Friday, 11 August 2017

khana



मावा या खोया की बर्फी

मावा से अनेको प्रकार के व्यंजन बनाये जाते हैं. मावा की बर्फी बहुत ही स्वादिष्ट होती है, और बड़ी आसानी से बनाई जा सकती है. आइये मावा की बर्फी बनायें.


आवश्यक सामग्री -

मावा - 250 ग्राम
घी - 1 टेबिल स्पून
चीनी - 150 ग्राम (चीनी स्वादानुसार थोड़ी कम ज्यादा की जा सकती है)
इलाइची - 4-5 (छील कर पीस लीजिये)यदि आप चाहें तो
बादाम - 6-7 (बारीक कतर लीजिये)
पिस्ते - 6-7 ( बारीक कतर लीजिये)

विधि -

भारी तले की कढ़ाई में घी डाल कर मावा को धीमी गैस पर, हल्का गुलाबी होने तक भून कर, किसी प्याले में निकाल कर ठंडा होने के लिये रख दीजिये.

एक प्लेट या ट्रे को घी लगा कर चिकना करके रख लीजिये.

कढ़ाई में चीनी डालिये, चीनी की मात्रा का 1/3 पानी, चीनी में मिलाइये(चीनी 250 ग्राम तब पानी की मात्रा लगभग 80 ग्राम हो). इस तरह की चाशनी बनाइये कि चाशनी प्लेट में डालते ही तुरन्त जमने लगे.(अगुली अंगूठे के बीच चिपका कर देख लीजिये, वह बहुत ही गाड़ी और तुरन्त जमने लगेगी). चाशनी बनने के बाद गैस बन्द कर दीजिये.

चाशनी को चमचे से चलाते हुये ठंडा कीजिये और जब वह जमने पर आ जाय, तब मावा लेकर चाशनी में डालें और अच्छी तरह चमचे से चलाते हुये मिलाइये, इलाइची पाउडर भी मिला दीजिये.

मिश्रण को घी लगी हुई प्लेट में डालिये समान रूप से फैलाइये, ऊपर से कतरे हुये बादाम और पिस्ते डाल कर सजाइये, और जमने के बाद उसे काट लीजिये.

कभी कभी बर्फी को जमने में अधिक समय करीब 20-24 घंटे लग जाते हैं.

बहुत ही स्वादिष्ट बर्फी बनी है, बर्फी को एअर टाइट कन्टेनर में रखकर फ्रिज में रखिये, और जब भी आपका मन करे बर्फी निकालिये और खाइये, फ्रिज में रखकर बर्फी को 8-10 दिन तक यूज कर सकते हैं.




गुलाब जामुन

गुलाब जामुन (Gulab Jamun Recipe) यह उत्तर भारत की मिठाई है. यह मिठाई मुझे सबसे अधिक प्रिय है, गुलाब जामुन मावा में थोड़ा सा मैदा डालकर बनाये जाते हैं, मावा और पनीर को मिला कर भी गुलाब जामुन बनाते हैं. दोनों तरीके से गुलाब जामुन अच्छे बनते हैं, आज हम गुलाब जामुन (Gulabjamun) मावा और पनीर मिला कर बनायेंगे, तो आइये जल्दी से शुरू करते हैं, गुलाब जामुन बनाना.


गुलाब जामुन में लगने वाला समय : करीब 1 -1 1/2 घन्टा

आवश्यक सामग्री -

मावा (खोया) - 250 ग्राम (1 1/4 कप)
पनीर - 100 ग्राम (1/2 कप)
मैदा (रिफाइन्ड फ्लोर ) - 20 - 30 ग्राम(2-3 टेबिल स्पून)
काजू - 1 टेबल स्पून ( एक काजू के 8 टुकड़ों के हिसाब से काट लीजिये )
किशमिश - टेबल स्पून
चीनी - 600 ग्राम (3 कप)
घी - गुलाब जामुन तलने के लिये

विधि -

मावा, पनीर और मैदा को एक चौड़े और बड़े बर्तन में रखकर तब तक मलें जब तक कि वह नरम, चिकना गूथे हुये आटे जैसा न लगने लगे. गुलाब जामुन बनाने के लिये मावा तैयार है.

गुलाब जामुन तलने से पहले चाशनी बना कर तैयार कर लीजिये. चाशनी बनाने का तरीका नीचे दिया गया है. चाशनी तैयार हो गई है.

तैयार मावा से थोड़ा सा मावा ( करीब एक छोटी चम्मच ) अंगुलियों की सहायता से निकालिये, उसे हथेली पर रखकर चपटा करके 3-4 काजू के टुकड़े और एक किशमिश उसमें भरने के लिये उसके ऊपर रखें. मावा को चारों ओर से उठा कर काजू किशमिश को मावा के अन्दर बन्द कर दीजिये, अब दोनों हथेलियों के बीच रख कर गोल करिये, मावा का गोला अच्छी तरह बन जाने के बाद प्लेट में रख लीजिये. सारे गोले इसी तरह तैयार कर लीजिये.

कढ़ाई में घी डाल कर गरम कीजिये. गुलाब जामुन तलने से पहले टैस्ट कर सकते हैं(एक गुलाब जामुन को घी में डाल कर तलें यदि गुलाब जामुन घी में फट रहा है, तब गुलाब जामुन के मावा में थोड़ा मैदा और मिलायें).

3-4 गोले, कढ़ाई में डालें और तलें ( गैस की फ्लेम धीमी रखें. गुलाब जामुन को तलते समय उस पर कलछी न लगायें बल्कि गरम गरम घी उसपर कलछी से डालें और ब्राउन होने के बाद हल्के से हिला हिला कर तलें, गुलाब जामुन के चारों तरफ ब्राउन होने तक तल लीजिये. तले गुलाब जामुन कढ़ाई से निकाल कर प्लेट में रखिये. थोड़ा ठंडा होने पर, 2 मिनिट बाद चाशनी में डुबा दीजिये. इसी तरह सारे मावा के गोल गोल गुलाब जामुन बनाकर, तल कर चाशनी में डाल कर डुबा दीजिये.

चाशनी बनाने का तरीका
एक बर्तन में चीनी में, 300 ग्राम पानी (चीनी की मात्रा का आधा पानी) मिलाकर आग पर चाशनी बनने के लिये रखिये.

चाशनी में जब उबाल आ जाय, चीनी पानी में घुल जाय उसके बाद 1-2 मिनिट तक और पकायें. चाशनी के घोल से लेकर 1-2 बूंद प्लेट में टपकायें. अंगूठे और अंगुली के बीच चिपका कर देख लीजिए, चाशनी उंगली और अंगूठे के बीच चिपकनी चाहिये, आधा तार की चाशनी यानि कि तार बहुत ही कम दूरी तक बने, चाशनी को ठंडा करके, छान लीजिये.

तले हुये गुलाब जामुन (Gulab Jamun) को इस चाशनी में डाल दीजिये. 1-2 घंटे में गुलाब जामुन मीठा रस सोखकर मीठे और स्वादिष्ट हो जायेंगें.

गुलाब जामुन तैयार हैं. इन्हें गरम गरमा या ठंडे परोसिये और खाइये.

नोट:

1. यदि गुलाब जामुन घी में फट रहे हों या फिर ज्यादा नरम हों तो थोडा सा मैदा मावा के आटे में मिलाकर अच्छी तरह मल लें.
2. यदि गुलाब जामुन ज्यादा सख्त बन रहे हों तो मावा के आटे में थोड़ा सा ( 1-1 1/2 टेबल स्पून ) दूध मिलाकर अच्छी तरह मल लें.
3. अधिक गरम चाशनी में गुलाब जामुन मत डालिये.



वेज मंचूरियन रेसिपी



वेज मन्चूरियन -वेज मन्चूरियन (Vegetable Manchurian) आज की बहुत पसंद की जाने वाली रेसीपी में से एक है. वेज मन्चूरियन लगभग मिक्स वेज कोफ्ते के लिये बानाई गये कोफ्ते की तरह ही बनाया जाते है, लेकिन वेज मन्चूरियनके लिये जो सास बनाया जाता है, उसमें सोया सास, टमाटर सास, विनेगर और अजीनोमोटो प्रयोग किया जाता है, जिससे इसका स्वाद एकदम अलग होता है.

आवश्यक सामग्री--

मन्चूरियन बाल -

बन्द गोभी - 2 कप (कद्दूकस किया हुआ)
गाजर - 1 कप (कद्दूकस की हुई)
शिमला मिर्च - 1 कद्दूकस की हुई
हरी मिर्च - 1 (बारीक कटी हुई)
काली मिर्च - 2 पिंच
कार्न फ्लोर - 4-5 टेबल स्पून
सोया सास - 1 छोटी चम्मच
अजीनोमोटो - 2 पिंच (आप्शनल)
नमक - स्वादानुसार (आधा छोटी चम्मच)
हरा धनियां - 1 टेबल स्पून बारीक कटा हुआ
तेल - मन्चूरियन बाल तलने के लिये

मन्चूरियन सास -

तेल - 2 टेबल स्पून
अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा (कद्दूकस किया हुआ)
हरी मिर्च -1- 2 (बारीक कटी हुई)
कार्न फ्लोर 2-3 टेबल स्पून
सोया सास - 1 टेबल स्पून
टमाटो सास - 2 टेबल स्पून
चिल्ली सास - 1/2 - 1 छोटी चम्मच
वेजिटेबल स्टाक - 1 कप
चीनी - 1/2 - 1 छोटी चम्मच
अजीनोमोटो - 2 पिंच
नमक - स्वादानुसार (आधा छोटी चम्मच)
विनेगर - 1 छोटी चम्मच
हरा धनियाँ - 1 टेबल स्पून बारीक कटा हुआ

विधि -

कद्दूकस की हुई सब्जियों (grated vegetables) को हल्का सा उबालिये - किसी बर्तन में 1 कप पानी डाल कर उबलने के लिये रख दीजीये. सब्जियों को उबलते पानी में डालिये और 3 मिनिट ढककर उबाल लीजिये, सब्जियां एकदम नरम न हों. सब्जियों के ठंडा होने पर उन्हैं छान लीजिये और दबा कर सब्जियों से निकले पानी यानी कि वेजिटेबल स्टाक निकाल कर अलग रख दीजिये, इस वेजीटेबल स्टाक को हम मन्चूरियन सास बनाने के लिये प्रयोग में लायेंगे और सब्जियों से मन्चूरियन बाल बना लेंगे.

हल्की उबाली हुई सब्जियों में कटे हरी मिर्च, काली मिर्च, कार्न फ्लोर, सोया सास, अजीनोमोटो, हरा धनियां और नमक डाल कर अच्छी तरह मिलाइये. मिश्रण से थोड़ा थोड़ा मिश्रण निकाल कर छोटे छोटे गोले (एक छोटे नीबू के बराबर) बना कर किसी प्लेट में रख लीजिये.

कढ़ाई में तेल डालकर गरम कीजिये, गरम तेल में एक मन्चूरियन बाल तलने के लिये डालिये, यदि यह बाल फट कर तेल में बिखर रहा हो तब मिश्रण में 1-2 टेबल स्पून कार्न फ्लोर और डालकर अच्छी तरह मिला दीजिये और मि़श्रण से छोटे छोटे बाल बना कर तैयार कर लीजिये. 5-6 मन्चूरियन बाल गरम तेल में डालिये और गोल्डन ब्राउन होने तक तल कर, किसी प्लेट में निकाल कर रख लीजिये. सारे मन्चूरियन बाल इसी तरह तल कर निकाल लीजिये. मन्चूरियन बाल तैयार है, अब हम इनके लिये मन्चूरियन सास बनायेंगे.



सास बनाइये: -

कढ़ाई में तेल डालिये, तेल गरम होने पर अदरक, हरी मिर्च डालिये, थोड़ा सा भूनिये, भुने मसाले में सोया सास, टमाटो सास, मसाले को हल्का सा भूनिये.

