। अतिरिक्त पानी निकालने के लिए उसे हल्के से हाथ से निचोड़ ले और 30-45 मिनट के लिए किसी हुक (या नल) पर लटका दे। घर पर छैना कैसे बनाये वह फोटो के साथ देखने के लिए इस विधि (स्टेप-1 से स्टेप-5 तक) का अनुसरन करे।
लगभग 30 मिनट के बाद, छैना को खोल दे और मलमल के कपडे में से उसे एक थाली में निकाल दे।
छैना थोड़ा सूखा और थोड़ा गीला होना चाहिये। अगर वह बहुत अधिक गीला होगा तो रसमलाई पकाने के समय टूट जाएगी। अतिरिक्त नमी को दूर करने के लिए उसे पेपर नैपकिन के बीच धीरे से दबाएये ताकि उसमे से गीलापन कम हो जाये ।
छैना को हाथ से मसल ले, उसे तब तक मसले जब तक की सारा छैना आटे की तरह एक साथ हो जाये। एक समय पर छैना में से चिकनाई निकलने लगेगी और आपकी हथेली चिकनी होने लगेगी तब मसलना बंद कर दे – इसमें लगभग 5-8 मिनट का समय लगेगा।
उसे 12 बराबर भागों में विभाजित कर दे। प्रत्येक भाग से एक छोटा गोला बनाये और उसे टिक्की के (सपाट बनाने के लिए) जैसा आकार देने के लिए अपनी हथेलियों के बीच धीरे से दबाएँ। उसे मोटा ही रखियेगा अगर बहुत ज्यादा पतला करेंगे तो वह पकाने के समय टूट जाएगी।
एक गहरे बरतन में या एक प्रेशर कुकर में 4 कप पानी और 1½ कप चीनी डाले और उसे मध्यम आंच पर उबलने रख दे। जब चीनी घूल जाये और चाश्नी उबलने लगे तब धीरे से एक एक करके सारी टिक्की चाश्नी में डाल दे।
बर्तन को ढक्कन से ढक दे (अगर आप प्रेशर कुकर का उपयोग कर रहे हैं तो ढक्कन में से सीटी और रबर की रिंग निकाल कर उसे ढके) और मध्यम आंच पर 5 मिनट के लिए उबलने दे। 5 मिनट के बाद ढक्कन हटा दे और सारी टिक्कियो को एक एक कर कलछी का उपयोग करके हल्के से पलट दे।
फिर से उसे ढक्कन से ढक दे और 7 मिनट के लिए उबलने दे। गैस बंद कर दें और ढक्कन हटा दें। आप फोटो में देख सकते हैं की टिक्किया फूलकर लगभग दोगुनी हो गई है।
उसे एक बड़े कटोरे में निकाल ले और 1-2 घंटे के लिए कमरे के तापमान पे ठंडा होने दें। उसके बाद एक एक टिकिया को दो चम्मच के बीच हल्के से दबाकर उसमे से अतिरिक्त चाशनी निकाल दे। उसे हल्के से ही दबाइये वरना वह टूट जाएगी।
अब रबड़ी बनाना शुरू कर देते है। एक भारी तले वाली कड़ाई में 1 लीटर दूध डाले और मध्यम आंच पर उसे गरम करने रखे। जब दूध उबलने लगे तब आंच को कम कर दे और केसर की किस्में डाले।
जब तक दूध आधा हो जाये तब तक उबलने दे, उसे चिपकने और जलने से बचाने के लिए नियमित अंतराल पर कलछी से हिलाते रहिये, उसमे लगभग 15 मिनट का समय लगेगा। आप उसे जल्दी पकाने के लिए मध्यम आंच पर भी उबाल सकते है लेकिन उसमे आपको दूध को जलाने से बचाने के लिए लगातार कलछी से हिलता रहना पड़ेगा। 1 टीस्पून कॉर्न स्टार्च को 1 टेबलस्पून पानी में घोलकर एक मिश्रण तैयार करे, उसमे गांठे नहीं होनी चाहिए। 3- टेबलस्पून चीनी, कॉर्न स्टार्च-पानी का मिश्रण और 1/4 टीस्पून इलायची पाउडर डाले।
आंच को मध्यम कर दे और चीनी पिघल
तब तक कलछी से हिलाते हुए पकाइये, उसमें लगभग 3-4 मिनट का समय लगेगा। चाश्नी निकाली हुई टिक्की और कटा हुआ पिस्ता डाले।
4-5 मिनट के लिए पकने दे। इससे टिक्की में दूध (रबड़ी) का स्वाद अच्छा आयेगा।
गैस बंद कर दें और परोसने के कटोरे में निकाल दे। उसे कमरे के तापमान पे ठंडा होने दे और उसके बाद कम से कम 2-3 घंटे के लिए फ्रिज में रख दें। ठंडी रसमलाई को मिठाई के रूप में या तो खाने के बाद डेज़र्ट में परोसें।

सेब की खीर

सेब की खीर, यह सेब और दूध से बनी एक स्वादिष्ट मिठाई है जो पारंपरिक खीर से थोड़ी अलग होती है। इसे बनाने के लिए सेब को पहले पकाया जाता है और बाद में पकाई हुई दूध की रबड़ी के साथ मिलाया जाता है। इस रेसिपी में कम से कम समय में खीर बनाने के लिए गाढ़ा कन्डेन्स्ड मिल्क का उपयोग हुआ है, लेकिन अगर आप कन्डेन्स्ड मिल्क का उपयोग करना नहीं चाहते है तो परंपरागत तरीके से भी रबड़ी बना सकते हैं।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 25 मिनट
कितने लोगो के लिए:2
सामग्री:
1 बड़ा सेब, छिल कर कद्दूकस कर लें
1 टेबलस्पून घी
2 कप फूल फैट दूध (500 मिलीलीटर)
2½ – ​​3 टेबलस्पून कंडेन्स्ड मिल्क
1/4 टीस्पून इलायची पाउडर
2 टेबलस्पून कतरा हुआ बादाम
नोंध:खीर बनाने के लिए स्वाद में मीठे सेब चुने। कद्दूकस किए हुए सेब को ब्राउन होने से रोकने के लिए उसे पकाने से पहले ही कद्दूकस करें।
विधि:-
एक छोटी कड़ाही में 1-टेबलस्पून घी गर्म करें और उसमें कसा हुआ सेब डालें।
उसे चमचे से लगातार चलाते हुए तब तक पकाइये जब तक कि सेब थोड़ा सूखा हो जाये। इसमें लगभग 7-8 मिनट का समय लगेगा। गैस बंद करें और इसे कमरे के तापमान को ठंडा होने दें।
एक अन्य कड़ाही में दूध डालें और मध्यम आंच पर उबलने के लिए रखें।
जब दूध उबलने लगता है तब आंच को कम कर दे। जब तक दूध लगभग अपने मूल मात्रा के ¾ जितना हो जाता है और थोड़ा गाढ़ा हो जाता है तब तक पकने दे। इसमें लगभग 8-10 मिनट का समय लगेगा। चिपकने से रोकने के लिए बीच मे नियमित अंतराल पर चमचे से हिलाते रहे। 2½ टेबलस्पून कंडेन्स्ड मिल्क डालें।
आंच को मध्यम कर दे और 4-5 मिनट के लिए लगातार चमचे से हिलाते रहे। दूध को चीनी के लिए चखे और यदि आवश्यक हो, 1/2 टेबलस्पून कंडेन्स्ड मिल्क या चीनी (स्वाद के अनुसार) डालें और मिश्रण को अच्छी तरह से मिला लें।
कटा हुआ बादाम और इलायची पाउडर डालें।
अच्छी तरह से मिला लें और एक मिनट तक पकने दें। गैस बंद करें। तैयार दूध (रबड़ी) को एक परोसने के कटोरे में निकाले और उसे कमरे के तापमान को ठंडा होने दें।
जब मिश्रण ठंडा हो जाये तब उसमे पकाया हुआ सेब डालें।
अच्छी तरह से मिला ले और परोसने से पहले कम से कम 2-3 घंटे के लिए फ्रिज में रख दें। ठंडी सेब की खीर परोसने के लिए तैयार है।

वेज मोमोज रेसिपी

वेज मोमोज तिब्बत क्षेत्र का एक लोकप्रिय नाश्ता है जो मिश्र सब्जियों से भरे हुई पोटली आकार के गोले है जिसे तेल में तला जाता है या भाप में पकाया जाता है। पिछले कुछ वर्षों से, मोमोज भारत के अन्य भागों में बहुत लोकप्रिय हो रहे है और आप उन्हें आसानी से घर पर बना सकते हैं। परंपरागत तरीके में इसे भाप में पकाया जाता है। घर पर वेजिटेबल मोमोज बनाने के लिये मुख्य तीन स्टेप है। 1) मिश्र सब्जियों से भराई तैयार करना, 2) आटा गूँधना, आटे में से छोटी पूरी बनाकर उसे मिश्र सब्जियों के मिश्रण से भर कर उन्हें एक “पोटली (Potli)” का आकार देना, और 3) उन्हें भाप में पकाना। इस रेसिपी का पालन करके घर पर आसानी से मोमोज बनाना सीखे और उन्हें मसालेदार लाल टमाटर मिर्च की चटनी के साथ परोस कर उसका आनंद लें।
पूर्व तैयारियों का समय: 1 घंटा
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2 (12-14 मोमोज)
आटा के लिए सामग्री:
3/4 कप मैदा
1 टीस्पून तेल
नमक स्वाद अनुसार
भराई के लिए:
1 टेबलस्पून तेल
3-4 लहसुन की कलियां, बारीक कटी हुई
1 टीस्पून बारीक कटा हुआ अदरक
1/2 कप बारीक कटी हुई गाजर
1/2 कप बारीक कटा हुआ पत्ता गोभी
1/4 कप बारीक कटी हुई शिमला मिर्च
1/4 कप बारीक कटा हुआ फ्रेंच बीन्स
1/4 कप बारीक कटा हुआ हरा प्याज या सादा प्याज
1/2 -1 टीस्पून सोया सॉस
1 टीस्पून चिली सॉस
1/2 टीस्पून काली मिर्च पाउडर
नमक स्वाद अनुसारविधि:-
सभी सब्जियों को सामग्री की सूची में बताया गया है उसके अनुसार काट ले।
एक परात में 3/4 कप मैदा, 1 टीस्पून तेल और नमक डालें।
सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिला ले और जरूरत के अनुसार पानी डाल कर पराठा के आटा की तरह नरम आटा गूंथ लें। आटे को ढककर 20-25 मिनट के लिए सेट होने दें।
एक कड़ाही में मध्यम आंच पर 1 टेबलस्पून तेल गरम करें। उसमें बारीक कटा हुआ अदरक और लहसुन डालें और 30 सेकंड के लिए भून लें। उसमे बारीक़ कटा हुआ हरा प्याज डालें और एक मिनट के लिए भून लें।
सभी कटी हुई सब्जिया (गाजर, गोभी, शिमला मिर्च और फ्रेंच बीन्स) और नमक डालें।
उन्हें अच्छी तरह से मिला ले और 4-5 मिनट के लिए भूने।1 टीस्पून चिली सॉस डालें।
1/2 -1 टीस्पून सोया सॉस डालें।
1/2 टीस्पून काली मिर्च पाउडर डालें।
अच्छी तरह से मिला लें और एक मिनट के लिए भूने। गैस बंद कर दें। मोमोज के लिए भराई तैयार है।
आटे को एक मिनट के लिए फिर से गूंध लें और उसे 2-बराबर भागों में बाँट लें। प्रत्येक भाग का ककड़ी की तरह एक लंबा रोल बना लें। हर एक रोल को तस्वीर में दिखाया गया है वैसे एक चाकू से 6-7 में बराबर भागों में काट लें।
प्रत्येक छोटे हिस्से को गेंद की तरह एक गोल आकार दें और उसे अपनी हथेलियों के बीच में दबाकर लोई बना लें। सभी लोईया को सूखने से रोकने के लिए एक गीले कपड़े या एक थाली से ढककर रखे।
चकले पर एक लोई रखें और उसे पूरी की तरह (लगभग 4-5 इंच व्यास में) पतला बेल लें। पुरी की किनारे पतली बेले और उसका मध्य भाग थोड़ा मोटा बेले। बेलते समय यदि आवश्यक हो तो थोड़ा सूखा आटा छिड़के।
पुरी के बीच में लगभग 1 टेबलस्पून भराई का मसाला रखें। उसमे बहुत ज्यादा भराई मत भरे अन्यथा उसे पोटली का आकार देना मुश्किल होगा।
एक तरफ से किनारे को उचा करे और मोड़ना शुरु करे। किनारे को थोड़ा अंदर की ओर थोड़ा बाहर की ओर करते हुए मोड़े। बीच में किनारो को सील कर दें और पोटली के जैसा आकार दें। आप इसे गुजिया की तरह भी मोड़ सकते है।
इसी तरह सारे मोमोज तैयार करें।
एक छोटी प्लेट (जो बर्तन के अंदर आसानी से फिट हो सके) में तेल लगा दे। आप तेल लगाने के बदले पत्ता गोभी के पत्ते का भी इस्तेमाल कर सकते है। प्लेट में मोमोज रखें और उसके बीच में थोड़ी जगह रखें।
एक गहरे बर्तन में या ढोकले पकाने के बर्तन में 1-2 गिलास पानी डालें और मध्यम आंच पर रखें।
बर्तन में स्टैंड रखें और उसके ऊपर मोमोज की थाली रख दे। ध्यान रहे कि मोमोज को पानी स्पर्श नहीं करना चाहिए। बर्तन को एक ढक्कन से ढक दें और मध्यम आंच पर उन्हें 6-7 मिनट के लिए या जब तक वे थोडे पारदर्शी और चमकदार दिखने लगे तब तक भाप में पकाये। ढक्कन निकालें और इसे छूकर देखें। अगर वे चिपचिपा नहीं है तो इसका मतलब है कि मोमोज पक गये है।
उन्हें एक परोसने की थाली में निकाले। गर्म मोमोज को सेजवान चटनी या सॉस के साथ परोसें।