कार्न स्टार्च को वेजिटेबल स्टाक में गुठलियां खतम होने तक घोलिये, घोल को मसाले में डालिये, उबाल आने पर, चिल्ली सास, चीनी, नमक, विनेगर और अजीनोमोटो डाल दीजिये. हरा धनियां भी डालकर मिला दीजिये, मन्चूरियन तरी में उबाल आने के बाद, तरी को धीमी आग पर 2 मिनिट तक पकने दीजिये. तरी में मन्चूरियन बाल डालिये और 1 - 2 मिनिट तक पका लीजिये.

इन्डो चाइनीज वेज मन्चूरियन (Vegetable Manchurian - Indian Chinese Dish) तैयार हैं, गरम गरमवेज मन्चूरियन परोसिये और खाइये.

वेज मन्चूरियन में आप प्याज और लहसन का स्वाद चाहते हैं तब 1 प्याज और 5-6 लहसन की कली को छील कर बारीक काट लीजिये, और तेल गरम करके सबसे पहले बारीक कटे प्याज और लहसन डालिये, प्याज को पारदर्शक होने भून लीजिये, अदरक, हरी मिर्च सभी मसाले उपरोक्त तरीके से डालकर वेज मंचूरियन बना लीजिये.



मूंग की दाल के मिनी समोसे

जब आप एक से अधिक मिठाईया और नमकीन बना रहे हों तो मेहमानों के सामने समस्या आती है कि क्या खायें और क्या छोड़ें! सामान्य समोसे तो एक खाकर ही पेट भरा जैसा हो जाता है जिससे आप बाकी पकवानों का मज़ा नहीं ले पाते. इसका हल हैं मिनी समोसा.


मूग दाल के छोटे समोसे (Moong Dal Mini Samosa) सामान्य समोसे से आकार में आधे से भी कम होते हैं. चूंकि इनमें आलू की जगह भुनी हुई मूंग दाल की पिठ्ठी का प्रयोग होता है इसलिये इन्हें एकबार बनाकर 10-12 दिन तक खाया जा सकता है. चाय के साथ सुबह हो या शाम ये समोसे बहुत पसन्द आते हैं ये समोसे आप इस होली, दिवाली के त्योहार पर भी बना सकते हैं, किसी भी पार्टी या मेहमानों के लिये ये समोसे बनाये जा सकते हैं , आइये आज हम ये दाल के मिनी समोसे (Moong Dal Mini Samosa) बनायें.

आवश्यक सामग्री -

समोसे का आटा लगाने के लिये
मैदा - 250 ग्राम (1.25 कप)
घी - 60 ग्राम (एक चौथाई कप)
नमक - स्वादानुसार (आधी छोटी चम्मच)
पिठ्ठी बनाने के लिये
मूंग दाल - 100 ग्राम (आधा कप)
तेल - 2 टेबल स्पून
हींग - 1 पिंच
जीरा - एक चौथाई छोटी चम्मच
धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच
सौंफ पाउडर - एक चम्मच
हरी मिर्च - 2
अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा
लाल मिर्च पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच से कम (यदि आप चाहें)
गरम मसाला - एक चौथाई छोटी चम्मच से कम
अमचूर पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच से कम
नमक - स्वादानुसार (आधा छोटी चम्मच)
तेल - समोसे तलने के लिये

विधि -

आटा लगायें
मैदा को छान कर किसी बर्तन में निकाल लीजिये, मैदा में घी और नमक मिलाइये, गुनगुने पानी की सहायता से कड़ा आटा गूथ लीजिये. आटे को सैट होने के लिये आधा घंटे के लिये ढककर रख दीजिये. समोसे बनाने के लिये आटा तैयार है.



पिठ्ठी बनायें

मूंग की दाल हरे छिलके वाली ले लें तो ज्यादा अच्छा है. मूंग की दाल साफ कीजिये, धोइये और 2 घंटे के लिये पानी में भिगो दीजिये, अगर छिलके वाली दाल है तो हाथ से रगड़ कर छिलका पानी में तैराकर निकाल दीजिये. दाल को चलनी में थोड़ी देर के लिये रख दीजिये ताकि इसका सारा पानी निकल जाय. धुली दाल को बिना पानी डाले और हरी मिर्च, अदरक मिलाकर बारीक पीस लीजिये.

कढाई में तेल डाल कर गरम कीजिये. गरम तेल हींग, जीरा डालिये, जीरा भुनने के बाद धनियां पाउडर, सौंफ, और पिसी हुई दाल डालिये, दाल को चमचे से चलाते हुये भूनिये, लाल मिर्च, गरम मसाला, अमचूर पाउडर और नमक भी डाल दीजिये, दाल को ब्राउन और सूखी होने तक भूनिये. समोसे में भरने के लिये पिठ्ठी तैयार है.

समोसे बनायें:

गुथे हुये आटे से एक नीबू के बराबर आटा निकालिये, हाथ से गोल कीजिये, दबाइये और बेलन की सहायता से करीब 4 इंच के व्यास की हल्की मोटी पूरी बेलिये.



पूरी को 2 बराबर भागों (अर्धचन्द्राकार आकार ) में काट लीजिये. एक हिस्सा उठाइये, दोनों कोने मिला कर कोन बनाते हुये पानी की सहायता से चिपकाइये. इस कोन में एक या डेड़ छोटी चम्मच पिठ्ठी भरिये, पिठ्ठी भरने के बाद, पीछे के किनारे में एक प्लेट डाल दीजिये, अब दोनों किनारों पर पानी लगाइये ओर हाथ से दबा कर अच्छी तरह चिपका दिजिये. समोसे का आकार सही होना चाहिये, समोसे को प्लेट में लगाइये और सारे समोसे इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिये. सारे समोसे तैयार हो गये हैं अब इनको तलना है.



कढाई में तेल डाल कर गरम कीजिये. गरम तेल में 10-12 समोसे डालिये और मीडियम गैस पर हल्के ब्राउन होने तक तलिये. कढाई से समोसे निकालिये, एक प्लेट पर नैपकिन पेपर बिछाकर उस पर तले हुये समोसे रखिये. फिर से समोसे तेल में डालिये, तलिये, इसी प्रकार सारे समोसे तल कर निकाल लीजिये. आपके दाल के समोसे (Moong Dal Mini Samose) तैयार हो गये हैं.

गरमा गरम समोसे हरे धनिये की चटनी और मीठी चटनी के साथ परोसिये और खाइये. बचे हुये समोसे किसी एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख दीजिये. एक सप्ताह से भी अधिक दिनों तक आप ये समोसे खा सकते हैं.





मटर पनीर ढाबा स्टायल -

टमाटर की ग्रेवी में मुलायम मटर और पनीर मिलाकर बनी मटर पनीर किसे पसन्द नहीं आती ! इसे क्रीम मिलाकर रिच ग्रेवी में भी बना सकते हैं और सिर्फ टमाटर की ग्रेवी में भी. प्रस्तुत है ढाबा स्टायल मटर पनीर


आवश्यक सामग्री

मटर - 1 कप
पनीर - 250 ग्राम
टमाटर - 250 ग्राम
हरी मिर्च - 2
तेल - 3-4 टेबल स्पून
क्रीम - 1/2 कप ( 100 मिली)
हरा धनिया - 3-4 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
अदरक पेस्ट - 1 छोटी चम्मच
जीरा - 1/2 छोटी चम्मच
हींग - 1 पिंच
हल्दी पाउडर - 1/2 छोटी चम्मच
धनिया पाउडर - 1 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच
गरम मसाला - 1/4 छोटी चम्मच
नमक - 1 छोटी चम्मच

विधि -

पनीर को 1 -1 इंच के टुकड़ों में काट कर तैयार कर लीजिए. पैन में 2 छोटी चम्मच तेल डालकर गरम कीजिए. तेल के गरम होने पर पनीर के टुकड़े डाल कर सेक लीजिए. पनीर के टुकड़ों को पलट कर 2 ओर से गोल्डन ब्राउन होने तक सेके और प्लेट में निकाल लीजिये.

अब पैन में मटर के दानों को डालकर 2 मिनिट के लिए ढक कर के धीमी आंच पर पका लीजिए. 2 मिनिट बाद इन्हें चैक कीजिए, मटर के दाने हल्के नरम हो गये हैं, इन्हैं प्याले में निकाल लीजिए.

टमाटर, हरी मिर्च को मिक्सी से बारीक पीस लीजिये.

ग्रेवी बनाने के लिए पैन में 2 टेबल स्पून तेल डालकर गरम कीजिए. गरम तेल में जीरा, हींग, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर और अदरक का पेस्ट डाल कर हल्का सा भूनिये, और अब टमाटर, हरी मिर्च का पेस्ट और लाल मिर्च पाउडर डाल कर मसाले को तब तक भुनिये जब तक मसाले के ऊपर तेल तैरता दिखने लगे.





मसाला भुन जाने पर इसमें क्रीम डाल दीजिए और मसाले को लगातार चलाते हुए तब तक भूने जब तक की इसमें उबाल न आ जाए. मसाले में उबाल आने पर इसमें 1 कप पानी डालकर मिक्स कीजिए और ग्रेवी को फिर से लगातार चलाते हुए उबाल आने तक पकाएं.

ग्रेवी में उबाल आने पर इसमें नमक, गरम मसाला और बारीक कटा हुआ हरा धनिया डाल कर मिला दीजिए. अब ग्रेवी में भूना हुआ पनीर और मटर के दाने डाल दीजिए, सभी चीजों को अच्छे से मिला दीजिए.
सब्जी को ढककर के 4-5 मिनिट धीमी आंच पर पकने दीजिए.

सब्जी को चैक कीजिए, सब्जी बनकर तैयार है. इसे प्याले में निकाल लीजिए और हरे धनिये को ऊपर से डाल कर सजाइये. गरमा गरम मटर पनीर की सब्जी, परांठे, नॉन या चपाती किसी के भी साथ परोसिये और खाइये.

सुझाव

मसाले में क्रीम डालने के बाद इसे लगातार चलाते हुए पकाएं अगर ऎसा नहीं करेंगे तो ग्रेवी में डाली गई क्रीम फट सकती है.
ग्रेवी को अपनी पसन्द के अनुसार, ड्राई फ्रूट या मावा या हल्की ग्रेवी सिर्फ टमाटर से, थोड़ा सा बेसन डालकर या टमाटर और प्याज से भी बना सकते हैं, बहुत अच्छी सब्जी बनती है.
4 सदस्यों के लिये
समय - 30 मिनिट




तंदूरी नान तवे पर



नान तवे पर--

तंदूरी नान तवे पर भी बड़ी आसानी से बन जाते हैं और बहुत अच्छे बनते हैं. अगर इलेक्ट्रिसिटी गायब हो तो तंदूर और ओवन के न होने पर भी आप तवे पर नान बना कर परोस सकते हैं


आवश्यक सामग्री -

मैदा - 2 कप (250 ग्राम)
तेल - 1 टेबल स्पून
बेकिंग सोडा - 1/2 छोटी चम्मच
चीनी - 1 छोटी चम्मच
नमक - 1/2 छोटी चम्मच
दही - 1/4 कप ( 3-4 टेबल स्पून)

विधि:

मैदा को किसी बड़े प्याले में निकाल लीजिये, बीच से हटाकर थोड़ी जगह बनाइये, दही, चीनी, नमक और बेकिंग सोडा डालिये, सारी चीजों को पहले दही के साथ अच्छी तरह मिलाइये, अब आटे में मिलाकर थोड़ा थोड़ा एकदम हल्का गरम पानी डालते हुये एकदम नरम आटा गूंथ कर तैयार कर लीजिये. आटे को हाथ पर तेल लगाकर, मसल मसल कर एकदम चिकना होने तक गूथिये, आटे को चिकना करने में 5-6 मिनिट लग जाते हैं(इतना आटा लगाने में लगभग आधा कप पानी लग जाता है) गुथे आटे को ढककर गरम जगह पर रख दीजिये, आटा 2-3 घंटे में फूल जायेगा, और नान बनाने के लिये तैयार हो जायेगा.

हाथ पर सूखा आटा लगाकर आटे को पंच कर लीजिये, और 6 लोइयां तोड़ लीजिये, एक एक लोई को गोल करके और सूखे मैदा में हल्का सा लपेट कर, किसी प्लेट में रख दीजिये, सारी लोइयां इसी प्रकार बनाकर तैयार कर लीजिये और इन्हैं कपड़े से ढककर रख लीजिये, ताकि ये सूखे नहीं.



तवा को गरम करने रख दीजिये, एक लोई उठाइये, हल्का सा मैदा में लपेटिये और नान बेलिये, नान को हल्का मोटा गोल या ओवन शेप में बेल कर तैयार कर लीजिये, इसके ऊपर थोड़ा पानी डालकर चारों और फैला कर, ऊपर की तरफ से गीला कर दीजिये और गीले सरफेस को नीचे यानि कि तवे की ओर करते हुये नान को तवे पर सिकने के लिये डालिये. ऊपर की सरफेस हल्की सी डार्क होने पर यानि कि निचली सतह सिकने पर तवे के हैन्डल को पकड़िये, गैस फ्लेम पर तवे को उलटा करते हुये रखिये, और तवे को इधर उधर घुमाते हुये नान को देखते हुये चारों और चित्ती आने तक नान को सेकिये, तवे को वापस सीधा करके गैस पर रखिये, और कलछी की सहायता से नान को तवे से निकाल लीजिये, घी लगाकर प्लेट में रखिये, सारे नान इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिये.

गरमा गरम नान को किसी भी गाढ़ी ग्रेवी वाली सब्जी, चटनी, अचार और दही के साथ में परोसिये, और खाइये.

सुझाव:

तवे पर नान के लिये मैदा या आधा आटा और आधा मैदा ले सकते हैं.
गेहूं के आटे के नान भी बिलकुल इसी तरह बना सकते हैं, लेकिन स्वाद और दिखने में थोड़ा फर्क होता है.





फ्राइड मोमोज -

नेपाल-तिब्बत की रेसीपी मोमोज, दिल्ली आकर फ्राइड और तंदूरी मोमोज के रूप में बहुत पसंद की जा रही हैं. हाफ कुक्ड मोमोज को कुरकुरा तल कर व्हाइट सॉंस और चटनी के साथ परोसिये


आवश्यक स‌ामग्री -

मैदा - 1 कप (125 ग्राम)
बंद गोभी- 1 ( 350 ग्राम)
गाजर - 1 (50-60)
हरा धनिया - 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
तेल - 2 टेबल स्पून
हरी मिर्च - 1 (बारीक कटा हुआ )
अदरक - 1/2 इंच (कद्दूकस किया हुआ)
नमक - 3/4 छोटी चम्मच (स्वादानुसार)
तेल - तलने के लिए

विधि--

मैदा को किसी बर्तन में निकाल लीजिये और इसमें 1/4 छोटी चम्मच नमक डालकर थोडा़ -थोडा़ पानी डालते हुए नरम आटा गूंथ कर तैयार कर लीजिये. हाथ पर थोडा़ सा तेल लगाकर आटे को मसल-मसल कर चिकना कर लीजिए. गुंथे आटे को 15-20 मिनिट के लिए ढककर रख दीजिये, ताकि आटा फूल कर सैट हो जाय.

स्टफिंग बनाएं

बंदगोभी को अच्छे से धोकर साफ करके कद्दूकस कर लीजिए और गाजर को छीलकर अच्छे से धोकर साफ करके कद्दूकस कर लीजिए.

पैन में 2-3 छोटे चम्मच तेल डाल कर गरम करें, गरम तेल में कद्दूकस किया हुआ अदरक, हरी मिर्च डालकर थोड़ा सा भूनिये, गैस बंद कर दीजिए और भूने मसाले को कद्दूकस की हुई सब्जियों में डाल दीजिये. साथ में 1/2 छोटी चम्मच नमक और बारीक कटा हरा धनिया डालकर सभी चीजों को अच्छे से मिलाते हुए मिक्स कर लीजिए. स्टफिंग बनकर के तैयार है.

आटा सैट होकर तैयार है, हाथ पर थोडा़ सा तेल लेकर आटे को मसल कर चिकना कर लीजिए. आटे से छोटी छोटी गोल लोई बनायें और ढककर रख दीजिए ताकि ये सूखें नहीं.


एक लोई उठाएं उसे गोल कीजिए और सूखे मैदा में लपेटें और गोल गोल 2.5 -3 इंच व्यास की पूरी की तरह पतला बेल लीजिए. (अगर बेलते समय लोई चकले से चिपकने लगे तो फिर से सूखा मैदा लगाकर इसे बेलें). पूरी को किनारों पर दबाव देते हुए बेलें इसे बीच से पतला न करें. बेली हुई पूरी को प्लेट में रख दीजिए और इसी तरह से सारी पूरियां बेल कर तैयार कर लीजिए.

एक पूरी को हथेली पर रखें और इसमें 1 से डेढ चम्मच स्टफिंग रख दीजिए, अब पूरी के किनारे को पकड़ कर फोल्ड करते हुए चिपका दीजिए इसके बाद दूसरा फोल्ड करते हुए उसे पहले वाले के साथ चिपका दीजिए इसी तरह से फोल्ड करते हुए चिपकाएं और आखिर में इसे बंद करते हुए चिपका दीजिए (फोल्ड करने का तरीका विडियो में देख सकते हैं).

सभी मोमोज इसी तरह से बना कर तैयार कर लीजिए.

अब मोमोज को भाप में पकाना है. इसके लिये या तो आपको मोमोज पकाने वाला बर्तन लेना पड़ेगा, लेकिन अगर हमारे पास मोमोज पकाने का यह बर्तन नहीं हैं तो किसी इस तरह के बर्तन में पानी भर कर गरम कीजिये जिसमें छलनी आ जाय.

बरतन में 2 कप पानी उबलने के लिए रख दीजिए, छलनी को तेल लगाकर चिकना कर लीजिए. छलनी में मोमोज को थोड़ी थोडी़ दूरी पर लगाते हुए रख दीजिए. पानी में उबाल आने पर छलनी को बर्तन के ऊपर रख कर ढक दीजिए. फ्राइड मोमोज बनाने के लिए मोमोज को भाप में 5 मिनिट तक आधा पका लीजिए. 5 मिनिट बाद मोमोज को निकाल कर ठंडा होने के लिए रख दीजिए. मोमोज को थोड़ा ठंडा होने के बाद प्याले में निकाल लीजिए. जब मोमोज को स‌र्व करना हो, तब गरम गरम मोमोज को फ्राई कर लीजिए.

फ्राई करने के लिए

मोमोज फ्राई करने के लिए कड़ाही में तेल डाल कर गरम कर लीजिए. मीडियम गरम तेल में मोमोज को डाल दीजिए. (एक बार में जितने मोमोज तेल में आ जाए तल लीजिए). मोमोज को मीडियम-धीमी आंच पर पलट-पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक तल लीजिए. मोमोज जब चारों ओर गोल्डन ब्राउन कलर के स‌िक जाय, तब उसे कलछी पर रखकर, कुछ देर कड़ाही के ऊपर रख लीजिए. जिससे मोमोज स‌े अतिरिक्त तेल कड़ाही में वापस चला जाए. मोमोज को प्लेट में निकाल कर रख लीजिए. इसी तरह स‌ारे मोमोज तल कर तैयार कर लीजिए. ( एक बार के मोमोज तलने में 5-6 मिनिट का स‌मय लग जाता है). फ्राइड मोमोज बन कर तैयार हैं.

स्वादिष्ट गरमा गरम फ्राइड मोमोज को आप लाल मिर्च की तीखी चटनी, टमाटर की हल्की तीखी चटनी या व्हाइट सॉस के साथ परोसिये और खाईये.

सुझाव

फ्राइड मोमोज बनाने के लिए मोमोज को भाप में ज्यादा देर तक नही पकाइये. मोमोज को कुछ देर भाप में पकने के बाद ही निकाल लीजिए.
अगर आपको फ्राइड मोमोज कुछ देर के बाद बनाकर खाने हैं, तो आप मोमोज को आधा पका कर रख लीजिए और जब खाने हों तो उन्हें आप तल कर गरमा गरम परोस‌कर खाइये.





चिल्ली पनीर -

चीनी रेसीपीज चीन से घूमते घामते आकर यहां एक अपना खास स्वाद बना चुकीं हैं. चीनी रेसीपीज के भारतीय रूप में चिल्ली पनीर एक स्वादिष्ट और पौष्टिक रेसीपी है. इसे आप चाहे खाने से पहले खाईये या खाने के साथ. मन करे तो वेज चाउमिन के साथ खाईये या फिर फ्राइड राइस के साथ. आपको ये हर तरह से पसंद आयेगा.


आवश्यक सामग्री
पनीर - 300 ग्राम
ग्रीन कैप्सकम - 1 ( मीडियम साइज में काट लेंगे )
रैड कैप्सकम - 1 ( मीडियम साइज में काट लेंगे )
कार्न फ्लोर - 3-4 टेबल स्पून
टमाटो सास - 1/4 कप
ओलिव ओइल - 1/4 कप
सिरका - 1 -2 छोटी चम्मच
सोया सास - 1-2 छोटी चम्मच
चिल्ली सास - 1-2 छोटी चम्मच
हरी मिर्च - 2-3 ( छोटी छोटी काट लीजिये)
अदरक - 1 इंच टुकड़ा (कद्दूकस किया हुआ)
नमक - आधा छोटी चम्मच (स्वादानुसार)
काली मिर्च पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच
चिल्ली फ्लेक्स -1/4 छोटी चम्मच
अजीनो मोटो - 1- 2 पिंच
पोदीना के पत्ते - 10 -12

विधि

पनीर को चौकोर टुकड़ों में काट लीजिये, किसी प्लेट में आधा कार्न फ्लोर लेकर पनीर के टुकड़ों को कार्न फ्लोर में लपेट लीजिये. नानस्टिक कढ़ाई में 2 टेबल स्पून तेल डालकर चारों ओर फैला दीजिये, तेल गरम होने पर पनीर के टुकड़े कढ़ाई में सिकने के लिये लगा दीजिये और दोनों ओर पलट पलट कर हल्के ब्राउन होने तक सेक कर निकाल लीजिये.

अब बचा हुआ तेल कढ़ाई में डालिये, गरम होने पर अदरक और हरी मिर्च डालकर भूनिये, ग्रीन कैप्सकम डालकर, 1 मिनिट भूनिये. रैड कैप्सकम डालकर और 1 मिनिट भूनिये, और अब भुने हुये पनीर के टुकड़े, टमाटो सास, सोया सास, चिल्ली सास, सिरका, चिल्ली फ्लेक्स, काली मिर्च, अजीनोमोटो और नमक डालकर सारी चीजों को धीमी गैस पर ही मिक्स अच्छी तरह मिक्स होने तक मिक्स कीजिये.

बचे हुये कार्न फ्लोर को 1/4 कप में पानी में गुठलियां खतम होने तक घोलिये और चिल्ली पनीर में डालकर मिलाइये, चिल्ली पनीर को 1 मिनिट चमचे चलाते हुये पका लीजिये, पोदीना के पत्ते मोटे मोटे तोड़ कर डाल कर मिला दीजिये.

गरमा गरम बहुत ही स्वादिष्ट चिल्ली पनीर तैयार है, चिल्ली पनीर के साथ नूडल्स बनाकर परोसिये और खाइये.