भेल पूरी रेसिपी

भेल पूरी भारत की लोकप्रिय चाट में से एक है, जो न केवल खाने में ही स्वादिष्ट है लेकिन बनाने में भी बहुत ही आसान है। यह मुरमुरे, सेव, टमाटर, आलू, प्याज और खट्टी-मीठी-तीखी चटनीयो का एक चटपटा मिश्रण है। यह चाट मुंबई में बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय है, आपको मुंबई की किसी भी गली में भेलपूरी बेचने वाला मिल ही जायेगा। अगर आप पहले से ही सारी चटनिया बना ले और आलू भी उबाल ले तो आप इसे कुछ ही मिनटों में घर पर बना सकते हैं।
पूर्व तैयारियों का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
सामग्री:
8 पापड़ी
2 कप भुना हुआ या सादा मुरमुरा
1/2 कप बारीक़ सेव
1/3 कप उबले और कटे हुए आलू
3 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ प्याज
1/3 कप बारीक कटा हुआ टमाटर
1 हरी मिर्च, बिज निकाले हुए और बारीक़ कटी हुई, वैकल्पिक
1½ टेबलस्पून खजूर इमली की चटनी
1 टेबलस्पून हरी चटनी
1 टीस्पून लहसुन की चटनी, वैकल्पिक
2 टेबलस्पून कटा हुआ हरा धनिया
1/2 टीस्पून चाट मसाला पाउडर
मुरमुरे को भूनने के लिए:
एक भारी तले वाली कड़ाही में मध्यम आंच पर 2 टीस्पून तेल गरम करें। मुरमुरा, एक चुटकी हल्दी पाउडर और नमक डाले। चमचे से लगातार चलाते हुए मुरमुरे को करारा होने तक भूने, इसमें लगभग 3-4 मिनट का समय लगेगा। जब मुरमुरे करारे हो जाये तब उन्हें जलने से रोकने के लिए एक बड़े कटोरे में निकाले।
विधि:-
सभी चटनियों की रेसिपी का पालन करके सभी चटनीया बना ले। 1-टीस्पून लहसुन की चटनी को 1-टीस्पून पानी के साथ मिला ले। भेल पुरी बनाने के लिए सभी आवश्यक सामग्री तैयार करें।
एक बड़े कटोरे में मुरमुरा ले लो।
कटा हुआ आलू, कटा हुआ टमाटर, कटा हुआ प्याज और बारीक़ कटी हुई हरी मिर्च डालें।
खजूर इमली की चटनी, हरी चटनी और लहसुन की चटनी डालें।
नायलॉन सेव और चाट मसाला पाउडर डालें।
एक बड़ी चम्मच या चमचे से अच्छी तरह से मिलाएं। भेल को चख ले और अगर जरुरत लगे तो खट्टे-मीठे स्वाद के लिए खजूर इमली की चटनी, तीखे स्वाद के लिए लहसुन की चटनी और नमकीन स्वाद के लिए धनिये की चटनी डालें।
हरे धनिये से सजाये। आप पापड़ी के टुकड़े करके भेल में डाल सकते है या अपनी पसंद के अनुसार पूरी पापड़ी के साथ परोस सकते हैं। भेल पूरी तैयार है। इसे 2 प्लेटों में निकाले और तुरंत ही परोसें क्यूंकि गीली चटनियों के कारण कुछ ही मिनटों के बाद भेल पूरी नमी पकड़ लेगी और खाने का मजा नहीं आयेगा।

सेव पूरी रेसिपी

सेव पूरी भारत की लोकप्रिय चाट में से एक है और इसे बनाना बहुत ही आसान है। इसमें पापड़ी (करारी छोटी पुरी) के ऊपर उबले हुए आलू, उबले हुए मूंग, प्याज, हरी चटनी, खजूर इमली की चटनी डाले जाते है और ऊपर से सेव छिड़की जाती है। इस स्टेप बाय स्टेप रेसिपी का पालन करके देखे कि कैसे आसानी से घर पर सेव पूरी बना सकते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
सामग्री:
16 चाट पुरी (पापड़ी)
2/3 कप उबले और कटे हुए आलू
1/4 कप उबले हुए मूंग, वैकल्पिक
1/2 कप बारीक कटा हुआ टमाटर
1/2 कप बारीक कटा हुआ प्याज
6 टेबलस्पून खजूर इमली की चटनी
4 टेबलस्पून हरी चटनी
1/2 टीस्पून या स्वाद अनुसार चाट मसाला पाउडर
1/2 कप नायलॉन सेव
1 टेबलस्पून कटा हुआ हरा धनिया
विधि:-
पहले से ही हरी चटनी और खजूर इमली की चटनी उनकी रेसिपी के अनुसार तैयार कर लें। आलू और मूंग को नमकीन पानी में नरम होने तक उबाल लें। चाट बनाने से पहले सभी आवश्यक सामग्री तैयार रखें।
दो प्लेट ले और हर एक प्लेट में 8- पापड़ी रखे।
प्रत्येक पापड़ी के ऊपर 1/2 टेबलस्पून कटा हुआ आलू और लगभग 1-टीस्पून मूंग रखे।
हर एक के ऊपर 1/2 टेबलस्पून प्याज और 1/2 टेबलस्पून टमाटर रखे।
हर एक पापड़ी के ऊपर 1-टीस्पून खजूर इमली की चटनी डालें।
हर एक पापड़ी के ऊपर ¾ टीस्पून हरी चटनी डालें।
प्रत्येक प्लेट के ऊपर 1/4 कप सेव और चाट मसाला पाउडर छिड़के।
बारीक़ कटा हुआ हरा धनिया से सजाये। सेव पुरी चाट परोसने के लिए तैयार है। इसे तुरंत ही परोसें। इसे परोसने के वख्त ही बनाये अन्यथा पापड़ी कुछ ही मिनटों के भीतर चटनीया और आलू के कारण नरम हो जाएगी।

मेथी पूरी रेसिपी

मेथी पूरी गेहूं के आटे और मेथी से बनायीं जाने वाली करारी पूरी है जिसे नाश्ते में खाया जाता है। दो प्रकार की मेथी पूरी बनायी जाती है 1) किसी सब्जी के साथ तुरंत खाने के लिए 2) फरसी पूरी की तरह नाश्ते में खाने के लिए। इस रेसिपी में करारी पूरी बनाना सिखाया गया है जिसे आप 15-20 दिन तक रख सकते है। यह खाने में बेहद स्वादिष्ट है और आपको यह ज़रूर पसंद आयेगी।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 35 मिनट
कितने लोगों के लिए: 16 पूरी
सामग्री:
1 कप गेहूँ का आटा
2 टीस्पून तिल के बीज
3 टेबलस्पून सूजी (रवा)
1/2 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
1/3 टीस्पून हल्दी पाउडर
1/3 कप ताज़ी मेथी के पत्ते, कटे हुए
तलने के लिए + 3 टेबलस्पून तेल
नमक, स्वादानुसार
पानी
विधि:-
चौड़े मुह वाले एक बर्तन में गेहूं का आटा, सूजी, तिल, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, कटी हुई ताज़ी मेथी, 3 टेबलस्पून तेल और नमक डालकर अच्छे से मिला लीजिये।
ज़रुरत के अनुसार पानी डालते हुए पराठे से थोडा ठोस आटा गूंथ लीजिये। इसे 10-15 मिनट के लिए ढंककर रखिये।
आटे को 16 छोटे भाग में बाँटकर उसमे से गोल लोइयाँ बना लीजिये।
हर एक लोई से 3-4 इंच व्यास वाली पूरी बेल लीजिये। पूरी रोटी की तुलना में थोड़ी मोटी होनी चाहिए। अब उसमे चाकू या कांटे की मदद से छेद कर लीजिये।
एक कडाही में मध्यम आँच पर तेल गरम कीजिये। जब तेल गरम हो जाये तब एक बार में 3-4 पूरी को मध्यम आँच पर तब तक तलिए जब तक उनका रंग हल्का भूरा नहीं हो जाता और वह करारी नहीं बन जाती।
अधिक तेल सोखने के लिए पूरियों को किचन पेपर बिछाई हुई थाली में निकाल लीजिये।
बाकी बची पुरियां तल लीजिये। उसे वायुरोधक डिब्बे में 15-20 दिन तक रख सकते है।

दही पूरी चाट रेसिपी

शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे चाट पसंद ना हो! दही पूरी चाट मशहूर भारतीय चाट में से एक है। इस चाट में गोलगप्पे की पूरी का उपयोग हुआ है। इस करारी पूरी में उबले हुए आलू और प्याज भरे गये है और उपर से तीखी चटनी, खट्टी-मीठी चटनी, चटपटी चटनी, फैटा हुआ दही और सेव डाले गये है। यह पार्टी में परोसने के लिये एकदम सही नाश्ता है क्योंकि इसे बड़ी मात्रा में आसानीसे पहले से ही तैयार किया जा सकता है और महेमानो को पसंद भी आता है। इस दही पुरी रेसिपी का पालन करके घर पर यह चाट बनाइये और इसका लुफ्त उठाईये।
पूर्व तैयारियों का समय: 20 मिनट
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 1
सामग्री:
8 पुरी (गोलगप्पा पुरी, पानीपूरी की पूरी)
1/2 कप उबले और कटे हुए आलू
1/4 कप बारीक़ कटा हुआ प्याज
2½ टेबलस्पून खजूर इमली की चटनी
1½ टेबलस्पून हरी चटनी
1 टीस्पून लहसुन की चटनी, वैकल्पिक
1/2 कप दही, फैंट लें
1/4 कप सेव
हरा धनिया, सजाने के लिए
विधि:-
मीठा चटनी (खजर इमली की चटनी), हरी चटनी और लहसुन की चटनी उनकी रेसिपी के अनुसार बना लें। 1 टीस्पून लहसुन की चटनी को 1 टीस्पून पानी के साथ मिला लें। अन्य सभी सामग्री भी तैयार रखें।
गोलगप्पा की पूरी में ऊपर की सतह पर धीरे से एक चम्मच या उंगली से या अंगूठे से छेद करे। उन्हें एक परोसने की प्लेट में रखें।
प्रत्येक पुरी में 1-टेबलस्पून आलू और 1/2 टेबलस्पून प्याज भरें।
प्रत्येक पुरी में आलू और प्याज के ऊपर 1-टीस्पून खजूर इमली की चटनी डालें।
हर एक पूरी के ऊपर 1/2 टीस्पून हरी चटनी डालें।
हर एक पूरी के ऊपर 1/4 टीस्पून लहसुन की चटनी डालें।
और अंत में प्रत्येक पुरी के उपर 1-टेबलस्पून दही डालें।
उसके ऊपर सेव छिड़के और हरे धनिया से सजाये। दही पूरी चाट परोसने के लिए तैयार है। इसे तुरंत ही परोसे क्योंकि कुछ ही मिनट में करारी पूरी चटनियों की वजह से नरम हो जाएगी।

कॉर्न टिक्की रेसिपी

आज हम कॉर्न टिक्की (मकई की टिक्की) बनाने जा रहे हैं जो लोकप्रिय आलू टिक्की से थोड़ी अलग है लेकिन बनाने की विधि में बहुत फर्क नहीं है। यह स्वादिष्ट टिक्की बनाने के लिए स्वीट कॉर्न, उबले हुए आलू, लहसुन, अदरक, हरी मिर्च और सूखे ब्रेडक्रम्ब का उपयोग हुआ है। बच्चों को शाम के समय नाश्ते में परोसने के लिए या मेहमानो को नाश्ते में परोसने के लिए यह एकदम सही है। इसे घर पर बनाने के लिए यह आसान स्टेप बाय स्टेप रेसिपी (विधि) का पालन करें।
पूर्व तैयारियों का समय: 20 मिनट
पकाने का समय: 15 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
सामग्री:
3/4 कप + 1/4 कप मकई के दाने, उबले हुए
2 मध्यम आलू, उबले, छिले और मैश किए हुए
1/2 कप सूखे ब्रेडक्रम्ब
2 हरी मिर्च, बीज निकाल दे और बारीक़ काट लें
¼ टीस्पून कसा हुआ अदरक
4-5 लहसुन की कलियां, कूट ले
4 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया
1/4 टीस्पून गरम मसाला पाउडर
2 टीस्पून नींबू का रस
नमक
तेल
विधि:-
मिक्सी की छोटी जार में 3/4 कप उबले हुए मकई के दाने, अदरक, लहसुन और हरी मिर्च डालें और उन्हें पीस कर पेस्ट बना लें।
एक बड़े कटोरे को मैश किए हुए आलू लें। उसमे ब्रेडक्रंब, मकई का पेस्ट, 1/4 कप मकई के दाने, हरा धनिया, गरम मसाला पाउडर, नींबू का रस और नमक डालें। अच्छी तरह से मिला लें।
अपनी हथेलियों को तेल लगाकर चिकना कर लें और आलू और मकई के मिश्रण को 12 बराबर भागों में बाँट लें। प्रत्येक भाग को गेंद की तरह गोल आकार दें और उन्हें अपनी हथेलियों के बीच हल्के से दबाकर 1/3 इंच मोटी गोल आकार की समतल पैटी बना लें।
एक नॉन स्टिक तवे में 2 टेबलस्पून तेल मध्यम आंच पर गर्म करें। उसके ऊपर 6-7 टिक्की रखे और जब तक टिक्की नीचे की सत्तह सुनहरी भूरे रंग की होने लगे तब तक पकने दें। इसमें लगभग 2 से 3 मिनट का समय लगेगा।
उन्हें पलट दें और दूसरी तरफ भी सुनहरे भूरा रंग का होने तक पकने दें।
टिक्की को एक थाली में निकाल ले और बाकी बची टिक्की भी इसी तरह सेंक लें। मकई की टिक्की परोसने के लिए तैयार है। उसे टमाटर केचप और हरी चटनी के साथ गरमा गरम परोसे।

दम आलू पंजाबी रेसिपी

पंजाबी दम आलू भारतीय खाने की सबसे प्रतिष्ठित सब्जियों में से एक है। अगर कभी भी महेमान घर पर अचानक से आ जाये तो आप खाने में यह सब्जी बना सकते है क्यूंकि आलू और दही घर में होते ही है और यह बनाने में भी आसान है। इस रेसिपी की मदद से आप बड़े ही आसान तरीके से कसूरी मेथी के स्वाद वाली दही से बनी हुई ग्रेवी के साथ पंजाबी स्टाइल में दम आलू घर पर बनाना सीख सकते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 15 मिनट
पकाने का समय: 35 मिनट
कुल समय: 50 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
सामग्री:
15 छोटे आलू, नमकीन पानी में उबले हुए
1 बड़ा प्याज, बारीक कटा हुआ
3/4 कप गाढ़ा दही
1 तेज पत्ता
1 चुटकी हींग
1 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर
1 टीस्पून अदरक लहसुन का पेस्ट
1 टीस्पून सूखे धनिये के बीज
1/2 टीस्पून जीरा
1 हरी इलायची
दालचीनी का एक छोटा सा टुकड़ा
4 लौंग
8-10 काजू
1/2 टीस्पून कसूरी मेथी
1 टीस्पून चीनी (वैकल्पिक)
5 टेबलस्पून तेल
2 टेबलस्पून बारीक़ कटा हुआ हरा धनिया
नमक, स्वादनुसार
विधि:-
उबले हुए आलू को छीलकर उनमे कांटे से छेद कर लो।
एक कड़ाही में 2 टेबलस्पून तेल गरम करें। उसमे उबले हुए आलू डाले और उन्हें मध्यम आंच पर हल्के सुनहरे रंग के होने तक तल ले (भून ले)। उसे एक थाली में निकाल दे।
सूखे धनिये के बीज, जीरा, इलायची, दालचीनी, लौंग और काजू को मिक्सी में बारीक़ पीस लें।
उसी कड़ाही में 3 टेबलस्पून तेल गरम करे। एक चुटकी हींग, तेज पत्ता और कटा हुआ प्याज डाले। प्याज को हल्का भूरा होने तक भून ले, उसमे लगभग 1-2 मिनट का समय लगेगा। अदरक लहसुन का पेस्ट डाले और 30 सेकंड के लिए भून ले।
मसाला पाउडर (स्टेप-3 में तैयार किया हुआ) डाले और 1 मिनट के लिए भून ले।
दही को फैंट ले। धीरे-धीरे उसे कड़ाई में डाले और कलछी से मिला ले।
हल्दी पाउडर और लाल मिर्च पाउडर डालें और अच्छे से मिला ले। तेल अलग होना शुरू हो जाये तब तक या 2-3 मिनट के लिए उसे कलछी से लगातार चलाते हुए पकाइये।
आलू, कसूरी मेथी, चीनी और नमक डाले। अच्छे से मिला ले और 2 मिनट के लिए कम आंच पर पकने दे।
3/4 कप पानी डालें और मध्यम आंच पर उबालने रखे।
जब यह उबलने लगे तब ग्रेवी को ढककर धीमी आंच पर 3-4 मिनट तक या तो ग्रेवी गाढ़ी होने लगे तब तक पकने दे।
गैस बंद कर दे और उसे परोसने के कटोरे में निकाल दे। पंजाबी दम आलू को हरे धनिये से सजाकर गरमा गरम परोसें।

दाल तड़का (पीली दाल)

हालांकि पंजाबी भोजन में कई सारी बढ़िया सब्जी/करी और दाल है लेकिन लहसुन, सूखी लाल मिर्च और जीरा के तड़के वाली पीली दाल मतलब कि दाल तड़का की बात ही कुछ और है। इसके बढ़िया स्वाद के कारण इसे किसी भी प्रकार की भारतीय फ्लैट ब्रेड जैसे कि बटर नान, तंदूरी रोटी, पराठा, कुल्चा आदि के साथ और किसी भी प्रकार के पुलाव के साथ परोस सकते है। आम तौर पर सभी दाल में पहले तड़का लगाया जाता है लेकिन यह दाल की खासियत यह है कि इसमें पहले दाल को प्याज, अदरक और मसालों के साथ पकाया जाता है और बाद में लहसुन, सूखी लाल मिर्च और जीरा का तड़का लगाया जाता है। तो आइये आज हम इस सरल स्टेप बाय स्टेप फोटो रेसिपी की मदद से दाल तड़का बनाना सीखते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 25 मिनट
सामग्री:
1/2 कप तूर दल (अरहर की दाल)
1/4 कप चना दाल
1/4 कप मसूर दाल
1 मध्यम प्याज, बारीक़ कटा हुआ
1 टेबलस्पून अदरक -लहसुन का पेस्ट
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1 टमाटर, बारीक कटा हुआ
1/2 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर
2½ कप + 1 कप पानी
2 टीस्पून घी या तेल
नमक स्वादानुसार
2 टेबलस्पून बारीक़ कटा हुआ हरा धनिया, सजाने के लिए
तड़के के लिए:
1/2 टीस्पून जीरा
2 लहसुन की कलियाँ, कटी हुई
1 सूखी लाल मिर्च, दो टुकड़ों कर दे
एक चुटकी हींग
2 टीस्पून घी
विधि:-
तूर दाल, चना दाल और मसूर की दाल को एक साथ ही पानी में धो ले। उन्हें 3-5 लीटर क्षमता वाले स्टील या एल्यूमीनियम प्रेशर कुकर में डाले। 2- कप पानी और नमक डाले और कुकर का ढक्कन बंद करे। उसे मध्यम आंच पर 4-सीटियां बजने तक या दाल को नरम होने तक पकाइये। गैस बंद कर दें और कुकर का प्रेशर ख़त्म होने दे। ढक्कन खोलें और पकी हुई दाल को एक बाजू रख दे।
एक पैन में मध्यम आंच पर 2 -टीस्पून घी/ तेल गर्म करें। कटा हुआ प्याज डाले और हल्के भूरे रंग का होने तक भूने। अदरक-लहसुन का पेस्ट और कटी हुई हरी मिर्च डाले और 30-40 सेकंड के लिए भूने। लहसुन जले नहीं उसका ध्यान रहें।
कटा हुआ टमाटर डाले और नरम होने तक भूने।
हल्दी पाउडर और लाल मिर्च पाउडर डाले और मिला लें।
पकी हुई दाल डाले और मिश्रण को अच्छी तरह से मिला लें।
1 कप पानी डालें और मिश्रण को कलछी से मिला लें। दाल को चख ले और जरुरत के अनुसार नमक डाले।
दाल को मध्यम आंच पर थोड़ी गाढ़ी होने तक (या आपके पसंद की गाढ़ी या पतली) या लगभग 5-6 मिनट के लिए पकने दे, दाल को जलने से रोकने के लिए बीच में कलछी से चलाते रहे। गैस बंद करे और दाल को एक बड़े परोसने के कटोरे में निकालें।
तड़के के लिए एक छोटे पैन में 2-टीस्पून घी गर्म करें। जीरा डाले और उन्हें सुनहरा होने दे। कटा हुआ लहसुन, सूखी लाल मिर्च और हींग डालें।
लहसुन हल्के भूरे रंग का होने लगे तब पैन को गैस पर से हटा दे और तड़के को दाल के ऊपर डाले। हरे धनिये से सजाए और जीरा राईस या उबले हुए चावल के साथ परोंसे।

सेव की सब्ज़ी

सेव टमाटर की सब्जी एक खट्टी मीठी लोकप्रिय गुजराती सब्जी है जो टमाटर, सेव, प्याज और अन्य भारतीय मसालों के साथ बनाई जाती है। इस विधि में पहले टमाटर और प्याज को तेल में भूना जाता है और बाद में उसमें थोड़ा पानी और मसाले डालकर पकाया जाता है और अंतिम स्टेप में सेव डाली जाती है। तो आज यह सब्जी बनाये और परांठा और छाछ के साथ शाम के भोजन में परोसे।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 10 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
अंग्रेज़ी में सेव टमाटर की सब्जी रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
5 मध्यम आकार के लाल पके टमाटर, कटे हुए
1/2 कप नायलॉन सेव या मोटी सेव
1/2 टीस्पून जीरा
1/4 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1 मध्यम प्याज, बारीक कटा हुआ, वैकल्पिक
1 टीस्पून अदरक-लहसुन का पेस्ट
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
2 टीस्पून चीनी
1/2 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर
1 टीस्पून धनिया पाउडर
1/4 टीस्पून गरम मसाला पाउडर, वैकल्पिक
2 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया
2 टेबलस्पून तेल
नमक स्वादानुसार
1/2 कप पानी
विधि:-
एक कड़ाही में मध्यम आंच पर तेल गरम करें। उसमें राई (सरसों के बीज) और जीरा डालें; जब राई के बीज फूटने लगे तब उसमें कटा हुआ प्याज डालें और उसे हल्के भूरे रंग का हो जाने तक भूने। अदरक-लहसुन का पेस्ट और कटी हुई हरी मिर्च डालें और 15-20 सेकंड के लिए भूने।
कटा हुआ टमाटर डालें और एक मिनट के लिए भूने।
नमक, चीनी और हल्दी पाउडर डालें। अच्छे से मिला ले और 2-3 मिनट के लिए मध्यम आंच पर पकाएं।
1/2 कप पानी डालें और अच्छे से मिला ले। जब तक टमाटर नरम हो जाते है तब तक (करीब 4-5 मिनट तक) धीमी आंच पर पकाएं। कभी कभी बीच में चमचे से चलाते रहें।
लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला पाउडर, धनिया पाउडर और सेव डालें।
अच्छी तरह मिला ले और 1-2 मिनट पकने दें। गैस बंद कर दें।
सेव टमाटर की सब्जी को एक परोसने के कटोरे में निकाले और हरे धनिया से सजाये। इसे चपाती, थेपला या पराठा के साथ गरम परोसें।

मूंगफली की चिक्की

मूंगफली की चिक्की, मूंगफली और गुड़ से बनी एक स्वादिष्ट पारंपरिक मिठाई है जो अकेले या नमकीन नाश्ते के साथ बढ़िया लगती है और यह बच्चो को चॉकलेट के बदले देने लिए एकदम सही है। इस चिक्की बनाने की विधि में गुड़ का उपयोग हुआ है। हालांकि, अगर आप इसे चीनी के साथ भी बना सकते है, इसके लिए नीचे दिए गए सुझावों का पालन करें।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 4
सामग्री:
1 कप मूंगफली के दाने
3/4 कप गुड़, कसा हुआ या बारीक कटा हुआ
1 टेबलस्पून घी
चीनी का उपयोग करके चिक्की बनाने के लिए यह लिंक का पालन करें – चीनी का उपयोग करके चिक्की बनाने की विधि
गुड़ का उपयोग करके चिक्की बनाने की विधि:-
मूंगफली को एक भारी तले वाली कड़ाही में मध्यम आंच पर 5-6 मिनट के लिए भूने। जलने से रोकने के लिए और अच्छे से भूनने के लिए लगातार चमचे से हिलाते रहो।
भूने हुए मूँगफली के दाने को 3-4 मिनट के लिए ठंडा होने दें। जब वे थोड़े गर्म हो तभी उन्हें रगड़ के छिलके हटा दे और हिस्सों में तोड़े।
एक बड़ी थाली की पीछे की सतह और बेलन को तेल/घी लगाकर चिकना कर लें। आप चिक्की को बेलने के लिए थाली के बदले किचन के काउंटर टॉप पे भी तेल लगा सकते है।
एक भारी तले वाली कड़ाही में मध्यम आंच पर घी गरम करें। उसमे गुड़ डालें और लगातार चमचे से हिलाते रहे।
जब गुड़ घुल जाये, उसके बाद उसे धीमी आंच पर लगातार चमचे से हिलाते हुए 4-5 मिनट के लिए पकाईये।
गुड़ पक गया हैं या नहीं उसकी जांच करने के लिए एक छोटी पानी से भरी कटोरी में गुड़ की छोटी सी बूंद डालें। अगर गुड़ पानी में तुरंत ही पिघलता नहीं है तो वे पक गया है अन्यथा कुछ और समय के लिए इसे पकाइये।
गैस बंद करें और मूंगफली डालें। जब तक सभी मूंगफली गुड़ से अच्छे से लपेट जाती है तब तक पकाईये।
पहले से चिकनी की हुई सतह पर मिश्रण डालें।
जल्दी से बेलन का उपयोग करके मिश्रण को फैला दें और लगभग 1/3-इंच मोटाई रखें।
तुरंत ही चाकू से लगभग 2 इंच के चोकोर टुकड़ो में काट ले।
जब ठंडा हो जाये तब उसे टुकड़ों में तोडे और कंटेनर में भर दें। मूंगफली और गुड़ की चिक्की तैयार है।