अगर आप प्याज लहसन वाला चिल्ली पनीर बनाना चाहते हैं, तब एक प्याज पतला पतला काट लीजिये, 4 लहसन की कली छोटी काट लीजिये, तेल गरम होने के बाद, अदरक और हरी मिर्च डालने से पहले लहसन डालें हल्का सा भूनें, प्याज डालकर हल्का गुलाबी होने तक भूनें, अब उसी क्रम में अदरक हरी मिर्च और सारे मसाले डालते हुये चिल्ली पनीर बनाकर परोसें और खायें.





क्विक आलू टिक्की चाट -

आलू टिक्की चाट उत्तर भारत के सर्वाधिक लोकप्रिय स्ट्रीट फूड्स में से एक है. इन टिक्कियों को मटर या चने की दाल की स्टफिंग के साथ बनाकर मटर या चने के छोले के साथ परोसा जाता है ओर बिना किसी स्टफिंग के खट्टी मीठी चटनियों और दही के साथ भी. आज हम तुरत फुरत बनने वाली आलू टिक्की चाट बना रहे हैं.


आवश्यक सामग्री -

उबले हुए आलू - 8-9 (600 ग्राम)
तेल - 3-4 टेबल स्पून
हरा धनिया - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
हरी मिर्च - 2 (बारीक कटी हुई)
कॉर्न फ्लोर - 3 टेबल स्पून
नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
परोसने के लिए

फैंटा हुआ दही - 1 प्याली
हरे धनिये की तीखी चटनी - 1/2 प्याली
इमली की मीठी चटनी - 1/2 प्याली
भूना जीरा पाउडर - 1-2 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर - 1 छोटी चम्मच
काला नमक - 1 -2 छोटी चम्मच
बेसन के बारीक सेव - आधा प्याली

विधि

उबले हुए आलू को छीलकर, कद्दूकस कर लीजिए.

कद्दूकस किये हुए आलू में बारीक कटी हुई हरी मिर्च , नमक, बारीक कटा हरा धनिया और कॉर्न फ्लोर डाल कर सभी चीजों को अचछी तरह मिला लीजिए और आटे की तरह गूंथ कर तैयार कर लीजिए. टिक्की के लिये मिश्रण तैयार है.

पैन को गरम कीजिए. हाथ पर थोडा़ सा तेल लगाकर गूंथे आलू के मिश्रण में से थोडा़ सा मिश्रण निकाल लीजिए. टिक्की आप अपनी पसंद अनुसार बडी़ या छोटी जैसे चाहें बना सकते हैं.

मिश्रण को हाथ में रखिये और गोल कर लीजिये, गोले को हथेली से दबाकर चपटा कर के टिक्की का शेप दे दीजिये. सभी टिक्की इसी तरह बना लीजिये,

गरम पैन में थोडा़ सा तेल डाल दीजिये, तेल को तवे पर चारों ओर फैलाइये, सारी टिक्की या पैन पर जितनी टिक्की आ जाय, सिकने के लिये लगा कर रख दीजिये, धीमी - मीडियम आग पर आलू टिक्की सेकिये,



टिक्की नीचे से गोल्डन ब्राअन होने तक सिकने दीजिये, टिक्की को पलट दीजिये, और टिक्की को दोनों ओर से गोल्डन ब्राउन होने तक सिकने दीजिये. आलू की टिक्की तैयार हैं. इसे प्लेट में निकाल लीजिए और बाकी की टिक्की भी इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिए.

आलू की टिक्की बनकर तैयार हैं. इन्हें सर्व करने के लिए फैंटा हुआ दही, इमली की मीठी चटनी, हरे धनिये की तीखी चटनी, भूना हुआ जीरा पाउडर, काला नमक और लाल मिर्च पाउडर लीजिए.

1 प्लेट लीजिए इसमें 1 या 2 आलू की टिक्की रख दीजिए. टिक्की के ऊपर थोडा़ सा दही, थोडी़ सी मीठी चटनी, थोडी़ सी हरे धनिये की चटनी डाल दीजिए और ऊपर से थोडा़ सा भूना जीरा पाउडर, काला नमक, लाल मिर्च पाउडर और बेसन की सेव डालकर टिक्की को सर्व कीजिए.

सुझाव
कॉर्न फ्लोर के बदले आप इसमें अरारोट या 2 ब्रेड क्रम्बस भी डाल सकते हैं, इन्हैं मिलाने से आलू का गीलापन कम हो जाता है, आलू में बाइन्डिग आ जाती है और टिक्की क्रिस्पी बनती हैं.
आलू की टिक्की को डीप फ्राई भी किया जा सकता है.

7 टिक्की बनाने के लिये
समय - 35 मिनिट




गोल गप्पे का पानी -

गोलगप्पे के साथ पीने वाला पानी कई स्वाद में अनेक प्रकार के बनाये जाते हैं, हम यहां बहुत ज्यादा पसन्द किये जाने वाले 3 प्रकार के गोल गप्पे के पानी बना रहे हैं, जो बहुत ही लाजबाव है.


अनेक प्रकार के गोलगप्पे के पानी के लिये हमें बेसिक मसाला तैयार करना होता है, पहला आम की खटाई का पल्प और दूसरा हरे धनिये के साथ कुछ और मसाले डालकर पीसकर बनाया गया पेस्ट, इन्हैं बनाने के बाद जिस स्वाद में गोलगप्पे का पानी बनाना हो वह स्वाद और नमक मिलाकर अनेक प्रकार के गोलगप्पे के पानी बना सकते हैं

आवश्यक सामग्री

आम की सूखी खटाई - 50 ग्राम (भीगो कर ली हुई)
हरा धनिया - 100 ग्राम
हरी मिर्च - 6-8
काली मिर्च - ½ छोटी चम्मच
अदरक - 1.5 छोटी चम्मच (पेस्ट)
सूखा पुदीना पाउडर - 2 छोटी चम्मच या एक छोटा बन्च ताजा पोदीना की पत्ती
विधि - आम की खटाई का पल्प बनायें:
आम की खटाई को साफ पानी से धोकर 3 घंटे के लिए पानी में भीगो कर रख दीजिए, इससे यह नरम हो जाती है. खटाई को मिक्सर जार में डाल कर बारीक पेस्ट बना लीजिए. पेस्ट को छान लीजिए. छानने के बाद छलनी के ऊपर जो खटाई के रेशे रह जायेंगे वो हटा दीजिये और पल्प को प्याले में रख लीजिये.
हरे धनियां और मसालों का पेस्ट बनाने के लिये:



हरे धनिया को साफ करके इसकी डंडियां हटा कर साफ पानी से धो लीजिए और छलनी में रख कर सारा पानी निकल जाने दीजिये, धनिये को मोटा मोटा काटकर, मिक्सर जार में डाल दीजिए, साथ ही हरी मिर्च, काली मिर्च, अदरक का पेस्ट या डेड़ इंच अदरक का टूकडा बड़े टुकड़े में काटकर ले सकते हैं, पुदीना पाउडर और थोडा़ सा पानी डालकर बारीक पेस्ट बना कर प्याले में निकाल लीजिए.
बेसिक मसाले तैयार हो गये हैं

1. गोलगप्पा तीखा खट्टा पानी -

खटाई का पेस्ट - 4 छोटी चम्मच
धनिया मसाला पेस्ट - 3 - 4 छोटी चम्मच
काला नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
नमक - ½ छोटी चम्मच या स्वादानुसार
भूना जीरा पाउडर - 1 छोटी चम्मच

विधि -

स्पाइसी (तीखा) खट्टा पानी बनाने के एक बडा़ प्याला लीजिए इसमें आम की खटाई का पेस्ट और हरा धनिया मसाला पेस्ट डाल दीजिए, अब इसमें 1 लीटर पानी डाल दीजिए और मिला दीजिए. अब काला नमक, सादा सफेद नमक और भूना जीरा पाउडर डाल कर सारे मसालों को अच्छे तरह मिलने तक मिला लीजिए. स्वादिष्ट स्पाइसी खट्टा पानी बनकर तैयार है.



2. खट्टामिट्ठा गोलगप्पा पानी -

आम की खटाई का पेस्ट - 4 छोटी चम्मच
धनिया मसाला पेस्ट - 2 -3 छोटी चम्मच
भूना जीरा पाउडर - 1 छोटी चम्मच
काला नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
नमक - ½ छोटी चम्मच या स्वादानुसार
चीनी - ½ कप (100 ग्राम)
सौंफ पाउडर - 1 छोटी चम्मच
छोटी इलाइची पाउडर - ½ छोटी चम्मच
विधि -
मीठा पानी बनाने के एक अन्य बडा़ प्याला लीजिए इसमें आम की खटाई का पेस्ट और हरा धनिया मसाला पेस्ट डाल दीजिए, अब इसमें भूना जीरा पाउडर, काला नमक, सादा सफेद नमक, चीनी, सौंफ पाउडर, इलायची पाउडर और 1 लीटर पानी डाल कर सारे मसालों को अच्छी तरह मिलने तक, चीनी के पानी में घुल जाने तक मिलाए. स्वादिष्ट मीठा पानी बनकर तैयार है.

3. नींबू हींग वाला पानी

नींबू - 2
हींग - 1 पिंच से थोडी़ ज्यादा
धनिया मसाला पेस्ट - 2-3 छोटी चम्मच
काला नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
भूना जीरा पाउडर - 1 छोटी चम्मच
नमक - ½ छोटी चम्मच से कम या स्वादानुसार

विधि

नींबू का हींग वाला पानी बनाने के लिए नींबू का रस प्याले में निकाल लीजिए, नींबू के रस में हींग डाल कर अचछी तरह मिला दीजिए. अब इसमें धनिया मसाला पेस्ट, काला नमक, भूना जीरा पाउडर, सादा नमक डालकर मसालों को अच्छी तरह मिला दीजिए. अब इस मसाले में 1 लीटर पानी डाल कर अच्छी तरह मिला दीजिए. स्वादिष्ट नींबू हींग वाला पानी बनकर तैयार है.

गोल गप्पों के लिए तीन तरह के पानी बनकर तैयार हैं अब इन पानी में आप थोडी़-थोडी़ बूंदी डाल कर इन्हें सजा सकते हैं इससे पानी दिखने में भी अच्छा लगता है और इसका स्वाद भी बढ़ जाता है.
सुझाव : पानी को अलग कलर का दिखाने के लिये तीखे पानी में ग्रीन फूड कलर और मीठे पानी में रैड या ओरेन्ज फूड कलर डाल सकते हैं.

सुझाव: सूखी आम की खटाई की जगह अमचूर पाउडर को भिगो कर, हल्का सा उबाल कर खट्टा पल्प तैयार किया जा सकता है. इमली के पल्प से भी बिलकुल इसी तरह गोलगप्पे के लिये पानी बनाया जा सकता है.

प्रत्येक 1 लीटर पानी बनाने के लिये
समय - 35 मिनिट



खीर -

सावन का महीना है, इस महिने में खीर (Kheer) खाना बहुत शुभ माना जाता है और खीर बहुत ही स्वादिष्ट होती है, बच्चे और बड़े सभी खीर खाना पसन्द करते हैं.


आईये चावल की खीर बनाना शुरू करते हैं.

आवश्यक सामग्री -

चावल बासमती टुकड़ा (Basamati Rice)-70 ग्राम ( 1/2 कप)
दूध( फुल क्रीम ) - 1 किग्रा.
देशी घी-1 टेबल स्पून ( optional )
काजू - 1 टेबल स्पून ( कटे हुये )
किशमिश - एक टेबल स्पून
मखाने - कटे हुये आधा कप
इलाइची - 4-5( छील कर पीस लें )
चीनी- 100 ग्राम या आधा कप
विधि How to make Kheer
हम चावलों को घी में भूनकर या पानी में भिगोकर दोनों तरह से खीर बनाते है, और दोनों तरीको से बनाई गई खीर स्वादिष्ट होती है आप जैसे भी इच्छा हो बना लें.