आलू की सब्ज़ी(बटाटा नु शाक)

हर गुजराती थाली में एक आम सब्जी होती है, आलू की सब्जी (बटाटा नु शाक)। यह आलू की तरी वाली (ग्रेवी वाली) पारंपरिक गुजराती सब्जी है जो अक्सर पुरी या थेपला के साथ खाने में परोसी जाती है। इसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है। तो आईये आज हम आलू की सब्जी बनाना सीखते हैं।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 23 मिनट
कितने लोगो के लिए:4
सामग्री:
2½ कप छिले और कटे हुए आलू के टुकड़े
1/4 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1/2 टीस्पून जीरा
2 टीस्पून हरी मिर्च-अदरक का पेस्ट
1 टमाटर, कटा हुआ
1 चुटकी हींग
1/2 टीस्पून हल्दी पाउडर
1 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
2 टीस्पून धनिया-जीरा पाउडर
1 टीस्पून चीनी (वैकल्पिक)
2 टेबलस्पून तेल
1½ टेबलस्पून ताजा हरा धनिया, कटा हुआ
1¼ कप पानी
नमक
विधि:-
एक भारी तले वाली कड़ाही में मध्यम आंच पर तेल गरम करें। उसमे राई (सरसों के बीज) डालें; जब वे फूटने लगे तब उसमें जीरा, हींग और हरी मिर्च-अदरक का पेस्ट डालें। अच्छी तरह से मिला लें।
आलू के टुकड़े डालें और 3-4 मिनट के लिए भूने।
कटा हुआ टमाटर, नमक और चीनी डालें और 3 मिनट के लिए भूने।
लाल मिर्च पाउडर और हल्दी पाउडर डालें और 1 मिनट के लिए भूने।
1¼ कप पानी डालें और मध्यम आंच पर मिश्रण को उबालें। जब यह उबलने लगे तब, आंच को कम कर दे और मध्यम आंच पर ढककर पकने दे, हर 4-5 मिनट पे उसे चमचे से हिलाये।
इसे पूरी तरह से पकने में लगभग 10-15 मिनट का समय लगेगा। यदि आवश्यक हो तो अधिक पानी डालें और कुछ और मिनट के लिए पकने दें। (पकाने का समय और पानी आलू के प्रकार और पैन की मोटाई के अनुसार भिन्न हो सकते हैं।)
धनिया-जीरा पाउडर डालें, मिश्रण को अच्छी तरह से मिला लें। गैस बंद करें। सब्जी को हरे धनिया से सजाये। आलू की सब्जी परोसने के लिये तैयार है।

ककड़ी या खीरे का रायता

ककड़ी का रायता सभी प्रकार के भारतीय खाने के साथ बढ़िया लगता है और न्यूनतम सामग्री के साथ बस कुछ ही मिनटों में बन जाता है। आम तौर पर गर्मी के मौसम ककड़ी का रायता दोपहर के खाने के साथ परोसा जाता है। इसे बनाने के लिए गाढ़ा दही, खीरा (ककड़ी), हरी मिर्च, जीरा पाउडर और नमक ही चाहिए। तो आइए आज हम रायता बनाना सीखते हैं।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
सामग्री:
1 कप मोटा दही (गाढ़ा दही)
1/2 छोटी ककड़ी
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1/2 टीस्पून जीरा पाउडर
1 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया
नमक
विधि:-
ककड़ी को पानी से धो लें। ककड़ी को चख लें क्योंकि कई बार यह कड़वी होती है। उसे छील कर दो हिस्सो में काटे और बीज निकाल दें। अगर बहुत बड़े बीज नहीं है तो उन्हें निकालने की जरुरत नहीं है। उसे कद्दूकस कर लें।
छोटी कटोरी में दही लें। उसमे नमक डालें और दही को चम्मच या वायर व्हिस्क से फेंट लें।
फेंटे हुए दहीं में कसा हुआ खीरा और हरी मिर्च डालें। अच्छी तरह से मिला लें।
रायते को परोसने के कटोरे में निकालें और जीरा पाउडर और हरे धनिया से सजाये।

पुदीने का रायता

पुदीना का रायता बनाने में आसान और झटपट से तैयार होने वाला एक भारतीय व्यंजन है जो आम तौर पे दोपहर या रत के खाने के साथ परोसा जाता है। इसे बनाने के लिए ताजे पुदीना के पत्ते, दही और कुछ मसाले ही चाहिये। यह भरवां परांठे, विभिन्न प्रकार के पुलाव और वेज बिरयानी के साथ बढ़िया लगता है। तो आईये आज हम इस रेसिपी (विधि) का पालन करके कुछ ही मिनटों में पुदीना का रायता बनाना सीखते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 7 मिनट
कितने लोगो के लिए:3-4
सामग्री:
1¼ कप दही
1/2 कप पुदीना के पत्ते
2 टेबलस्पून कटा हुआ हरा धनिया, वैकल्पिक
1/2 – 1 टीस्पून चीनी
नमक स्वाद अनुसार
एक चुटकी काला नमक, वैकल्पिक
1/2 टीस्पून भुना हुआ जीरा पाउडर
1/4 कप बारीक कटा हुआ प्याज, वैकल्पिक
विधि-
एक मिक्सर ग्राइंडर के छोटे जार में 1/2 कप पुदीना के पत्ते, 2 टेबलस्पून हरा धनिया, 2 टेबलस्पून दही, 1 टीस्पून चीनी और नमक लें।
उन्हें पीस कर चिकनी प्यूरी बना लें।
एक कटोरी में शेष 1 कप + 2 टेबलस्पून दही लें।
उसे एक चम्मच या व्हिस्क से फैंट लें।
स्टेप-2 में बनायीं हुई पुदीना की प्यूरी, 1/2 टीस्पून भुना हुआ जीरा पाउडर और एक चुटकी काला नमक डालें।
अच्छी तरह से मिलाएं।
1/4 कप बारीक कटा हुआ प्याज डालें और अच्छी तरह मिलाएँ। पुदीना का रायता परोसने के लिए तैयार है। इसे वेजिटेबल बिरयानी या अपनी पसंद के पुलाव के साथ या लंच या डिनर में परोसें।

बैंगन की चटनी

बैंगन की चटनी एक स्वादिष्ट और चटपटी दक्षिण भारतीय चटनी है, जिसे बैंगन, मूंगफली, लहसुन, इमली और अन्य मसालों के साथ बनायीं जाती है। यह पराठे, चावल, रोटी, चपाती, इडली, डोसा, वड़ा, आदि के साथ परोसी जाती है। इस रेसिपी (विधि) का पालन करके यह चटनी बनाना सीखे।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 15 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
सामग्री:
4-5 छोटे या 1 बड़ा बैंगन
1 चुटकी हींग, वैकल्पिक
1/2 टीस्पून जीरा
2 सूखी लाल मिर्च
4-5 करी पत्ते
1 टेबलस्पून मूँगफली के दाने
2-3 लहसुन की कलियां, बारीक़ कटी हुई
1/2 टीस्पून कटा हुआ या कसा हुआ अदरक
1 टीस्पून इमली बीजरहित (या 1 टीस्पून इमली का पेस्ट)
1 छोटा टमाटर, बारीक कटा हुआ, वैकल्पिक
1 टीस्पून कसा हुआ गुड़
1 टेबलस्पून तेल
नमक स्वाद अनुसार
तड़के के लिए:
1/2 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1/4 टीस्पून उड़द की दाल
1/2 सूखी लाल मिर्च
3-4 करी पत्ते
2 टीस्पून तेल
विधि:
बैंगन को पानी से धो लें और पोंछ लें। उसका डंठल निकाल दे और छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। उन्हें काले होने से (भूरे रंग के होने से) रोकने के लिए पानी से भरे एक कटोरे में डालें।
एक कड़ाही में मध्यम आंच पर 1 टेबलस्पून तेल गरम करें। उसमे हींग, जीरा, सूखी लाल मिर्च और मूंगफली के दाने डालें और एक मिनट के लिए भूने। कटा हुआ लहसुन, कटा हुआ अदरक और इमली डालें।
लहसुन हल्के भूरे रंग का हो जाता है तब तक भूने।
कटा हुआ बैंगन और नमक डालें।
अच्छी तरह से मिला ले और जब तक बैंगन नरम हो जाते है तब तक ढककर पकने दे, इसमें लगभग 5-7 मिनट का समय लगेगा।
कटा हुआ टमाटर डालें और अच्छी तरह से मिलाएँ।
टमाटर नरम हो जाते है तब तक भूने। गैस बंद कर दें और कसा हुआ गुड़ डालें। अच्छी तरह से मिला ले और मिश्रण को कुछ मिनट के लिए कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें।
उसे मिक्सर ग्राइंडर की छोटी जार में डालें और नरम पेस्ट बना लें। उसे एक परोसने के कटोरे में निकाले।
तड़का तैयार करने के लिए, उसी कड़ाही में 2-टीस्पून तेल गरम करें। उसमे राई (सरसों के बीज) डालें। जब वे फूटने लगे तब उड़द की दाल डालें और दाल हल्के भूरे रंग की हो जाती है तब तक भूने। सूखी लाल मिर्च और करी पत्ते डालें। 20-30 सेकंड के लिए भूने।
तैयार तड़का को तुरंत ही चटनी के ऊपर डालें। बैंगन की चटनी परोसने के लिए तैयार है।

भटूरा

भटूरा एक फूली हुई और तली हुई रोटी है जो बहुत ही लोकप्रिय व्यंजन पंजाबी छोले के साथ परोसी जाती है। वैसे तो भटूरे पूरी के जैसे ही बनते है लेकिन दोनों में काफी फर्क होता है। भटूरे मैदे से बनते है और इसके आटे को फरमेंट किया जाता है जिससे यह पुरी की तुलना में बहुत ही मुलायम बनते है जबकि पुरी गेहू के आटे या मैदे में से बनती है और इसके आटे को फरमेंट नहीं किया जाता है। इस आसान रेसिपी का पालन करके बड़ी ही सरलता से घर पर भटूरे बनाये और पंजाबी छोले और प्याज के सलाद के साथ लंच या डिनर में परोसें।
पूर्व तैयारियों का समय: 4 घंटे
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 4
अंग्रेज़ी में भटूरा रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
2 कप मैदा
1 टेबलस्पून सूजी (रवा)
2 टेबलस्पून तेल
4 टेबलस्पून दही
1 टीस्पून चीनी
1/4 टीस्पून बेकिंग पाउडर
तेल (तलने के लिए)
नमक
पानी
विधि
मैदा और सूजी को परात में छान लें। चीनी, नमक, दही, बेकिंग पाउडर और 2 टेबलस्पून तेल डाले और अच्छी तरह से मिलाएं।
थोड़ा थोड़ा पानी डाले और नरम आटा गूंध लें।
आटे को एक गीले मलमल के कपड़े से या प्लेट से ढके और 3-4 घंटे के लिए हल्के गर्म स्थान पर रखें। 3-4 घंटों के बाद आप को दिखेगा कि आटा फूल कर बढ़ गया है। फिर से उसे गूंध ले।
आटे को 12 बराबर भागों में बाँट ले और हर एक भाग में से गोला बनाईये।
एक गोला ले, उसे दबाकर लोई बनाइये और उसमें से लगभग 5-6 इंच व्यास की गोल पुरी बेले। (यदि आवश्यकता हो तो लोई को चकले से चिपकने के लिये चकले के ऊपर तेल लगाये या सूखा आटा छिड़के।) सभी गोले में से पुरी बेल ले।
एक गहरी फ्राइंग पैन (या कढ़ाई) में मध्यम आंच पर तलने के लिए तेल गर्म करें। तेल मध्यम गर्म हो गया है कि नहीं यह जाँच करने के लिए गर्म तेल में आटे का एक छोटा सा टुकड़ा डाले और अगर वह कलर बदले बिना तुरंत ही सतह पर आता है तो तेल पर्याप्त रूप से गर्म है। अब तेल में एक बेला हुआ भटूरा डाले। 5-7 सेकंड के बाद, उसे धीरे से पौना या चमचे से दबाये, इससे वह बीच में से फुलने लगेगा।
जब नीचे की सतह हल्के सुनहरे रंग की हो जाये तब उसे पलटे और दूसरी सतह हल्के भूरे सुनहरे रंग की होने तक तले। भटूरे को मध्यम आंच पर ही तले।
जब भटूरा तल जाये तब उसे तेल में से निकाले और एक थाली में रखें। बाकी भटूरे भी इसी तरह तले। गरमा गरम भटूरे को पंजाबी छोले मसाला के साथ परोसें।

मक्के की रोटी

मक्के की रोटी एक लोकप्रिय पंजाबी रोटी है जो मक्का (मकई) के आटे से बनती है और आम तौर पर सरसों के साग के साथ परोसी जाती है। परंपरागत रूप से की रोटी बनाने के लिए लोई को हथेलियों के बीच दबाकर चपटी रोटी के जैसा आकार दिया जाता है और फिर गर्म तवा पर ​​पकाया जाता है। हालांकि, इस पारंपरिक तरीके से रोटी बनाना मुश्किल है और इसे बनाने के लिए कुछ अभ्यास की आवश्यकता है। इसलिए इस रेसिपी में आसानी से मक्की की रोटी को चकले के ऊपर प्लास्टिक रख के कैसे बेली जाती है वो बताया गया है।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
पकाने का समय: 15 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2 (6 रोटी)
सामग्री:
1½ कप मक्के का आटा (मकई का आटा)
2 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया या कद्दूकस मूली
1 टीस्पून अजवायन
गर्म पानी, आटा गूँथने के लिए
नमक स्वाद अनुसार
तेल या घी, शैलो फ्राई करने के लिए
नोट: पीले रंग का मकई का आटा का इस्तेमाल करें। मकई के सफ़ेद रंग के स्टार्च का उपयोग न करें।
विधि:-
एक परात में मक्के के आटे को छान लें।
उसमे बारीक कटा हुआ हरा धनिया, अजवायन और नमक डालें। उसमें थोड़ा थोड़ा करके गर्म पानी डालें और थोड़ा सख्त और मुलायम आटा गूंथे (पराठे के आटा की तरह)।
उसे 6 बराबर भागों में बाँट ले। अपनी हथेलियों को पानी से गीली करे और प्रत्येक भाग को गोल आकार दें। एक प्लास्टिक की जिपलॉक बैग ले और उसे दोनों तरफ से काट लें। उसे चकले के ऊपर रखें और उसके ऊपर एक आटे का गोला रखे। एक तवे को मध्यम आंच पर गर्म करें।
आटे के गोले को दबाकर लोई का आकार दे और उसे कटी हुई प्लास्टिक बैग के दूसरे हिस्से से ढके। उसे अब बेलन से गोल आकार की थोड़ी मोटी रोटी में बेल लें।
ऊपर से प्लास्टिक निकालें और रोटी को तस्वीर में दिखाया गया है वैसे अपनी हथेली पर उल्टा करके डालें।
अब आसानी से ऊपर से प्लास्टिक को हटा दें।
गर्म तवे के ऊपर रोटी डालें और उसे एक मिनट के लिए पकने दें।
उसे पलटें और उसके ऊपर समान रूप से तेल लगा दें।
फिर, एक मिनट के बाद उसे पलटे और दूसरी तरफ तेल लगा दें। उसे पलटे और दोनों तरफ हल्के सुनहरे रंग की चित्ती आने तक सेकें।
उसे एक प्लेट में निकाले और इस के उपर मक्खन फैला दें। इसे गरमा गरम सरसों के साग के साथ परोसें। जब मक्की की रोटी ठंडी हो जाती है तो नरम नहीं रहती है इसलिए उसे गर्म ही परोसें।

बटर कुलचा


बटर कुलचा एक लोकप्रिय भारतीय रोटी/ ब्रेड है जो आम तौर पर तंदूर में पकाई जाती है और रेस्टोरंट में पंजाबी खाने के साथ परोसी जाती है। क्योंकि इसे पकाने के लिए तंदूर की आवश्यकता होती है, कई लोगों का मानना ​​है कि इसे आसानी से घर पर बना नहीं सकते। हालांकि, इस रेसिपी की मदद से आप बिना यीस्ट (खमीर) का इस्तेमाल करे तवे पर ही रेस्टोरंट जैसा मुलायम कुलचा बना सकेंगे।
पूर्व तैयारियों का समय: 2½ घंटे
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3 (6 कुलचा)
सामग्री:
1½ कप मैदा
1/2 टीस्पून बेकिंग पाउडर
1½ टीस्पून चीनी
1½ टेबलस्पून दही
1½ टेबलस्पून तेल
3 टेबलस्पून दूध
नमक स्वाद अनुसार
गर्म पानी, आटा गूंधने के लिए
1 टेबलस्पून काले तिल या कलौंजी
3 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया, वैकल्पिक
बटर, जरूरत अनुसार
नोंध:
इस विधि में घर पर ही तंदूरी स्वाद वाले कुलचे बनाने के लिए कुलचा को सीधे गैस की फ्लेम पे पकाया गया है। हालांकि, अगर आप को यह विधि मुश्किल लगती है तो आप इसे पराठे की तरह भी सेक सकते है।
कुलचा बनाने के लिए नॉन-स्टिक तवा का उपयोग ना करें, क्योंकि बेल हुआ कुलचा तवे से अछि तरह चिपकेगा नहीं। अगर हो सके तो लोहे के तवा का इस्तेमाल करें।
विधि:-
एक परात में मैदा, बेकिंग पाउडर और नमक एक साथ छान लें। इसमें चीनी, दही, दूध और तेल डालें। अच्छी तरह से मिला लें।
इसमें आवश्यकता अनुसार थोड़ा थोड़ा गर्म पानी डालें और नरम आटा गूंध लें।
आटे को एक नम कपड़े से ढके या परात को प्लास्टिक या प्लेट से ढके और 2 घंटे के लिए सेट होने दे।
दो घंटे के बाद, आटे को फिर से गूंधे। आटे को 6 बराबर भागों में बाँटे और उन्हें गेंद की तरह गोल आकार दे। एक गोला ले और उसे अपनी हथेलियों की बीच दबाकर लोई का आकार दें। एक थाली में थोड़ा सूखा मैदा ले। लोई को सूखा मैदा से लपेटे और चकले के ऊपर रखें।
उसे बेलन से 3-4 इंच व्यास के गोल आकार में बेल ले। इस पर कुछ तिल और हरा धनिया छिडके और हाथ से उसे दबाइये।
उसे फिर से एक 6-7 इंच व्यास के गोल आकार (पराठा से थोड़ा मोटा) या एक अंडाकार आकार में बेल ले। अगर इसका आकार पूरी की तरह गोल नहीं है तो चिंता मत करें।
उसे उल्टा करे और ऊपर की बाजू ब्रश या गीले हाथ से थोड़ा पानी लगाये।
एक तवे को मध्यम आंच पर गर्म करें (नॉन-स्टिक तव का इस्तेमाल मत करें)। जब तवा मध्यम गर्म हो तब उसके ऊपर कच्चा कुलचा डालें (तिल वाली बाजू ऊपर रखे)। थोड़ी ही देर में सतह पर बुलबुले दिखने लगेगे।
जब बुलबुले दिखाई देते हैं तब तवे को उल्टा करे और गैस की फ्लेम के 2-3 इंच ऊपर रखे (सामान्य गैस या इलेक्ट्रिक स्टोव)। तवे को दायें बांये हिलाते हुए सतह पर भूरे रंग की चित्ती (धब्बे) आने तक सेकें। अगर आप इलेक्ट्रिक स्टोव का उपयोग कर रहे हैं तो स्टोव के ऊपर जाली रखे और फिर तस्वीर में दिखाया गया है वैसे तवा फ्लेम के ऊपर रखे।
कुलचे को जलने से रोकने के लिए तवा को थोड़ी थोड़ी देर में उठाकर (जैसा कि इस तस्वीर में दिखाया गया है) देखते रहें।
जब कुलचा के ऊपर अच्छे से भूरे रंग की चित्ती आ जाये तब इसे गैस से हटा दें।
अब कुलचा आसानी से पलटे की मदद से निकल जायेगा।
कुल्चा पर बटर लगाये और पनीर बटर मसाला के साथ परोसें। इसी प्रक्रिया को दोहराएँ और बाकी बचे आटे में कुलचे बना लें।

पूरन पोली

पूरन पोली को किसी परिचय की जरूरत नहीं है, कभी ना कभी सभी भारतीय ने अपने जीवन में इस मीठी रोटी का लुफ्त उठाया ही होगा। पुरे भारत में अलग अलग राज्यो में यह विभिन्न तरीको से बनायीं जाती है। इस विधि (रेसिपी) में हमने भराई के लिए तुअर दाल से बना इलायची के स्वाद वाला पुरन बनाया है और इसमें बहुत छोटी मात्रा में सुगंध के लिये जायफल के पाउडर भी डाला है। तो आईये आज हम इस विधि की मदद से पुरन पोली बनाना सीखते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 30 मिनट
पकाने का समय: 1 घंटा
कितने लोगो के लिए:3
सामग्री:
3/4 कप तुअर दाल (अरहर की दाल)
3/4 कप शक्कर या गुड़
1/2 टीस्पून इलायची का पाउडर
1/8 टीस्पून जायफल का पाउडर, वैकल्पिक
2 टेबलस्पून घी + परोसने के लिए
1 कप गेहूं का आटा + बेलने के लिए
1½ टेबलस्पून तेल
पूरन (भराई) बनाने की विधि:-
तुअर दाल को पानी से 2-3 बार धो लें और 30 मिनट के लिए पानी में भिगो दें। दाल में से अतिरिक्त पानी निकाल दें और उसे एक प्रेशर कुकर (4-5 लीटर) में डालें। 1½ कप पानी डाले और कुकर का ढक्कन बंद करें। उसे मध्यम आंच पर 3 सीटी होने तक पकाईये। कुकर के अंदर के प्रेसर को ख़त्म होने दें। कुकर का ढक्कन खोले और अतिरिक्त पानी निकाल दें।
दाल को चमचे से मैश कर लें। एक कड़ाही या नॉन-स्टिक पैन में दाल, चीनी या गुड़ और घी डालें और मध्यम आंच पर पकने के लिए रखें। उन्हें अच्छी तरह से मिला लें।
उसे लगातार चमचे से चलाते हुए मिश्रण गाढ़ा हो जाये तब तक पकाईये। इसमें लगभग 15-20 मिनट का समय लगेगा।
पूरन गाढ़ा हो गया है या नहीं यह जाँच करने के लिए उसमे पलटा आ चम्मच खड़ी रखे और अगर पलटा तुरंत गिर नहीं जाता है तो यह तैयार है। अन्यथा चमचे से चलाते हुए और 3-4 मिनट के लिए पकाईये। इलायची पाउडर और जायफल पाउडर डालें और अच्छी तरह मिला लें। गैस बंद कर दें और मिश्रण कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें। उसे 6 बराबर भागों में बाँट लें।
पूरन पोली बनाने की विधि:-
एक परात में गेहूं का आटा लो और तेल डालें। आवश्यकता के अनुसार पानी डालें और नरम आटा गूंध लें। आटे को ढके और 15 मिनट के लिए सेट होने दें। 15 मिनट के बाद, इसे फिर से गूंधे और 6 बराबर भागों में बाँट लें।
हरेक भाग में से गोला बनाइये और उसे अपनी हथेलियों के बिच दबाकर लोई का आकार दें। एक लोई ले और उसे सूखे आटे से लपेटे। उसे चकले के ऊपर रखे और बेलन से 4-5 इंच व्यास की गोल पूरी बेल ले। पुरी के बीच में पूरन रखें।
बेली हुई पुरी की किनारों चारो और से उठाकर पुरन को लपेटें और किनारो को सील करें। अतिरिक्त आटा निकाल दे और उसे गोल आकार दे।
उसे धीरे से दबाकर लोई का आकार दें और सूखे आटे से लपेटें।
इसे लगभग 6-7 इंच व्यास के गोल आकार में बेल लें।
एक तवे को मध्यम आंच पर गर्म करें। जब तवा मध्यम गर्म हो तब उसके ऊपर कच्ची पूरन पोली रखें। जब नीचे की सतह पर सुनहरे भूरे रंग के धब्बे दिखाई देते हैं तब उसे पलटें। अब दूसरी तरफ भी भूरे रंग के धब्बे होने तक पकाईये। अगर जरुरत लगे तो फिर से उसे एक बार पलटे और दोनों तरफ सुनहरे भूरे रंग के धब्बे आने तक पकाईये।
उसे एक प्लेट में निकाले और दोनों बाजू घी लगाईये। इसी तरह बाकी की पुरन पोली भी बना लें।