दूध को भगोने में डाल कर उबालने रख दें.

पहले तरीके से आप चावलों को धो लें. पैन में घी डाल कर गरम करें और धीमी आग पर 5-7 मिनिट भूनें.

दूसरी तरह से आप भूनने के बजाय चावलों को धो कर आधा घंटे के लिये पानी में भिगो दें.

दूध में उबाल आने के बाद भीगे हुये चावल या भुने हुये चावल डाल दीजिये, दूध को चमचे से चलायें और खीर में उबाल आने के बाद गैस धीमी रखें, धीमी गैस पर बनाई हुई खीर ज्यादा स्वादिष्ट होती है, और खीर को आप हर 2-3 मिनिट में चलाते रहें ( खीर तले में बहुत जल्दी जलने लग जाती है). जब चावल मुलायम हो जाँय काजू, किशमिश और मखाने डाल दीजिये.

खीर बनने में करीब 1 घंटा लग जाता है. अब आप देखेंगे चावल और मेवे सभी मुलायम हो गये हैं और खीर गाढ़ी हो गई है. खीर में चीनी डाल दीजिये और 2-3 मिनिट तक पकाइये. खीर बन गई है, गैस बन्द कर दीजिये और इलाइची मिला दीजिये.

खीर को प्याले में निकाल लीजिये. गरम गरम परोसिये और खाइये. खीर को फ्रिज में रख कर ठंडी भी खाइये ठंडी खीर भी बड़ी स्वादिष्ट लगती है.




पनीर पकोड़ा –
पनीर पकोड़ा (Paneer Pakoda) बहुत ही स्वादिष्ट होते हैं. बनाना भी बड़ा आसान है. पनीर के पकोड़े बनाने में समय भी कम लगता है. तो क्यों न आज पनीर के पकोड़े ही बना लें

आवश्यक सामग्री -

पनीर - 350 ग्राम
बेसन - 200 ग्राम ( 2 छोटी कटोरी )
लाल मिर्च - आधा छोटी चम्मच
धनियाँ पाउडर - आधा छोटी चम्मच
नमक - स्वादानुसार
चाट मसाला - 1 1/2 छोटी चम्मच
तेल - तलने के लिये

विधि -

बेसन को एक बर्तन में निकाल कर उसमें लाल मिर्च, धनियां पाउडर, एक टेबिल स्पून तेल और नमक डाल कर, पानी डालें और गाढ़ा, चिकना घोल बना लें. घोल को आधा घंटे के लिये रख दें.

पनीर को 1 1/2 इंच लम्बे और 1 1/2 चौड़े चौकोर 1/2 इंच मोटे टुकड़े काटें. एक टुकड़े की मोटाई से दो भाग कर लें. प्रत्येक के बीच मे थोड़ा सा ( स्वादानुसार चाट ) मसाला लगा कर बन्द करके प्लेट में रख लें.

कढ़ाई में पकोड़े तलने के लिये तेल डाल कर गरम करें.

बेसन के घोल को अच्छी तरह फैट लें. पनीर का एक चौकोर मसाला लगा टुकड़ा उठायें, बेसन में लपेटें और कढ़ाई में डालें. पकोड़ा हल्का सिकने के बाद कलछी से पलटें. दूसरा पनीर का चौकोर टुकड़ा इसी तरह बेसन में लपेट कर डालें, और मीडियम गैस पर तलें. एक बार में 2-3 पकोड़े कढ़ाई में डाल कर तल लें. गहरे ब्राउन होने के बाद कढ़ाई से निकाल कर प्लेट में रखें. इसी तरह सारे पकोड़े (Pakoras) तैयार करलें.

पनीर के पकोड़े (Paneer Pakodas) तैयार हैं. गरमा गरम पकोड़े, धनिये या टमाटर की चटनी या टमाटर के सास के साथ परोसिये और खाइये.

चार लोगों के लिये.
समय 30 मिनिट.





बेसन के गट्टे बनाने की विधि--बेसन के गट्टे (Rajasthani Besan ke Gatte) की सब्जी राजस्थान की स्पेशल डिश है. स्पेशल तो है ही और खाने में भी बहुत स्वादिष्ट है. आप भले ही राजस्थान में रहते हों या राजस्थान से बाहर आपको ये सब्जी बहुत पसंद आयेगी. आइये आज खाने के साथ बेसन के गट्टे की सब्जी बनाये।।

आवश्यक सामग्री -

गट्टे बनाने के लिये -

बेसन - 200 ग्राम ( 1.5 कप)
तेल - 1 टेबल स्पून
दही - 2 टेबल स्पून
खाना सोडा - 1- पिंच
नमक - स्वादानुसार (आधा छोटी चम्मच)
सब्जी की तरी बनाने के लिये

टमाटर - 3-4 (मीडियम आकार के)
हरी मिर्च - 2
अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा
ताजा दही - आधा कप
क्रीम या मलाई - 2-3 टेबल स्पून, यदि आप चाहें तो
तेल - 2 -3 टेबल स्पून
हींग - 1 पिंच
जीरा - आधी छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच
धानियाँ पाउडर - एक छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच से कम
गरम मसाला - एक चोथाई छोटी चम्मच से कम
नमक - स्वादानुसार
हरा धनियाँ - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)

विधि

बेसन को छान कर किसी बर्तन में निकालिये, तेल, नमक, दही और खाना सोडा डालकर मिलाइये, अगर पानी की आवश्यकता हो तो थोड़ा सा पानी डालकर नरम परांठे बनाने के लिये जैसा आटा गूंथ लीजिये. गुंथे हुये आटे को 10 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये. अब इस बेसन के आटे से छोटी लोही तोड़िये उससे करीब आधा या पोना इंच व्यास और 3- 4 इंच लम्बी बेलनाकार आकृ्ति के रोल बना लीजिये. सारे बेसन के आटे से इसी तरह रोल बना लीजिये.

किसी बर्तन में करीब 5 कप पानी (इतना पानी जिसमें बेसन के रोल उबाले जा सकें) डालिये और गैस पर उबालने रख दीजिये, जब पानी में तेज उबाल आ जाय तब बेसन के रोल उबलते पानी में डाल दीजिये और 15 मिनिट तक उबलने दीजिये इसके बाद गैस बन्द कर दीजिये. पानी से उन बेसन की गट्टों को कलछी की सहायता से निकाल कर एक प्लेट में रख दीजिये, बचा हुआ पानी सब्जी की तरी में काम आ जायेगा.

गट्टे ठंड़े होने के बाद उन्हैं आधा इंच के टुकड़ों में काट लीजिये. बेसन के गट्टे सब्जी के लिये तैयार हैं.

टमाटर, हरी मिर्च और अदरक बारीक पीस कर किसी प्याले में निकाल लीजिये. मिक्सर में दही और क्रीम डाल कर मिक्सी चला कर मिक्स कर दीजिये.

कढ़ाई में तेल डालिये, तेल गरम होने पर हींग और जीरा डाल दीजिये. जीरा ब्राउन हो जाय तब उसमें हल्दी पाउडर, धनियाँ पाउडर डाल दीजिये, इसके बाद इसमें पीसा हुआ टमाटर का मसाला डालिये और मसाले के ऊपर तेल तैरने तक भून लीजिये. भुने मसाले में दही, मलाई और लाल मिर्च डालिये, मसाले को जब तक भूनिये तब तक वह दाने दार न दिखाई देने लगे, या मसाले से तेल अलग न होने लगे.

बेसन के गट्टे उबालने के बाद से बचा पानी इसमे डाल दीजिये. अगर तरी आपको गाढ़ी लगे तो आप उसमें आवश्यकतानुसार पानी डाल दीजिये. तरी में उबाल आने पर तैयार किये हुये गट्टे और स्वादानुसार नमक डाल दीजिये. सब्जी में उबाल आने के बाद 2- 3 मिनिट तक उबलते रहने दीजिये. बेसन के गट्टे की सब्जी बन चुकी है गैस बन्द कर दीजिये और इसमें गरम मसाला डाल दीजिये.

राजस्थानी बेसन के गट्टे (Rajasthani Besan ke Gatte) की सब्जी तैयार है. बेसन के गट्टे (Besan ke Gatte) की सब्जी को किसी प्याले में निकालिये और कटे हुये हरे धनिये से सजाइये. गरमा गरम बेसन के गट्टे की सब्जी परांठे, नान, चपाती या चावल किसी के साथ परोसिये और खाइये.

अगर आप प्याज, लहसुन डाल कर सब्जी बनाना चाहते हैं, तो एक प्याज, 4-5 लहसुन की कली छील कर बारीक काट लीजिये और जीरा डालने के बाद डाल कर भून लीजिये, और सब्जी को उपरोक्त विधि से बना लीजिये.

सावधानिया:

1. बेसन का आटा अधिक सख्त और अधिक पतला न लगायें, ये चपाती के आटे जैसा नरम होना चाहिये.
2. आटे से बनी हुई डंडियां पानी में उबाल आने के बाद ही डालिये.
3. गट्टे उबालते समय, पानी में फिर से उबाल आने के बाद गैस फ्लेम मीडियम या इतनी रखें कि पानी में उबाल हमेशा आता रहे.


मसाला दोसा

मसाला दोसा खाने में बहुत ही स्वादिष्ट कम तेल में आसानी से बनाया जाने वाला, लेकिन कार्बोहाइड्रेट्स एवं प्रोटीन से भरपूर भोजन है. लगभग सभी शहरों में दक्षिण भारतीय रेस्तरांओं में दोसा अपने पारम्परिक स्वाद और महक के साथ मिल जाता है.


दोसा कई तरीके के बनाये जाते है, जैसे सादा दोसा (Plain dosa), मसाला दोसा (Masala Dosa), पेपर दोसा (Paper dosa) और पनीर दोसा (Paneer dosa) इत्यादि. दोसा और सांबर आप अपने लन्च या डिनर किसी भी खाने या छुट्टी के दिन के नाश्ता में कभी बना कर खा सकते हैं, ये आपको हमेशा पसन्द आयेंगे. इसे आप सांबर, नरियल की चटनी, मूंगफली की चटनी के साथ खा सकते हैं, तो आइये हम मसाला दोसा बनाना शुरू करें.

आवश्यक सामग्री -

दोसा के लिये मिश्रण तैयार करने के लिये
चावल - 3 कप
उरद की धुली दाल - 1 कप
मैथी दाना - एक छोटी चम्मच
बेकिंग सोडा - 3/4 छोटी चम्म्च
नमक - स्वादानुसार या एक छोटी चम्मच
तेल - दोसा सेकने के लिये
दोसा के लिये मसाला तैयार करने के लिये
आलू - 400 ग्राम (6-7 मीडियम आकार के)
मटर - एक छोटी कटोरी(छिली हुये हरे दाने)
तेल - 2 टेबल स्पून
राई - 1 छोटी चम्मच
हल्दी - 1/4 छोटी चम्मच
धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच
हरी मिर्च - 2-3 (बारीक कतर लीजिये)
अदरक - 1 1/2 इंच लम्बा टुकड़ा (कद्दूकस कर लीजिये)
नमक - स्वादानुसार (3/4 छोटी चम्मच)
अमचूर पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच
लाल मिर्च - एक चौथाई छोटी चम्मच से कम
हरा धनियां - 2 टेबल स्पून (बारीक कतरा हुआ)

विधि -

उरद की दाल और मैथी को साफ कीजिये, धोइये और 4 घंटे या रात भर के लिये पानी में भिगो दीजिये. चावल को साफ कीजिये, धोइये और अलग प्याले में उतने ही समय के लिये भिगो दीजिये.

भीगी हुई दाल से पानी निकालिये और कम पानी डाल कर उरद दाल मेंथी को एक दम बारीक पीस कर किसी बड़े बर्तन में निकाल लीजिये, चावल को भी कम पानी का प्रयोग करते हुये, थोड़ा सा मोटा पीसिये, दोनौं को मिलाइये तथा इतना गाढ़ा घोल तैयार कीजिये कि चमचे से गिराने पर एक दम धार के रूप में नही गिरना चाहिये.



मिश्रण को फरमैन्ट करने के लिये नमक और बेकिंग सोडा डालकर, ढककर गरम जगह पर 12-14 घंटे के लिये रख दिजिये, फरमेन्ट किया हुआ मिश्रण पहले की अपेक्षा फूलकर दोगुना हो जाता है. ये मिश्रण दोसा बनाने के लिये तैयार है.

दोसा के लिये मसाला तैयार करना
आलू उबालिये, ठंडा कीजिये, छील कर बारीक टुकड़ों में तोड़ लीजिये.
कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये, गरम तेल में राई डालकर तड़काइये, हल्दी पाउडर और धनियां पाउडर डालिये, हरी मिर्च, अदरक डालकर 1 मिनिट भूनिये, मटर के दाने और 2 टेबल स्पून पानी डालकर मिलाइये, ढककर मटर के दाने नरम होने तक पकने दीजिये. इस मसाले में आलू, नमक, अमचूर पाउडर, लाल मिर्च पाउडर मिलाकर 2 मिनिट तक भुन लीजिये. आग बन्द कर दीजिये और हरा धनियां मिला दीजिये. दोसे के लिये मसाला तैयार है.

अगर आप प्याज डालना चाहते हैं तब 1-2 प्याज बारीक काटिये और अदरक, हरीमिर्च के साथ डाल कर हल्की गुलाबी होने तक भून लीजिये, बाकी सारी चीजें उपरोक्त तरीके से मिलाकर मसाला बना लीजिये.

दोसा बनायें
मिश्रण को चमचे से चलाइये, अधिक गाढ़ा लग रहा है तो थोड़ा पानी मिला लीजिये (मिश्रण पकोड़े के घोल से थोड़ा पतला ही होना चाहिये).

नान स्टिक तवा या लोहे का भारी दोसे बनाने वाला तवा आग पर गरम करने रखिये, जब तवा गरम हो जाय, आग को मीडियम कर लीजिये, इसके बाद किसी मोटे गीले कपड़े की सहायता से तवा को पो़छिये, पहली बार तवे पर थोड़ा सा तेल लगाकर (तवा केवल चिकना लगे, तेल न दिखाई दे) चिकना कीजिये. एक बड़ा चमचा मिश्रण भरकर तवे के बीच में डालिये और चमचे को गोल गोल घुमाते हुये, दोसे को तवे पर 12-14 इंच के व्यास में पतला फैलाइये. थोड़ा सा तेल चम्मच से दोसे के चारों ओर डालिये.



मीडियम और तेज आग पर दोसा सेकिये, जब ऊपर की सतह सिकी हुई दिखने लगे तब नीचे की सतह भी ब्राउन हो गयी होती है, अब 1 या 2 चमचे आलू मसाला, दोसा के ऊपर रखकर फैलाइये और कलछी की सहायता से दोसा को किनारे से उठाते हुये मोड़िये, तवे से उठाकर प्लेट में रखिये. मसाला दोसा तैयार है. दूसरा दोसा तवे पर डालने से पहले तवे को एक गीले मोटे कपड़े से अच्छी तरह पोछिये, तवा अधिक गरम न हो, तवा दोसा फैलाते समय ठंडा होने से दोसा आसानी से फैलाया जा सकता है, दूसरे दोसे के लिये चमचा भर कर मिश्रण निकालिये और तवे पर पतला फैलाइये, सेकने के लिये फिर से वही तरीका दुहराइये, सारे दोसे इसी तरह बनाने हैं. गरमा गरम मसाला दोसा, सांबर और मूंगफली की चटनी के साथ परोसिये आप चाहे तो टोमेटो सॉस के साथ भी परोस सकती है।




बेसन चक्की -

राजस्थान की परंपरागत मिठाइयों में शामिल बेसन की चक्की काफी स्वादिष्ट होती है. इसे बेसन की बर्फी भी कहा जा सकता है. पूरे एक माह तक स्टोर कर खाने योग्य रहने वाली यह बर्फी किसी भी विशेष उत्सव या त्यौहार पर बनाई जा सकती है


आवश्यक सामग्री -

बेसन- 2 कप (250 ग्राम)
चीनी- 1.5 कप (300 ग्राम)
घी- 1 कप (250 ग्राम)
काजू- 50 ग्राम (बारीक कटे हुए)
बादाम- 50 ग्राम (बारीक कटे हुए)
पिस्ते- 1 टेबल स्पून (बारीक कटे हुए)
इलाइची पाउडर- 1 छोटी चम्मच

विधिे -

बेसन चक्की बनाने के लिए बेसन में ¼ कप (60 ग्राम) घी डालकर मिक्स कर लीजिए. इसमें थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए सख्त आटा गूंथकर तैयार कर लीजिए. इतना बेसन को गूंथने में ¼ कप पानी लगा है.

मुठियां बनाइए
बेसन से थोड़ा सा आटा तोड़िए और इसे हाथ से बाइन्ड करते हुए मुट्ठी से दबाकर मुठिया का आकार दे दीजिए. इसी तरह आटे से सारी मुठिया बनाकर तैयार कर लीजिए.



मुठिया तलिए
कढ़ाई में घी डालकर गैस पर गरम कर लीजिए. कढ़ाई पर हाथ ले जाकर घी चैक कर लीजिए कि गरम हुआ या नही. हाथ पर हल्की सी गर्माहट लग रही है, घी मध्यम गरम है. घी में मुठिया तलने के लिए डाल दीजिए. मुठियां को धीमी आंच पर अच्छा गोल्डन ब्राउन होने तक तल लीजिए.

नीचे की ओर से सिक जाने के बाद, मुठियां को पलट दीजिए और चारों ओर से मुठिया के गोल्डन ब्राउन होने के बाद इन्हें निकाल लीजिए. बची हुई मुठियां को भी तल लीजिए और फिर, गैस बंद कर दीजिए. एक बार की मुठिया तलने में लगभग 9 से 10 मिनिट लग जाते हैं. मुठिया को थोड़ी देर ठंडा होने दीजिए. कढ़ाई में बचे घी को छानकर रख लीजिए. इसे बाद में बर्फी के मिश्रण में मिलाया जाएगा.

मुठिया पीसिए
मुठिया के ठंडा होने के बाद, इन्हें एक-एक करके खल-बट्टे में डालकर मोटी-मोटी तोड़ लीजिए. बहुत ही खस्ता मुठिया हैं कि ये हाथ से भी टूट रही हैं. फिर, इन कुटी हुई मुठियां को मिक्सर जार में डालकर बारीक पीस लीजिए. इससे दानेदार भुना बेसन तैयार हो जाएगा.

चाशनी बनाइए
चाशनी बनाने के लिए पैन में चीनी और ½ कप पानी डालकर गैस जलाकर रख दीजिए और चाशनी को चीनी घुलने तक पका लीजिए. चाशनी में पूरी तरह उबाल आने के बाद, चाशनी चैक कर लीजिए. पहले गैस कम कर दीजिए और चाशनी को चमचे से गिराकर देखिए. चाशनी की आखिरी बूंद बिल्कुल तार की तरह गिरकर जानी चाहिए.

चाशनी को एक अन्य तरीके से भी चैक कर सकते हैं. इसके लिए, चाशनी की 1 से 2 बूंदे प्याले में गिरा लीजिए और ठंडा होने के बाद, इसे अपनी उंगली और अंगूठे के बीच चिपका कर देखिए, अच्छा तार आ रहा है. चाशनी बनकर तैयार है.



गैस बिल्कुल धीमी कर दीजिए और चाशनी में बेसन का चूरमा डाल दीजिए. साथ ही काजू और इलाइची पाउडर भी डाल दीजिए. बेसन चूरमा और चाशनी को अच्छे से मिलने तक मिक्स कर लीजिए. छानकर रखे हुए घी में से थोड़ा सा घी इस मिश्रण में डाल दीजिए और मिला दीजिए. बर्फी जमने के लिए तैयार है.

बर्फी जमाइए
बर्फी जमाने के लिए प्लेट को घी से चिकना कर लीजिए. थोड़ा सा और घी बर्फी के मिश्रण में डालकर मिक्स कर दीजिए. इससे बर्फी बहुत ही नरम बनकर तैयार होगी.
बर्फी के मिश्रण को जमने के लिए प्लेट में डाल दीजिए. मिश्रंण को चम्मच से एकदम सपाट कर दीजिए. इसके ऊपर थोड़े से बादाम और पिस्ते की कतरन डाल दीजिए. मेवों को चम्मच से हल्का सा दबाकर चक्की के अंदर सैट कर दीजिए. बर्फी को जमने के लिए ऎसे ही रख दीजिए.

बर्फी काटिए
बर्फी के जम जाने के बाद इस पर काटने के निशान लगा दीजिए. बर्फी के टुकड़े आप अपनी पसंदानुसार थोड़े से बड़े या छोटे बना सकते हैं. बर्फी के पूरी तरह से जमने के बाद इन्हें अलग कर लीजिए. बर्फी को अलग करने के लिए, प्लेट को नीचे से हल्का सा 5 से 6 सेकेन्ड के लिए गैस पर गरम कर लीजिए और फिर चक्की के टुकड़े अलग कर लीजिए.
बहुत ही स्वादिष्ट मिठास से भरपूर बेसन की चक्की बनकर तैयार है. चक्की को किसी भी कन्टेनर में भरकर रख लीजिए और पूरे 1 महीने तक इस मिष्ठान्न के स्वाद का लुत्फ उठाइए.

सुझाव

चीनी आप स्वादानुसार कम या ज्यादा ले सकते हैं.
बेसन से आटा गूंथते समय आटा एकदम सख्त होना चाहिए.
मुठिया को धीमी आग पर अच्छी गोल्डन ब्राउन होने तक तलें.
दो तार की चाशनी बनाकर चैक ज़रूर करें.





पनीर जलेबी

साधारण जलेबियों से हटकर एक अलग स्वाद की पनीर जलेबी, किसी भी पर्व या उत्सव को और खास बनाने के लिए.


आवश्यक सामग्री--

पनीर - 200 ग्राम (1 कप) (क्रम्बल किया हुआ)
केसर के धागे - 25 से 30
मैदा - ¼ कप
चीनी - 1.5 कप (300 ग्राम)
घी - जलेबी फ्राय करने के लिए

विधि -

केसर में थोड़ा से पानी डालकर रख दीजिए ताकि ये पानी में घुल जाए.

मैदा का घोल बनाइए
मैदा में थोड़ा सा पानी डालकर गुठलियां खत्म होने तक इसे घोल लीजिए. फिर, इसमें थोड़ा और पानी डालकर अच्छे से 4 से 5 मिनिट फैंटकर पतला कर लीजिए. घोल इस कन्सिस्टेन्सी का बनना चाहिए कि चम्मच से गिराएं तो धार की तरह गिरे. इस घोल को ढककर किसी गरम जगह पर 1 घंटे के लिए रख दीजिए ताकि मैदा फूलकर सैट हो जाए.

चाशनी बनाइए
एक बर्तन में चीनी और 1 कप से थोड़ा ज्यादा (2 टेबल स्पून पानी) डाल दीजिए. चाशनी को चीनी घुलने के 2 से 3 मिनिट बाद तक पकने दीजिए. इसी बीच, पनीर को मैश कर लीजिए. इसके लिए, एक थाली में थोड़ा सा पनीर डालिए और इसे हथेली से दबाव देते हुए मसल लीजिए. फिर, इसमें 1 टेबल स्पून दूध और डालकर मसल-मसलकर चिकना कर लीजिए.