वेजिटेबल पराँठा

वेजिटेबल पराठा एक स्वादिष्ट और पौष्टिक भारतीय व्यंजन है जो ताजा सब्जियों और गेहूं के आटे से बनता है और आम तौर पर सुबह के नाश्ते में या शाम के खाने में परोसे जाते है। अगर आपके बच्चे को या घर में किसी भी सदस्य को सब्जियां पसंद नहीं आती है तो यह एक सब्जियों खिलाने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है। इसे बनाने के लिए पहले विभिन्न सब्जियो को भूना गया है। बाद में सब्जियों को गेहूं के आटे के साथ मिला के पराठे का आटा गूंथा गया है और फिर उसमें से पराठा बनाके पकाया गया है। इस विधि(रेसिपी) का पालन करके देखे कि कैसे आसानी से स्वादिष्ट परांठे घर पर बनाये जाते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 25 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
अंग्रेज़ी में वेजिटेबल पराठा रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
1 कप + 1/2 कप गेहूं का आटा
1/4 कप कद्दूकस किया हुआ गाजर
1/2 कप कद्दूकस कियी हुई पत्ता गोभी
1/4 कप बारीक कटी हुई शिमला मिर्च
2 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा प्याज या सादा प्याज
2 टेबलस्पून बारीक कटी हुई मेथी, वैकल्पिक
1 टीस्पून अदरक-लहसुन का पेस्ट
1/2 टीस्पून हल्दी पाउडर
1/4 कप हरी मटर के दाने, उबले हुए और मैश किए हुए
1 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1/4 टीस्पून गरम मसाला पाउडर
1 टीस्पून धनिया पाउडर
1/2 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
2½ टीस्पून तेल + शैलो फ्राई करने के लिये
नमक स्वादानुसार
विधि:-
एक नॉन स्टिक पैन में मध्यम आँच पर 1-टीस्पून तेल गरम करें। उसमे गाजर, गोभी, शिमला मिर्च, हरा प्याज, मेथी के पत्ते और अदरक-लहसुन का पेस्ट डालें। अगर आप सादा प्याज का उपयोग कर रहे है तो पहले उसे 1-मिनट के लिए भून लें और बाद में सारी सब्जियां डालें।
नमक और हल्दी पाउडर डाले और अच्छे से मिला लें। सब्जिया नरम हो जाये तब तक भूने, इसमें लगभग 3-4 मिनट का समय लगेगा। मैश किए हुए हरी मटर के दाने डालें।
अच्छी तरह मिक्स करें और गैस बंद कर दे। सब्जियों को 5 मिनट के लिए ठंडा होने दें।
एक परात में 1 कप गेहूं का आटा, 1 टीस्पून तेल और नमक डालें। उसमें पकी हुई सब्जियों का मिश्रण, कटा हुआ हरा धनिया, कटी हुई हरी मिर्च, लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला पाउडर और धनिया पाउडर डालें। उन्हें अच्छे से मिला लें।
जरुरत के अनुसार थोड़ा थोड़ा पानी डाले और नरम लेकिन थोड़ा सख्त आटा (पराठा के आटा की तरह) गूंध लें। आटे के उपर 1/2 टीस्पून तेल डालें और उसकी सतह को तेल लगाकर चिकना कर लें। आटे को ढके और 10 मिनट के लिए सेट होने दें।
10 मिनट के बाद, आटे को 8 बराबर भागों में बाँट लें और हरेक भाग को गेंद की तरह गोल आकार दे।
एक छोटी थाली में परोथन के लिये 1/2 कप सूखा गेहूं का आटा ले। एक आटे का गोला लो और उसे अपनी हथेलियों के बिच दबाकर लोई बनाईये। उसे सूखे आटे से लपेट लें और चकले के ऊपर रखें।
उसे बेलन से लगभग 6-7 इंच व्यास के गोल आकार में बेल लें।
एक तवे को मध्यम आंच पर गर्म करें। जब तवा मध्यम गर्म हो तब उसके ऊपर कच्चा पराठा रखें। जब पराठे की सतह पर छोटे बुलबुले दिखने लगे तब उसे पलटे और आंच को कम कर दें।
पलटे (तवेथा) से उसकी सतह पर 1/2 टीस्पून तेल समान रूप से फैला दें और लगभग 30-40 सेकंड के लिए सिकने दें। इसे फिर से पलटें। आंच को मध्यम कर दे और इसकी सतह पर 1/2 टीस्पून तेल फैला दे। पलटे से उसे दबाएँ और 30-40 सेकंड के लिए सेके। उसे तब तक पकाइये जब तक कि दोनों तरफ सुनहरे भूरे रंग के धब्बे दिखाई दे।
बाकी के पराठे भी इसी तरह बना लें। मिक्स वेजिटेबल के पराठे तैयार है। उन्हें दही और अचार के साथ परोसें।

मलाई पनीर रेसिपी

मलाई पनीर, इस पंजाबी सब्जी के नाम के अनुसार ही इसमें पनीर को बादाम, काजू, प्याज, ताजा क्रीम और मसालों से बनी मखमली और मसालेदार ग्रेवी में पकाया गया है। अगर आप घर पर पार्टी का आयोजन कर रहे हैं या पनीर की स्वादिष्ट सब्जी शाम के खाने के लिए बनाना चाहते है तो यह सब्जी एक आदर्श विकल्प है। नीचे दी गई इस आसान रेसिपी (विधि) की मदद से मलाई पनीर घर पर बनाना सीखे।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 15 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
अंग्रेज़ी में मलाई पनीर रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
150 ग्राम पनीर
1/4 कप ताजा क्रीम
1/2 टीस्पून कसूरी मेथी (सूखे मेथी के पत्ते)
1 मध्यम प्याज, बारीक कटा हुआ
4 बादाम
4 काजू
1/2 टीस्पून कसा हुआ अदरक
2-3 लहसुन की कलियाँ, पेस्ट बना लें
1/4 टीस्पून गरम मसाला पाउडर
1/8 टीस्पून हल्दी पाउडर
1 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
1 टीस्पून धनिया पाउडर
2 टेबलस्पून + 1 टेबलस्पून तेल
पानी
1 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया
नमक
विधि
काजू और बादाम को मिक्सी की छोटी जार में पीस कर पाउडर बना ले और उसे एक छोटी कटोरी में निकाले। पेस्ट बनाने के लिए उसमे 2 टेबलस्पून पानी डालें और अच्छे से मिला लें।
पनीर को 1.5 इंच लंबे और 0.5 इंच मोटे टुकड़ो में या 0.5 इंच मोटे त्रिकोण आकार में काट लें। एक नॉन-स्टिक पैन (या कड़ाही) में मध्यम आंच पर 2 टेबलस्पून तेल गर्म करें। उसमें पनीर के टुकड़े डालें और उन्हें हल्का सुनहरा रंग का होने तक शैलो फ्राई कर लें। उन्हें एक प्लेट में निकाल दें।
उसी पैन में मध्यम आंच पर बाकी बचा 1 टेबलस्पून तेल गर्म करें। उसमे बारीक कटा हुआ प्याज डालें और उसे हल्के भूरे रंग का होने तक भून लें। इसमें लगभग 1-2 मिनट का समय लगेगा। कसा हुआ अदरक और लहसुन का पेस्ट डालेंं और एक मिनट के लिए भूने।
लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर और नमक डालेंं। अच्छे से मिला ले और लगभग 30 सेकंड के लिए भूने।
काजू-बादाम का पेस्ट (स्टेप-1 में बनाई हुई) डालेंं और एक मिनट के लिए भूने।
1/2 कप पानी डालें और मिश्रण को उबालने रखे।
जब मिश्रण उबलने लगे तब आंच को कम कर दें और पनीर, गरम मसाला पाउडर और सूखे मेथी के पत्ते डालेंं।
अच्छे से मिला ले और 3 से 4 मिनट के लिए पकने दें। 1/4 कप ताजा क्रीम डालें।
अच्छी तरह से मिलाएं और एक मिनट के लिए पकने दे। क्रीम डालने के बाद सब्जी को लंबे समय तक मत पकाइये क्योंकि क्रीम फट सकता है।
गैस बंद कर दें और सब्जी को परोसने के एक कटोरे में निकाले। मलाई पनीर को हरे धनिया से सजाये और गरमागरम परोसें।

बादाम की खीर

बादाम की खीर एक बेहतरीन भारतीय मीठा है जो बादाम, दूध और चीनी से बनता है। इसमें अतिरिक्त स्वाद और महक के लिए थोड़ा सा घी, केसर और इलायची का पाउडर भी डाला जाता है। केसर का उपयोग न केवल एक अच्छी खुशबू प्रदान करता है लेकिन साथ में अच्छा रंग भी देता है। यह जल्दी से बन जाने वाला मीठा बादाम की वजह से बच्चों के लिए उपयुक्त व्यंजन है। इस विधि (रेसिपी) का पालन करके जाने के कैसे आसानी से सिर्फ 30 मिनट में इसे घर पर बना सकते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 1 घंटा 10 मिनट
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए:4
सामग्री:
1/2 कप बादाम
1 टेबलस्पून घी, वैकल्पिक
1½ कप दूध
2½ टेबलस्पून चीनी (या स्वाद अनुसार)
1/4 टीस्पून इलायची का पाउडर
4-5 केसर की किस्में
पानी
बादाम को ब्लांच करने की विधि (Badaam Ko Blanch Karne Ki Vidhi Hindi Me):
एक कटोरी में बादाम लें और उसके ऊपर 1 कप उबलता पानी डालें।
उन्हें लगभग 5-6 मिनट के लिए भिगने दें। बादाम को एक कोलंडर या झरनी में डाले और अतिरिक्त पानी निकाल दें। उन्हें 1 कप सामान्य ठंडे पानी से धो लें।
अब, अगर आप बादाम का छिलका निकालेंगे तो वे आसानी से निकल जायेगा। अगर आसानी से बादाम का छिलका नहीं निकलता है तो इसी प्रक्रिया को दोहराये।
ब्लांच की हुई बादाम तैयार हैं।
बादाम की खीर बनाने की विधि (Badaam Kheer Banane Ki Vidhi Hindi Me):
ब्लांच की हुई बादाम को 1/4 कप पानी के साथ पीस ले और बारीक़ पेस्ट बना लें ।
एक नॉन स्टिक पैन या कड़ाही में 1 टेबलस्पून घी गर्म करें। उसमें बादाम का पेस्ट डालें।
उसे धीमी आंच पर लगातार चमचे से चलाते हुए हल्के भूरे रंग का हो जाने तक भूने, इसमें लगभग 5-7 मिनट का समय लगेगा।
दूध डालें और अच्छी तरह से मिला लें। मिश्रण को उच्च आंच पर उबालने के लिए रखें।
जब यह उबलने लगे तब आंच को कम करके मध्यम कर दे। चीनी, केसर की किस्में और इलायची का पाउडर डालें।
उसे लगातार चमचे से चलाते हुए 4-5 मिनट के लिए पकने दें। गैस बंद कर दें और इसे कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें।
इसे परोसने से पहले एक घंटे के लिए फ्रिज में रखे। बादाम की खीर परोसने के लिए तैयार है।

गाजर की खीर

गाजर की खीर बनाने में आसान और झटपट से बनने वाला एक स्वादिष्ट मीठा है जो मिठाई और डिजर्ट दोनों के रूप में परोसा जा सकता है। यह उत्तर भारत में खीर के नाम से और दक्षिण भारत में पायसम के नाम से जाना जाता है। इसे बनाने के लिये ताजे गाजर, जो कि बी कैरोटीन, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है और दूध का उपयोग किया जाता है और मीठा है तो चीनी तो डलती ही है। इसे झटपट बनाने के लिए कन्डेन्स्ड मिल्क का और सुगंध के लिए इलायची पाउडर का उपयोग किया है। तो आइये आज हम इस विधि (रेसिपी) का पालन करके गाजर की खीर बनाते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 15 मिनट
कितने लोगो के लिए:3
सामग्री:
2 मध्यम गाजर या (1 कप कसा हुआ गाजर)
2 टेबलस्पून घी
1½ कप दूध
2 टेबलस्पून कन्डेंस्ड मिल्क
5-6 काजू, टुकड़े कर लें
8-10 किशमिश, वैकल्पिक
1 टेबलस्पून चीनी
1/4 चम्मच इलायची का पाउडर
विधि (Gajar Ki Kheer Banane Ki Vidhi Hindi Me):
गाजर को धो कर छिल ले। उन्हें कद्दूकस कर ले या फ़ूड प्रोसेसर में पीस लें।
एक भारी तले वाली कड़ाही या नॉन-स्टिक पैन में मध्यम आंच पर 2 टेबलस्पून घी गर्म करें। उसमे काजू और किशमिश बारी बारी से डालें और उन्हें भून लें। उन्हें एक प्लेट में निकाले।
उसी कड़ाही में कसा हुआ गाजर डालें और कम आंच पर 4-5 मिनट के लिए लगातार चमचे से चलाते हुए भूने।
दूध डालें और अच्छे से मिला लें। मिश्रण को मध्यम आंच पर उबलने रखें।
जब यह उबलने लगे तब कंडेंस्ड मिल्क डाले और अच्छी तरह से मिला लें। इसे लगभग 5 मिनट के लिए धीमी आंच पर पकने दे, बीच में कभी कभी चमचे से चलाते रहें। चीनी स्वाद के अनुसार डालें। कृपया ध्यान दें कि कंडेंस्ड मिल्क मीठा होता है इसलिए केवल थोड़ी चीनी ही डालें। मिश्रण को थोड़ा गाढ़ा होने तक पकाईये, इसमें लगभग 5 मिनट का समय लगेगा। मिश्रण को जलने से रोकने के लिये लगातार चमचे से चलाते रहें।
इलायची का पाउडर डालें और अच्छी तरह से मिलाएं। गैस बंद कर दे और खीर को ठंडा होने दें।
खीर को कटोरे में निकाले और काजू और किशमिश से सजाये। अपनी पसंद के अनुसार गाजर की खीर गर्म या ठंडा परोसें।

मैंगो शेक

मैंगो (आम) फलो का राजा है और सबकी पसंद का फल है। गर्मियों की मौसम में ताजा आम आसानी से मिल जाता है तो आईये आज हम ठंडा ठंडा मैंगो मिल्क शेक बनाते है। मैंगो शेक (मैंगो मिल्क शेक) पके आम के टुकड़े, दूध और चीनी से बनने वाला एक ठंडा पेय है। चीजों को सरल और आसान रखने के लिए, इस रेसिपी में बताया गया है कि कैसे आम को दूध और चीनी के साथ पीस कर मैंगो शेक बनता है। हालांकि, अगर आप इसमें कुछ नया करना चाहते है तो नीचे दिये गए सुझाव पढ़े।
पूर्व तैयारियों का समय: 5 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
अंग्रेज़ी में मैंगो मिल्क शेक रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
2 बड़े पके आम (लगभग 2 कप कटा हुआ आम)
1½ कप दूध
1½ टेबलस्पून चीनी (या स्वाद अनुसार)
2-3 आइस क्यूब्स, वैकल्पिक
विधि:-
आम को पानी से धो ले। उसे छीलके छोटे छोटे टुकडों में काट ले। उन्हें मिक्सर ग्राइंडर की बड़ी जार में डाले।
उसमें दूध, चीनी (आम की मिठास के अनुसार कम या ज्यादा) और बर्फ के क्यूब्स डाले।
उसे पीस ले। मिश्रण चिकना (स्मूध) होना चाहिए और उसमे आम के टुकड़े नहीं होने चहिये। तैयार मैंगो मिल्क शेक को गिलास में डाले और आइसक्रीम और कतरी हुई बादाम से सजाये।

मिल्क पाउडर से बने गुलाब जामुन

गुलाब जामुन को किसी परिचय की जरूरत नहीं है! पारंपरिक तरीके में गुलाब जामुन मावा (खोया) में से बनाये जाते है लेकिन कई बार ऐसा होता है की मावा दुकान में उपलब्ध नहीं होता है और आपको इसे घर पर बनाने की जरूरत पड़ती है। तो चीजों को आसान बनाने के लिए इस रेसिपी में मिल्क पाउडर (दूध का पाउडर) में से गुलाब जामुन बनाना स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ सिखाया गया है। मावा से बने गुलाब जामुन और मिल्क पाउडर में से बने गुलाब जामुन के बीच मुख्य अंतर यह है कि मावा के जामुन अंदर से स्मूथ (उसकी सतह देखने में सपाट होती है) होते है, जबकि मिल्क पाउडर से बने जामुन में अंदर थोड़े छोटे छोटे छेद (झरझरा) दिखाई देते है।
अगर आप एक ऐसी जगह पर रहते हैं जहां मावा आसानी से उपलब्ध नहीं है या आप इसे घर पर बनाना नहीं चाहते हैं तो हम आपको हर किराने की दुकान पर आसानी से मिलने वाले मिल्क पाउडर में से गुलाब जामुन बनाने कि सलाह देते हैं। हालांकि, इसमें से एकदम सही जामुन बनाने के लिए आपको थोड़ा खाना पकाने का अनुभव चाहिए क्योंकि इसमें एकदम सही आटा बनना चाहिए और सही तरीके से जामुन को तलने होगे। नीचे दिए गए हर एक स्टेप के फोटो, सुझावों और रेसिपी के विस्तृत विवरण के मार्गदर्शन के साथ, आप सिर्फ 30 मिनट में घर पर गुलाब जामुन बना सकते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 20 मिनट
खाना पकाने का समय: 30 मिनट
कितने लोगो के लिए: 9-10 जामुन
अंग्रेज़ी में गुलाब जामुन (मिल्क पाउडर) रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
1 कप शक्कर
3 हरी इलायची
1½ कप पानी
नींबू के रस की 1-2 बूंदें, वैकल्पिक
1/2 कप दूध का पाउडर
1 टेबलस्पून मैदा
1/8 टीस्पून (एक छोटी सी चुटकी) बेकिंग सोडा
1 टेबलस्पून घी
2-3 टेबलस्पून दूध
तेल या घी, तलने के लिए
विधि👉
चाशनी (सिरप) बनाने के लिए एक गहरे बर्तन में 1 कप चीनी, 3 हरी इलायची और 1½ कप पानी ले और उसके ऊपर नींबू के रस की 1-2 बूँदें डाले। चाशनी ठंडी होने के बाद जमे नहीं इसलिये नींबू का रस डाला गया है।
उसे मध्यम आंच पर गरम करने रखे, जब चीनी पिघल जाये तब चाशनी को चेक कर ले। यह थोड़ी चिपचिपी (या 1/2 तार जैसी) होनी चाहिये। उसे चेक करने के लिए उसकी 1-2 बुँदे छोटी प्लेट में डाले और उसे अंगूठे और ऊँगली के बीच लेकर देखे, अगर चिपचिपा लगता है तो चाशनी तैयार है। बीच में कभी कभी चम्मच से चलाते रहे ताकि चाशनी जले नहीं। इसमें लगभग 8-10 मिनट का समय लगेगा। चाशनी तैयार है, गैस बंद कर देते हैं।
1/2 कप मिल्क पाउडर, 1 टीस्पून मैदा और 1/8 टीस्पून बेकिंग सोडा एक परात या थाली में ले।
एक चम्मच से अच्छी तरह मिक्स कर ले और बाद में 1 टेबलस्पून घी डाले।
अपने हाथ से अच्छे से मिला ले ताकि घी मिल्क पाउडर के साथ समान रूप से मिक्स हो जाये।
मिश्रण के ऊपर समान रूप से 2 टेबलस्पून दूध छिड़के और हल्के हाथ से मिला ले।
मिश्रण नरम होना चाहिए। यदि आवश्यकता हो तो, कुछ टीस्पून ओर दूध डाले और हल्के से मिला लें। अगर यह चिपचिपा लगे तो चिंता मत करे। मिश्रण को ज्यादा गूथना नहीं है, बस इसे हल्के ढंग से मिला लें। अगर आप मिश्रण को ज्यादा गूथेंगे तो जामुन सख्त बनेंगे और ठीक से चाशनी नहीं सोख सकेंगे।
अपनी हथेलियों को तेल या घी लगाकर चिकना कर ले और मिश्रण को (9-10) छोटे भागों में विभाजित करे। प्रत्येक भाग में से एक गोला बनाइये, ध्यान रखे की इसमें दरारे नहीं होनी चाहिए। अगर दरार दिखाई देती है तो इसका मतलब यह है कि मिश्रण सूखा है। मिश्रण को नरम करने के लिए उसमे 1-2 टीस्पून दूध (या कुछ बूँदें) डाले और अच्छेसे मिला ले। बहुत बड़े गोले मत बनाइये क्योंकि तलने और चाशनी सोखने के बाद इसका आकार लगभग दोगुना हो जायेगा।
एक छोटी कड़ाई में तलने के लिए घी या तेल मध्यम आंच पर गरम करें। जब तेल मध्यम गरम हो जाये तब मिश्रण का एक छोटा सा हिस्सा तेल में डाले, अगर वह रंग बदले बिना ही तुरंत ऊपर की ओर आता है तो तेल मध्यम गरम है और तलने के लिए तैयार है (अगर वह तुरंत ही ऊपर आता है और भूरे रंग का हो जाता है तो तेल बहुत ज्यादा गरम है इसलिये उसे थोड़ा ठंडा करने की जरूरत है, अगर वह तुरंत ऊपर नहीं आता है तो तेल पर्याप्त गरम नहीं है उसे थोड़ा और अधिक गरम करने की जरूरत है।)। धीरे से 3-4 गोले (कड़ाही की साईज़ के अनुसार) कड़ाही की किनारो से तेल में डाले और आंच को कम कर दे।
कलछी से तेल को चलाते हुए उन्हें धीमी आंच पर तल ले। 2-3 मिनट के बाद उनका रंग हल्का सुनहरा होने लगेगा।
उन्हें सुनहरा भूरा होने तक तल ले, इसमें लगभग 6-7 मिनट का समय लगेगा। उन्हें कड़ाही में से निकालकर अतिरिक्त तेल सोखने के लिए पेपर नैपकिन के ऊपर डाले। जरुरत पड़ने पर आंच को कम या ज्यादा कर के तेल का तापमान एक समान रखें। अब तेल का तापमान मध्यम करे और स्टेप-9, 10 और 11
के अनुसार बाकी बचे गोले भी तल ले।
3-4 मिनट के लिए चाशनी गरम करें और उसमें तले हुए जामुन के गोले डाले। जामुन को परोसने से पहले कम से कम 2 घंटे के लिए चाशनी में रखें ताकि यह अच्छे से चाशनी सोख ले। जामुन जैसे ही चाशनी सोखने लगेंगे वैसे ही उसका आकार बढ़ने लगेगा। जामुन परोसने के लिए तैयार हैं।
सुझाव और बदलाव:
समय का बचाव करने के लिए स्टेप-8 में गोले बनाने से पहले ही कड़ाही में तलने के लिए तेल (या घी) गरम करने रख दे ताकि जब गोले बन जायेंगे तब तक तेल भी गरम हो जायेगा (स्टेप-9)।
अगर गलती से चाशनी ज्यादा पक जायेगी तो यह ठंडी होने के बाद जम (कठिन) जाएगी। इस गलती को सुधारने के लिए इसमें थोड़ा पानी डाले और कलछी से चलाते हुए कुछ मिनट के लिए फिर से पकाइये।
स्टेप-7 में मिश्रण को ज्यादा मत गूंथिये वरना जामुन सख्त बनेगे।
बेकिंग सोडा की मात्रा बदले नहीं वरना जामुन रब्बर जैसे बनेगे।
जामुन को एकदम सही तलने के लिए उन्हें मध्यम-कम आंच पर तले।
तेल तलने के लिए बराबर गरम है के नहीं वो जांचने के लिए इस का पालन करे- जब तेल मध्यम गरम हो जाये तब उसमे मिश्रण का एक छोटा सा हिस्सा डाले और देखे की अगर वह रंग बदले बिना ही तुरंत ऊपर की ओर आता है तो तेल मध्यम गरम है और तलने के लिए तैयार है। अगर वह तुरंत ही ऊपर आता है और भूरे रंग का हो जाता है तो तेल बहुत ज्यादा गरम है उसे थोड़ा ठंडा करने की जरूरत है। अगर वह तुरंत ऊपर नहीं आता है तो तेल पर्याप्त गरम नहीं है उसे थोड़ा और अधिक गरम करने की जरूरत है।
स्वाद में बदलाव के लिए चाशनी में केसर की किस्में या गुलाब की पत्तिया डाले।
स्वाद: इलायची की हल्की खुशबू वाले चाशनी में डूबे नरम मीठे गोले
परोसने के तरीके: गर्म गुलाब जामुन को वनीला आइसक्रीम के साथ डेज़र्ट के रूप में या भोजन के साथ एक मिठाई के रूप में परोसें।

वनीला मिल्क शेक

वेनिला मिल्क शेक दुनियाभर में लोकप्रिय है और इसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है। इसे बनाने के लिए वनीला आइसक्रीम और दूध ही चाहिये। इस मिल्क शेक की विधि (रेसिपी) का पालन करके बेहतरीन वेनिला मिल्कशेक बनाइये।
पूर्व तैयारियों का समय: 7 मिनट
कितने लोगो के लिए: 1
सामग्री:
1 कप वनीला आइसक्रीम
3/4 कप ठंडा दूध
1/8 टीस्पून वेनिला एक्सट्रेक्ट (या 3-4 बुँदे वेनिला एसेंस), वैकल्पिक
1 टीस्पून चीनी, वैकल्पिक
विधि
दूध, वेनिला एक्सट्रेक्ट (या वेनिला एसेंस) और चीनी एक मिक्सी की बड़ी जार में डालें। (यदि वेनिला एक्सट्रेक्ट या एसेंस उपलब्ध नहीं है तो चिंता मत करो, उसके बीना तैयार किया हुआ मिल्क शेक भी बढ़िया लगता है।)
वनीला आइसक्रीम डालें।
उन्हें पीस ले। एक गिलास में मिल्क शेक डाले और परोसें।