चाशनी चैक कीजिए
चाशनी चैक करने के लिए 2 से 3 बूंदे प्याली में गिरा लीजिए और ठंडा होने के बाद चाशनी को उंगली और अंगूठे में चिपकाकर देखिए, यह शहद की तरह चिपकनी चाहिए, चाशनी में तार बनने की आवश्यकता नही है. चाशनी तैयार है. तैयार चाशनी में केसर का पानी डालकर मिक्स कर दीजिए.


जलेबी का बैटर बनाइए
एक प्याले में मैश्ड पनीर डाल लीजिए. साथ ही तैयार मैदा के घोल को अच्छे से फैंट लीजिए. फिर, इस घोल को पनीर में डाल दीजिए और मैदा तथा पनीर के एकसार होने तक अच्छे से मिक्स करते हुए फैंटते रहिए. जलेबी का बैटर तैयार है.

जलेबियां तलिए
जलेबियां बनाने के लिए एक कोन लीजिए और इसे एक गिलास पर रख लीजिए. इस कोन में जलेबी का बैटर डाल लीजिए. कोन को ऊपर से बांधकर पकड़ लीजिए और नीचे की साइड कैंची से छोटा सा छेद कर दीजिए.

कढ़ाही में घी गरम कर लीजिए. घी गरम होने के बाद, इसमें जरा सा बैटर डालकर चैक कर लीजिए कि घी ठीक से गरम हुआ या नही. अगर बैटर सिककर ऊपर आ रहा है, तो घी पर्याप्त गरम है. गरम घी में कोन को दबाते हुए सादा जलेबियों की तरह ही गोल-गोल जलेबियां बनाते जाइए और जलेबियों को धीमी व मध्यम आंच पर तल लीजिए. जैसे ही ये नीचे से ब्राउन हो जाए, वैसे ही इन्हें पलट दीजिए और जलेबियों को दोनों ओर गोल्डन ब्राउन होने तक तल लीजिए. सारी जलेबियां इसी तरह फ्राय कर लीजिए.

जलेबियां चाशनी में डुबोइए
फ्राइड जलेबियों को एक प्लेट में निकाल लीजिए. इसके बाद, जलेबियों को चाशनी में डाल दीजिए और 2 मिनिट चाशनी में ही डूबे रहने दीजिए.

2 मिनिट बाद, चाशनी से जलेबियां निकालकर प्लेट में रख लीजिए और जैसे-जैसे जलेबियां फ्राय होती जाएं, उन्हें प्लेट में निकालिए और फिर चाशनी में 2 मिनिट डुबोकर दूसरी प्लेट में निकालकर रखते जाइए.

चाशनी से तर, शानदार पनीर जलेबी को किसी भी विशेष अवसर पर बनाइए और मेहमानों का मुंह मीठा कराइए.

सुझाव

अगर मैदा के घोल में एक साथ सारा पानी डाल दीजिए, तो घोल में गुठलियां समाप्त करने में काफी कठिनाई होती है.
जलेबियों को रंग देना चाहे, तो चाशनी में 1 से 2 पिंच पीला फूड कलर डाल सकते हैं.
चाशनी में केसर महक के लिए डाला जाता है. इससे जलेबियों में एकदम हल्का पीला रंग भी आ जाता है.
कोन उपलब्ध न हो, तो दूध की थैली को किनारे पर बिल्कुल छोटा सा छेद करके भी इस्तेमाल कर सकते हैं.





काजू पिस्ता रोल -

काजू पेस्ट की कवरिंग और मेवों से भरे काजू पिस्ता रोल देखकर किसी का भी मन ललचाने लगे. होली फेस्टीवल पर इस स्वादिष्ट पकवान को बनाकर सभी का मुंह मीठा कराएं.


आवश्यक सामग्री--
कवरिंग के लिए

काजू- 1 कप (150 ग्राम)
चीनी- ⅓ कप (75 ग्राम)
स्टफिंग के लिए

पिस्ते- ⅓ कप (30 ग्राम)
बादाम- ⅓ कप (30 ग्राम)
पाउडर चीनी- 2 टेबल स्पून (20 ग्राम)
दूध- 2 से 3 छोटी चम्मच
इलाइची पाउडर- 1/4 छोटी चम्मच
ग्रीन फूड कलर- ¼ पिंच से कम
घी- 3 छोटी चम्मच

विधि -

मिक्सर जार में काजू डालकर पीस लीजिए और पाउडर तैयार कर लीजिए. तैयार पाउडर को एक प्याले में निकाल लीजिए. फिर, इसे चावल छानने वाली मोटे छेद वाली छलनी से छान लीजिए ताकि मोटे टुकड़े अगर रह गए हो, तो अलग हो जाएं. मोटे टुकड़ों को हटा दीजिए.

इसके बाद, थोड़े से साबुत पिस्ते छोड़कर बाकी पिस्ते और बादाम मिक्सर जार में डालकर पाउडर बना लीजिए. पिसे हुए बादाम-पिस्तों को एक प्याले में निकाल लीजिए. साबुत पिस्तों को छोटा-छोटा काट लीजिए.

स्टफिंग तैयार कीजिए
बादाम पिस्तों में कटे हुए पिस्ते और पाउडर चीनी डालकर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. इस मिश्रण में ¼ छोटी चम्मच इलाइची पाउडर डाल दीजिए. 2 छोटी चम्मच दूध एक छोटी प्याली में लीजिए और इसमें ग्रीन फूड कलर डालकर घोल लीजिए. कलर वाला दूध मिश्रण में डाल दीजिए और अच्छे से मिलने तक मिक्स कर लीजिए. स्टफिंग को बिल्कुल अच्छे से बाइन्ड कर लीजिए.



कवरिंग तैयार कीजिए
पैन में चीनी और इतनी ही मात्रा यानिकि ⅓ कप पानी डाल दीजिए. चीनी के घुलने तक चाशनी को पका लीजिए. इसके बाद, गैस धीमी कर दीजिए और इसमें काजू का पाउडर तथा 3 छोटी चम्मच घी डाल दीजिए. इसे जमने वाली कन्सिस्टेन्सी तक लगातार चलाते हुए मध्यम् आंच पर पका लीजिए. मिश्रण में बिल्कुल भी गुठलियां नही पड़नी चाहिए. मिश्रण पककर तैयार है, इसे बहुत ज्यादा न पकाएं वरना मिश्रण सख्त हो जाएगा.

मिश्रण चैक कीजिए
थोड़ा सा पेस्ट लेकर प्याली में डालिए और ठंडा होने के बाद चैक कीजिए. ये बिल्कुल जमा हुआ लगना चाहिए और इससे गोला तैयार होना चाहिए. मिश्रण को एक अलग प्याले में निकाल लीजिए और हल्का ठंडा होने दीजिए.

काजू की चौकोर शीट बेलिए
कवरिंग बनाने के लिए एक बोर्ड पर पॉलीथीन बिछा लीजिए. इस पॉलीथीन को थोड़े से घी से चिकना कर लीजिए और हल्के गरम पेस्ट को पॉलीथीन पर निकाल लीजिए. इसे हाथ से बाइन्ड करते हुए थोड़ा सा गोल कर लीजिए और पॉलीथीन के बीच में रखकर इसे हाथ से बढ़ा लीजिए. फिर बेलन की मदद से पॉलीथीन को घुमा-घुमाकर इसे चारों तरफ से चौकोर मोटा परांठे जैसा बेल लीजिए. रोल के लिए चौकोर शीट तैयार है.



रोल बनाइए
इसके बाद स्टफिंग को दो भागों में बांट लीजिए. फिर एक भाग उठाकर हाथ से बाइन्ड कर लीजिए और बोर्ड पर रखकर हाथों से रोल करते हुए एक जैसी मोटाई का थोड़ा पतला रोल बना लीजिए. रोल इतना बढ़ा होना चाहिए कि शीट के अंदर पूरा आ सके. इसी तरह दूसरे हिस्से से भी लंबा रोल बना लीजिए.

काजू की चौकोर शीट को बीच से काटकर 2 हिस्सों में बांट लीजिए. फिर, एक स्टफिंग का रोल लेकर शीट के एक तरफ रखिए और पॉलीथीन की सहायता से शीट को रोल करते जाइए. रोल करते समय ध्यान रखे कि ये ढीली न रोल हो, इसे हल्का सा कसके रोल कीजिए. फिर इसे हाथ से रोल करके थोड़ा और पतला कर लीजिए. दूसरे भाग को भी बिल्कुल इसी तरह रोल कर लीजिए और दोनों रोल्स को किसी प्लेट में रखकर फ्रिज में ठंडा होने रख दीजिए ताकि ये सैट हो जाएं.

सैट होने के बाद, इन्हें 2 से 2.5 इंच के बराबर बराबर टुकड़ों में काट लीजिए. काजू पिस्ता रोल खाने के लिए तैयार हैं. ड्राई फ्रूट्स से भरे काजू पिस्ता रोल को किसी भी त्यौहार या शुभ अवसर पर बनाइए और सर्व कीजिए. आप इस मिठाई को फ्रिज में रखकर 15 से 20 दिनों तक खा सकते हैं.

सुझाव

काजू पिस्ता रोल के लिए टूटे काजू ले लीजिए, वे सस्ते होते है और काजू का पाउडर बनाने के लिए आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं.
स्टफिंग बनाते समय ध्यान रखें कि दूध डालने के बाद स्टफिंग को अच्छे से मिक्स करके बाइन्ड कर लें.
काजू को पीसते समय ध्यान रखें कि उसका पेस्ट न बन जाए, वो पाउडर ही रहे. पाउडर को छान ज़रूर लें. ताकि मोटे टुकड़े अलग हो जाएं और सिर्फ पाउडर ही रहे.
चाशनी में पाउडर डालकर लगातार चलाते हुए तब तक पकाएं जब तक कि वो जमने वाली कन्सिस्टेन्सी में न आ जाए.
पेस्ट बनाकर चैक ज़रूर कर लें कि उसकी नरम बॉल बन सके.







शाही पनीर रेसिपी

पनीर की सभी प्रकार की सब्जियां, ज्यादातर लोग पसन्द करते हैं लेकिन शाही पनीर बहुत ही स्वादिष्ट सब्जी हैं, हर पार्टी की शान है, शाही पनीर सब्जी को आप अपने मेहमानों के लिये या अपने किसी स्पेशल दिन पर बनाइये. शाही पनीर सब्जी बनाने में बिलकुल आसान है.


शाही पनीर को पनीर के टुकड़े तल कर या बिना तले ही डाल कर दोंनो तरीके से बनाया जाता है. हम पनीर के टुकड़े तल कर शाही पनीर बनायेंगे. तो आइये हम शाही पनीर (Shahi Paneer Recipe) बनाना शुरू करते हैं.


आवश्यक सामग्री

पनीर - 500 ग्राम (कटे हुये टुकड़े 3 कप)
टमाटर - 5 मिडियम आकार के
हरी मिर्च — 2
अदरक — 1 इंच लम्बा टुकड़ा
घी या तेल —2 टेबल स्पून
जीरा — आधा छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर — एक चौथाई छोटी चम्मच
धनियां पाउडर - एक छोटी चम्मच
लाल मिर्च — एक चौथाई छोटी चम्मच से भी कम
काजू - 25-30 (2 टेबल स्पून ऊपर तक भरे हुये)
मलाई या क्रीम— 100 ग्राम( आधा कप )
गरम मसाला — एक चौथाई छोटी चम्मच
नमक — स्वादानुसार ( 3/4 छोटी चम्मच )
हरा धनियां — 1 टेबल स्पून (बारीक कतरा हुआ)

विधि -

पनीर को चौकोर टुकड़ों में काट लीजिये. नान स्टिक कढ़ाई में 1 टेबल स्पून तेल डालिये और हल्का ब्राउन होने तक पनीर को तल कर निकाल लीजिये.