चकुंदर का हलवा

चुकंदर का हलवा एक स्वादिष्ट मिठाई है जो सेहत से भरपूर चुकंदर से बनाया जाता है और उसका स्वाद गाजर का हलवा जैसा ही है। यह हलवा घर पर बनाना बहुत ही आसान है और सिर्फ तीन ही सामग्री की आवश्यकता है – चुकंदर, दूध और चीनी। हालांकि, इसे अधिक स्वादिष्ट और खुशबुदार बनाने के लिए इसमें इलायची, घी और भूने हुए काजू भी डाले गये है। आज हम इस रेसिपी का पालन करके बीट का हलवा बनाना से सीखते हैं।
पूर्व तैयारियों का समय: 15 मिनट
पकाने का समय: 25 मिनट
कितने लोगो के लिए: 3
अंग्रेज़ी में चुकंदर का हलवा रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
2 कप चुकंदर कसा हुआ (2 बड़े चुकंदर/बीटरूट/बीट)
1 कप फूल फैट दूध (अधिक मलाईदार हलवा बनाने के लिए 1½ कप डालें)
3 टेबलस्पून चीनी (कम या ज्यादा स्वाद अनुसार)
1/8 टीस्पून इलायची पाउडर
2 टेबलस्पून कटा हुआ काजू, वैकल्पिक
2 टेबलस्पून घी
विधि (Beetroot Halwa Banane Ki Vidhi Hindi Me):
चुकंदर को पानी से धो लें। उन्हें छीले और नीचे से पतला भाग काट दें।
उन्हें कद्दूकस कर लें।
एक भारी तले वाली कड़ाही या प्रेशर कुकर में 1/2 टेबलस्पून घी गर्म करें। उसमे कटे हुए काजू डालें और वे जब तक हल्के भूरे रंग के हो जाते है तब तक भूने।
उन्हें एक थाली में निकाले।
उसी कड़ाही में कसा हुआ चुकंदर डालें।
उसे मध्यम आंच पर 7-8 मिनट के लिए भूने।
उसमे दूध डालें।
अच्छी तरह से मिलाएं। इसे मध्यम आंच पर थोड़ा गाढ़ा होने लगे तब तक पकाईये। कभी कभी बीच में चमचे से हिलाते रहे।
जब मिश्रण गाढ़ा होने लगे उसके बाद चिपकने से रोकने के लिए लगातार चमचे से हिलाते रहें।
जब मिश्रण गाढ़ा हो जाता है तब उसमें चीनी डालें। चीनी पिघल जाये और मिश्रण गाढ़ा हो जाये तब तक पकाईये।
बाकी बचा घी, इलायची पाउडर और भुना हुआ काजू डालें।
अच्छी तरह से मिलाएं। चमचे से लगातार हिलाते हुए 2 मिनट तक पकाईये। गैस बंद कर दें। चुकंदर का हलवा तैयार है। इसे अपनी पसंद के अनुसार गर्म या ठंडा परोसें।

डबल का मीठा

डबल का मीठा एक लोकप्रिय हैदराबादी व्यंजन है जो मुगलई खाने से है। इसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है और इसे बनाने के लिए थोड़ी ही सामग्री चाहिए जैसे कि ब्रेड, दूध, क्रीम और चीनी। इसमें केसर और इलायची का उपयोग भी अच्छा स्वाद और सुगंध के लिए हुआ है। इस रेसिपी में ब्रेड के टुकड़ो को कुरकुरा होने तक घी में तला जाता है (या सेका जाता है) और फिर उन्हें केसर और इलायची वाली चाशनी में डुबोकर ऊपर से रबड़ी डाली जाती है।
पूर्व तैयारियों का समय: 10 मिनट
पकाने का समय: 35 मिनट
कितने लोगो के लिए: 4
अंग्रेज़ी में डबल का मीठा रेसिपी पढ़े (Read in English)
सामग्री:
2 कप पूर्ण वसा दूध (फूल फेट दूध)
1/4 टीस्पून इलायची का पाउडर
4-5 केसर की किस्में
1/4 कप शक्कर
1/2 कप पानी
6 ब्राउन ब्रेड या सफेद ब्रेड की स्लाइस
घी, तलने के लिए या सेकने के लिए
1 टेबलस्पून काजू के टुकड़े
1/2 टेबलस्पून किशमिश
1 टेबलस्पून कतरी हुई बादाम
विधि (Double Ka Meetha Banane Ki Vidhi Hindi Me):
एक भारी तले वाली कड़ाही में मध्यम आंच पर दूध गर्म करने रखें।
जब दूध उबलने लगे तब आंच को कम कर दे। उसे तब तक उबलने दे जब तक कि दूध की ​​मात्रा आधे से कम (1 कप के आसपास) हो जाये और दूध गाढ़ा हो जाये। उसे चिपकने से रोकने के लिए कभी कभी बीच में चमचे से चलाते रहे। केसर और इलायची का पाउडर डालें और अच्छी तरह मिलाएँ। गैस बंद कर दे। उसे एक कटोरे में निकाले और कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें। बाद में उसे फ्रिज में रखें।
अब चाशनी तैयार करने के लिए एक पैन में पानी और चीनी लो।
अच्छे से मिला ले और उसे धीमी आंच पर थोड़ा गाढ़ा और चिपचिपा होने लगे तब तक या लगभग हल्की 1-तार की चाशनी होने तक पकाईये। इसमें लगभग 5-6 मिनट का समय लगेगा। बीच में कभी कभी चमचे से चलाते रहें। गैस बंद करें। चाशनी तैयार है।
प्रत्येक ब्रेड स्लाइस की किनारों निकालें और उसे 2 त्रिकोण आकार के टुकड़ो में काट लें। नोट: अगर आप अगले स्टेप में तीसरे विकल्प का उपयोग कर रहे हैं तो ब्रेड स्लाइस को त्रिकोण में मत काटे।
ब्रेड को कुरकुरा करने के लिए आप इन तीन तरीकों में से किसी एक का उपयोग कर सकते हैं। उन्हें आप या तो तल सकते है या कम तेल में सेक सकते है या टोस्टर में सेक सकते है।
ब्रेड को तलने की विधि
एक कड़ाही में मध्यम आंच पर घी गरम करें। जब घी पर्याप्त गर्म हो तब उसमें ब्रेड के टुकड़े डालें और उन्हें दोनों तरफ सुनहरे भूरे रंग के होने तक तले। तले हुए ब्रेड के टुकड़ो में से अतिरिक्त घी सोखने के लिए उन्हें पेपर नैपकिन के ऊपर निकालें।
ब्रेड को कम तेल में सेकने की विधि
ब्रेड के टुकड़ो पर ब्रश से घी लगा दे और उन्हें एक नॉन स्टिक पैन या तवे में मध्यम आंच पर दोनों तरफ सुनहरा भूरा होने तक और करारा होने तक सेके। इसमें ब्रेड को कुरकुरा होने में थोड़ा ज्यादा समय लगेगा। हालांकि, इस विधि में कम घी का उपयोग होता है इसलिए यह सेहत के लिए अच्छा है।
ब्रेड के टोस्ट करने की विधि
ब्रेड को टोस्टर में कुरकुरा होने तक टोस्ट करे। उसके दोनों तरफ ब्रश से घी लगा दें और उसके बाद त्रिकोण में काट लें।
इस व्यंजन की कैलोरी कम करने के लिए इस विधि में ब्रेड को कम घी में सेका गया है।
प्रत्येक ब्रेड के टुकड़े को तैयार चाशनी में डुबाये।
उन्हें एक गहरी प्लेट में निकाले।
उसके ऊपर गाढ़ा दूध (स्टेप-2 में तैयार किया हुआ) डालें। कतरी हुई बादाम, किशमिश और काजू के टुकड़ो से सजायें। डबल का मीठा तैयार है। इसे कमरे के तापमान पर परोसें या परोसने से पहले 30 मिनट के लिए ठंडा करने के लिए फ्रिज में रखें और परोसे।

ब्रेड कटलेट रेसिपी


ब्रेड कटलेट एक स्वादिष्ट भारतीय नाश्ता है जिसे स्टार्टर के रूप में या शाम के समय चाय के साथ नाश्ते में परोसा जाता है। यह बनाने में बहुत ही आसान है, साथ में पौष्टिक भी है और बच्चों को भी पसंद आता है। इसे बनाने के लिए ब्रेड, उबले हुए आलू, उबले हरे मटर और कुछ सब्जियों का उपयोग करके मिश्रण बनाया जाता है और फिर उसमें से कटलेट बनाकर कटलेट को तेल में सेंका जाता है। चाहे आप इसे चाय के साथ परोसें या हरी धनिये की चटनी के साथ, आप इसे दोनों ही तरह से पसंद करेंगे। तो आइये आज हम इस रेसिपी का पालन करके घर पर कटलेट बनाना सीखते है।
पूर्व तैयारियों का समय: 15 मिनट
पकाने का समय: 20 मिनट
कितने लोगो के लिए: 2
सामग्री:
4 ब्रेड स्लाइस
1 बड़ा आलू, उबला, छिला और मैश किया हुआ
1/3 कप हरी मटर के दाने (ताजा या फ्रोजन), उबले हुए
1/3 कप कद्दूकस पत्ता गोभी
1/3 कप कद्दूकस गाजर
2 टेबलस्पून + 1/3 कप सूखे ब्रेडक्रम्ब
1 मध्यम प्याज, बारीक कटा हुआ
1-2 हरी मिर्च, बीज निकाले हुए और बारीक़ कटी हुई
1/2 टीस्पून कसा हुआ अदरक
1/4 टीस्पून गरम मसाला पाउडर
1 टीस्पून नींबू का रस
1 टेबलस्पून + 3 टेबलस्पून तेल
पानी
नमक स्वाद अनुसार
2 चीज क्यूब्स और टोमेटो केचप, सजाने के लिए
विधि (Bread Cutlet Banane Ki Vidhi Hindi Me):
एक पैन में मध्यम आंच पर 1-टेबलस्पून तेल गरम करें। बारीक कटा हुआ प्याज डालें और उसे हल्के गुलाबी रंग का होने तक भूने, इसमें 1-2 मिनट का समय लगेगा। कसा हुआ अदरक और हरी मिर्च डालें और उन्हें 30 सेकंड के लिए भूने।
कसा हुआ गाजर, कसा हुआ गोभी, उबले हुए मटर के दाने और गरम मसाला पाउडर डालें।
उन्हें 1-2 मिनट के लिए भूने। गैस बंद करें और मिश्रण को एक कटोरी में निकाले। इसे 4-5 मिनट के लिए ठंडा होने दे।
ब्रेड की स्लाइस को पानी में डुबाए और तुरंत ही बाहर निकाले। स्लाइस को निचोड़ कर अतिरिक्त पानी निकाल दे और पकी हुई सब्जियों के मिश्रण में डाले। मैश किए हुए आलू, 2 टेबलस्पून सूखे ब्रेडक्रम्ब, नींबू का रस और नमक डालें।
अच्छी तरह से मिला ले और मिश्रण बना लें। उसे नमक के लिए चखे और अगर जरुरत लगे तो अधिक नमक डाले।
मिश्रण को 8 बराबर भागों में बाँट ले और हर एक भाग को गोले का आकार दे। अगर मिश्रण गीला लगे तो 1-2 टेबलस्पून सूखे ब्रेडक्रम्ब डाल सकते हैं। प्रत्येक गोला लो और उसे हथेलियों के बीच दबाकर 1/2 इंच मोटी पैटी (टिक्की) बनाइये।
एक थाली में 1/3 कप सूखे ब्रेडक्रम्ब लो। प्रत्येक पैटी को ब्रेडक्रम्ब से लपेटो और एक प्लेट में रखो। इसी तरह सारी पैटी बना ले।
एक नॉन-स्टिक पैन में मध्यम आंच पर 2-3 टीस्पून तेल गर्म करें। पैन में 2-3 कटलेट रखें और उन्हें नीचे की सतह हल्के सुनहरे भूरे रंग की होने लगे तब तक पकने दे।
उन्हें धीरे से पलटें, हर एक की उपर 1-टीस्पून तेल लगाये और दूसरी बाजू सुनहरा भूरा होने लगे तब तक पकने दे। उन्हें दोनों तरफ से सुनहरे भूरे रंग का होने तक तेल में सेके। हर एक बाजू सुनहरे भूरे रंग की होने में लगभग 2 मिनट का समय लगेगा। उन्हें एक थाली में निकाल दे।
इसी तरह सारी कटलेट तेल में सेंक लें। कटलेट के ऊपर कसा हुआ चीज और टमाटर का केचप डालकर सजाये। ब्रेड कटलेट परोसने के लिए तैयार है।
सुझाव और विविधता:
इसे और भी ज्यादा पौष्टिक बनाने के लिए मैदे की ब्रेड के बदले गेहूं की ब्रेड का उपयोग करें।
आप कटलेट को तेल में भी तल सकते हैं। अगर आप कटलेट को तेल में तलना चाहते है तो ध्यान रहे कि तेल में से हल्का धुंआ निकलने लगे ऐसा गर्म हो, अगर तेल पर्याप्त गरम नहीं होगा तो तलते समय कटलेट तेल में टूट सकते है।
अगर गाजर और पत्ता गोभी उपलब्ध नहीं हैं तो उसके बदले और कोई सब्जी भी डाल सकते है।
स्वाद: अंदर से मुलायम और बाहर से क्रिस्पी

No comments:

Post a comment

राजशाही सेवईं

राजशाही सेवईं  ========== आवश्यक सामग्री : सेंवई_Sewai – 250 ग्राम, शक्कर_Sugar – 500 ग्राम, नारियल_Coconut – 100 ग्राम (भ...