काजू को आधा घंटे पानी में भिगोइये और बारीक पीस कर प्याली में निकाल लीजिये.


टमाटर, अदरक और हरी मिर्च को मिक्सी से पीस कर पेस्ट बना लीजिये. पेस्ट को निकाल कर प्याले में रखिये. मलाई को भी मिक्सी में मथ लीजिये.

कढ़ाई में घी या मक्खन डाल कर गरम करिये. गरम घी में जीरा डाल दीजिये. जीरा ब्राउन होने पर हल्दी पाउडर और धनियां पाउडर डाल दीजिये, हल्का सा भूनिये और इस मसाले में टमाटर का पेस्ट डाल कर चमचे से चला चला कर भूनिये. टमाटर भुनने के बाद, काजू का पेस्ट और मलाई डाल कर मसाले को चमचे से चला चला कर जब तक भूनें तब तक मसाले पर तेल तैरता न दिखाई देने लगे. इस मसाले में आवश्यकतानुसार तरी को जितना गाढ़ा या पतला रखना चाहते हैं, पानी मिला दीजिये. नमक और लाल मिर्च भी डाल कर मिला दीजिये.



तरी में उबाल आने पर पनीर के टुकड़े डाल कर मिला दीजिये और ढककर बिलकुल धीमी आग पर सब्जी को 3-4 मिनिट तक पकने दीजिये, ताकि पनीर के अन्दर सारे मसाले जज्ब हो जायें. शाही पनीर सब्जी तैयार है. गैस बन्द कर दीजिये. थोड़ा सा हरा धनियां बचा कर, हरा धनियां और गरम मसाला मिला दीजिये.

शाही पनीर की सब्जी को प्याले में निकालिये. हरे धनियां ऊपर से डालकर सजाइये. गरमा गरम शाही पनीर को चावल, नान.परांठे या गरमा गरम चपाती के साथ परोसिये और खाइये.

सुझाव:
अगर आप प्याज पसन्द करते हैं तब 1-2 प्याज और 4-5 लहसन की कली छीलिये और बारीक काट लीजिये, जीरा भूनने के बाद, कटी प्याज और लहसन डालिये और हल्की गुलाबी होने तक भून लीजिये, और अब सारी चीजें उपरोक्त क्रम से डाल कर शाही पनीर सब्जी बना लीजिये.

समय - 40 मिनिट
4 -5 सदस्यों के लिये.




मिक्स वेज मखनी -

किसी भी शुभ अवसर या पार्टी के लिए एकदम खास सब्जी मिक्स वेज मखनी नान, चपाती, परांठे, चावल या पूरी के साथ अपने मेन्यू में शामिल कीजिए, सभी इसके स्वाद के गुण गाने से खुद को रोक नही पाएंगे।


आवश्यक सामग्री -

गोभी- 100 ग्राम
शिमला मिर्च- 1 (100 ग्राम)
बेबी कॉर्न- 4
गाजर- 2
टमाटर- 4 (300 ग्राम)
हरी मिर्च- 1
अदरक- 1 इंच
हरा धनिया- 3 से 4 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
मक्खन- 2 से 3 टेबल स्पून
क्रीम- ½ कप (100 ग्राम)
तेल- 2 से 3 टेबल स्पून
जीरा- 1 छोटी चम्मच
बड़ी इलाइची- 1
काली मिर्च- 6 से 7
लौंग- 2
दालचीनी- ½ इंच
धनिया पाउडर- 1 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर- ½ छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर- 1/3 छोटी चम्मच
नमक- 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार

विधि -

प्रत्येक टमाटर को चार-चार टुकड़ों में काट लीजिए. अदरक को छीलकर मोटा-मोटा और हरी मिर्च को दो टुकड़ों में काटकर रख लीजिए.

मसाला पकाने के लिए, पैन गरम कीजिए. इसमें 2 टेबल स्पून तेल डाल दीजिए. फिर, इसमें जीरा डालकर चटखा लीजिए और बाद में, कटे हुए टमाटर-अदरक-हरी मिर्च, धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, साबुत मसाले- दाल चीनी, काली मिर्च, लौंग और बड़ी इलाइची को छीलकर डाल दीजिए. सारी सामग्री को अच्छे से मिला दीजिए और टमाटरों को हल्का नरम होने तक 2 मिनिट तक ढककर पका लीजिए.

शिमला मिर्च के बीज हटाकर 1-1 इंच के टुकड़ों, बेबी कॉर्न को ½-1/2 इंच के टुकड़े और गाजर को ½-3/4 इंच के टुकड़ों में काटकर रख लीजिए.

सब्जियां काटने के बाद, टमाटर चैक कर लीजिए. टमाटरों के नरम होते ही, गैस बंद कर दीजिए और मसाले को हल्का ठंडा होने दीजिए. ठंडा होते ही मसाले को मिक्सर जार में डालकर एकदम बारीक पीस लीजिए.



मसाला पीसने के बाद, सब्जियों को क्रन्ची होने तक भून लीजिए. इसके लिए, गरम पैन में 2 से 3 टेबल मक्खन डाल दीजिए और मक्खन को पिघलने दीजिए. पिघले हुए मक्खन में सारी कटी हुई सब्जियां डाल दीजिए और मिक्स कर लीजिए. फिर, सब्जियों को ढककर 2 मिनिट क्र्न्ची होने तक पकने दीजिए. आग थोड़ी धीमी रखिए.

इसी दौरान, दूसरे चूल्हे पर कढ़ाई गरम करके ग्रेवी बना लीजिए. कढ़ाई में पिसा हुआ मसाला डालिए और लगातार चलाते हुए पका लीजिए. फिर, इसमें क्रीम डालकर लगातार चलाते हुए तब तक पकाइए जब तक कि ग्रेवी में फिर से उबाल न आ जाए. ग्रेवी में उबाल आते ही आधा कप पानी डाल दीजिए और ग्रेवी में दोबारा उबाल आने तक लगातार चलाते रहिए.

2 मिनिट बाद, सब्जियां नरम हो गई है, गैस बंद कर दीजिए.

गेवी में उबाल आने के बाद, नमक, लाल मिर्च पाउडर और थोड़ा सा हरा धनिया डाल दीजिए. ग्रेवी तैयार है. इसमें हल्की क्रन्ची सब्जियों को डालकर मिक्स कर दीजिए. इसके बाद, सब्जी को 4 से 5 मिनिट तक ढककर धीमी आंच पर पकने दीजिए.

5 मिनिट बाद, सब्जी चैक कर लीजिए. सब्जी बनकर तैयार है. सब्जी को एक प्याले में निकाल लीजिए और इसके ऊपर थोड़े से हरे धनिये से गार्निशिंग कर दीजिए. स्वाद में लाज़वाब मिक्स वेज मखनी तैयार हैं. सब्जी को नान, चपाती, परांठे या पूरी के साथ सर्व कीजिए और मज़े से खाइए.

सुझाव

सब्जियां अपनी पसंद और उपलब्धता के अनुसार मशरूम, ब्रोकली इत्यादि भी डाल सकते हैं.
टमाटर-हरी मिर्च- अदरक को भूनकर, पीसकर फिर ग्रेवी बनाने से यह काफी स्वादिष्ट और थोड़ी चिकनी बनती है.
सब्जी में पानी की मात्रा कम या ज्यादा करके सब्जी को लटपटी या तरीदार बना सकते हैं.
क्रीम को डालने के बाद ग्रेवी में दोबारा उबाल आने तक लगातार चलाना आवश्यक होता है, वरना क्रीम के फटने की आशंका रहती है.
मिर्च आप अपने स्वादानुसार कम या ज्यादा डाल सकते हैं.




आलू मटर की सब्जी -
बड़ी आसानी से और तुरंत बन जाने वाली आलू मटर की सब्जी सभी के घरों में अक्सर बनाई जाती है. सूखी और तरीदार दोनों ही तरह से तैयार होने वाली इस करी का स्वाद बेहद बढ़िया होता है. आइए हम और आप मिलकर बनाएं स्वाद से भरी आलू मटर की सब्जी.

आवश्यक सामग्री -

मटर - 1 कप
उबले आलू - 4 (300 ग्राम)
टमाटर - 2 (150 ग्राम)
हरी मिर्च - 2
अदरक - 1 इंच टुकडा़
हरा धनिया - 2 से 3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
तेल - 2 से 3 टेबल स्पून
जीरा - ½ छोटी चम्मच
हींग - 1 पिंच
हल्दी पाउडर - ½ छोटी चम्मच
धनिया पाउडर - 1 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर - ¼ छोटी चम्मच
गरम मसाला- ¼ छोटी चम्मच
नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार

विधि--

सबसे पहले टमाटर का पेस्ट तैयार कर लीजिए. टमाटर, अदरक और हरी मिर्च को एक साथ मिक्सी में डालकर पीस लीजिए, टमाटर का पेस्ट बन जाएगा.

पेस्ट बनाने के बाद, पैन में 2 टेबल स्पून तेल डालकर गरम कीजिए. तेल गरम होने पर जीरा और हींग डाल दीजिए. जीरा चटखने के बाद हल्दी पाउडर, धनियां पाउडर और पिसा हुआ टमाटर-मिर्च-अदरक का पेस्ट डाल दीजिए और लाल मिर्च पाउडर डालकर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. मसाले को तब तक भूनिए जब तक कि मसाले के ऊपर तेल न तैरने लगे.

मसाला भुन जाने पर इसमें मटर के दाने डाल दीजिए और इसे मिक्स कीजिए. मटर को ढक दीजिए और धीमी आंच पर 2 से 3 मिनिट मटर के दानों को पकने दीजिए. इसी दौरान, उबले हुए आलू को छील लीजिए.

बाद में, मटर को हाथ से दबाकर चैक कीजिए. मटर नरम होने पर इसमें आलू को हाथ से तोड़कर डाल दीजिए. इन्हें मिक्स करके आंच तेज कर लीजिए और 1 से 2 मिनिट आलू मटर को लगातर चलाते हुए भून लीजिए.

फिर, सब्जी में 1 कप पानी डाल दीजिए. साथ ही, नमक, गरम मसाला और थोडा़ सा हरा धनिया डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. सब्जी को ढककर 3 से 4 मिनिट पकने दीजिए.

4 मिनिट बाद, मटर आलू की सब्जी बनकर के तैयार है, गैस बंद कर दीजिए. सब्जी को किसी प्याले में निकाल लीजिए. सब्जी के ऊपर थोड़ा हरा धनिया डालकर गार्निश कर दीजिए. साथ ही, इसे और स्वादिष्ट बनाने के लिए इसके ऊपर 1 चम्मच घी भी डाल दीजिए. गरम-गरम आलू मटर की सब्जी को फुल्के, परांठे, पूरी या चावल के साथ परोसिए और चाव से खाइए.

3 से 4 सदस्यों के लिए पर्याप्त

सुझाव

तीखा खाना पसंद हो, तो सब्जी में अपने स्वादानुसार लाल मिर्च पाउडर बढ़ा सकते हैं.
सब्जी में पानी की मात्रा अपनी पसंदानुसार कम ग्रेवी वाली या रसेदार बनाने के हिसाब से ही डालें.
इसी सब्जी को सूखी सब्जी के रूप में बनाना हो, तो आलू को मिक्स करने के बाद, नमक, गरम मसाला और थोड़ा सा हरा धनिया डालकर लगातार चलाते हुए सब्जी को 1 से 2 मिनिट पका लीजिए. सूखी मटर आलू की सब्जी तैयार हो जाएगी.

No comments:

Post a comment

राजशाही सेवईं

राजशाही सेवईं  ========== आवश्यक सामग्री : सेंवई_Sewai – 250 ग्राम, शक्कर_Sugar – 500 ग्राम, नारियल_Coconut – 100 ग्राम (भ...